संजीवनी टुडे

क्या विशेषता है सिंदूर से बनी इस मूर्ति, किस तरह हाेती है यहां मनाेकामना पूरी...

संजीवनी टुडे 21-02-2018 14:59:51

Source: google

डेस्क। यू ताे भगवान गणेश का मंदिर पूरे भारत में हर जगह स्थापित हैं। गणेश जी भगवान शिव के पुत्र और प्रथम पूजनीय देवता हैं। इसी तरह इन्दौर में विजय नगर से कुछ दूरी पर खजराना चौक के पास प्रसिद्ध गणेश मंदिर है। 

ये भी देंखें वीडियो : बीजेपी के इस सांसद ने स्कूल में शौचालय की अपने हाथो से की सफाई

इस मंदिर की प्रमुख विशेषता यह हैं कि इस मंदिर में मुख्य मूर्ति भगवान गणपति की है, जो केवल सिन्दूर द्वारा निर्मित है। इस मंदिर का निर्माण अहिल्या बाई होल्कर द्वारा किया गया था। इस मंदिर में गणेश जी के अतिरिक्त माता दुर्गा जी, महाकालेश्वर की भूमिगत शिवलिंग, गंगा जी की मगरमच्छ पर जलधारा मूर्ति, लक्ष्मी जी का मंदिर, साथ ही हनुमान जी की झांकी मन मुग्ध करने वाली है। यहां शनि देव मंदिर एवं साई नाथ का भी भव्य मंदिर विराजमान है, यहां इस तरह की अनुभूति होती है,जैसे सारे देवी, देवता एक स्थान पर उपस्थित हो गये हों।

WATCH VIDEO 

उल्‍टे स्‍वास्‍तिक की मान्‍यता
यहा मंदिर की व्यवस्था बहुत ही उत्तम कोटि की है। इस मंदिर में 10,000 से लोग हर दिन दर्शन करते है। कहते हैं यहां जो भी भक्त अपनी मनोकामना की पूर्ति के लिये गणेश जी के पीठ पर उल्टा स्वास्तिक बनाता है,गणपति जी उसकी मनोकामना पूर्ण करते हैं। मनोकामना पूर्ण होने के पश्चात पुनः सीधा स्वास्तिक बनाते हैं। यहां गणेश जी की विशेष आराधना बुधवार और चतुर्थी को की जाती है, इस दिनों भक्तों की अपार भीड़ दर्शनार्थ जुटते हैं।

Rochak News Web

More From religion

Trending Now
Recommended