संजीवनी टुडे

कल है करवा चौथ, सुहागिन महिलाएं इन बातों का रखें विशेष ध्यान...

संजीवनी टुडे 16-10-2019 10:28:41

करवाचौथ का व्रत सुहागिन महिलाओं के लिए बेहद खास होता है। इसमें महिलाएं दिनभर बिना कुछ खाए और पिए पूरे दिन व्रत रखती हैं। इस बार करवा चौथ गुरुवार को मनाया जाएगा। इस व्रत को सुहागिन महिलाएं निर्जला रखती हैं। रात को चांद देखने के बाद ही कुछ खाया जाता है।


डेस्क। कल  करवा चौथ का पर्व हैं ये कार्तिक मास के कृष्ण पक्ष की चतुर्थी को मनाया जाता है करवा चौथ का त्योहार। करवाचौथ का व्रत सुहागिन महिलाओं के लिए बेहद खास होता है। इसमें महिलाएं दिनभर बिना कुछ खाए और पिए पूरे दिन व्रत रखती हैं। इस बार करवा चौथ गुरुवार को मनाया जाएगा। इस व्रत को सुहागिन महिलाएं निर्जला रखती हैं। रात को चांद देखने के बाद ही कुछ खाया जाता है। इस दिन विवाहित महिलाएं अपने पति की लंबी आयु और सलामती के लिए व्रत रखती हैं, तो वहीं कुंवारी लड़कियां भी अच्छे वर के लिए इस दिन व्रत रखती हैं। आजकल महानगरों में कई पुरुष भी अपनी पत्नियों के साथ करवा चौथ का व्रत रखते हैं।

 ये खबर भी पढ़े: अगर आप पहली बार रख रही हैं करवा चौथ का व्रत तो ये खबर जरूर पढ़े

FGFDG

करवाचौथ के व्रत में महिलाएं सुबह सवेरे उठकर सरगी खाती हैं जो उन्हें उनकी सास देती है। सरगी की थाली में फल, ड्राई फ्रूट्स, मट्ठी, फैनी, साड़ और ज्वैलरी होती है। सूर्योदय से पहले इसे खाने के बाद पूरे दिन कुछ खाया नहीं जाता है। महिलाएं रात को चांद देखकर उसे अर्घ्य देकर व्रत खोलती हैं।

करवा चौथ पर न करें ये काम....

-करवा चौथ के दिन देर तक न सोएं क्योंकि व्रत की शुरुआत सूर्योदय के साथ ही हो जाती है।

-करवाचौथ पर सास की दी गई सरग शुभ मानी जाती है। व्रत शुरू होने से पहले सास अपनी बहू को कुछ मिठाइयां, कपड़े और श्रृंगार का सामान देती है। सरगी का भोजन करें और भगवान की पूजा करके निर्जला व्रत का संकल्प लें।

FGFDG
-पूजा-पाठ में भूरे और काले रंग को शुभ नहीं माना जाता है। हो सके तो इस दिन लाल रंग के कपड़े ही पहनें क्योंकि लाल रंग प्यार का प्रतीक माना जाता है।

-करवा चौथ  के दिन सुहाग की वस्तुएं जैसे लहठी, चूड़ी, बिन्दी और सिंदूर को कचड़े में भूलकर भी ना फेंके। सुहाग की ऐसी वस्तुएं यदि पहनते वक्त टूट जाए तो उसे किसी नदी या तालाब में प्रवाह कर दें और अपने सुहाग की कामना करें।


-करवा चौथ  के दिन सिलाई, कढ़ाई, कटाई ना करें साथ ही इन सब कामों के लिए कैंची का प्रयोग नहीं करें। करवा चौथ का व्रत रखने वाली महिलाओं को इस दिन समय बिताने के लिए ताश के पत्ते खेलना, चुगली करना और सोना जैसे काम नहीं करना चाहिए।


-खुद न सोने के अलावा इस दिन महिलाओं को घर के किसी भी सोते हुए सदस्य के उठाना नहीं चाहिए। हिंदू शास्त्रों के अनुसार करवा चौथ के दिन किसी सोते हुए व्यक्ति को नींद से उठाना अशुभ होता है।


-व्रत करने वाली महिलाओं को अपनी वाणी पर नियंत्रण रखना चाहिए। महिलाओं को घर में किसी बड़े का अपमान नहीं करना चाहिए।


-शास्त्रों में कहा गया है कि करवा चौथ व्रत के दिन महिलाओं को पति से झगड़ा नहीं करना चाहिए। झगड़ा करने से आपको व्रत का फल नहीं मिलेगा।

FGFDG
-इस दिन महिलाएं अपने श्रृंगार का सामान किसी दूसरी महिला को न दें और न ही इस दिन किसी दूसरी महिला के श्रृंगार का सामान लें।

-करवाचौथ के व्रत के दिन सफेद चीजों का दान करने से बचें। जैसे सफेद कपड़े, दूध, चावल, दही और सफेद मिठाई दान न करें।

मात्र 13.21 लाख में अपने ख़ुद के मकान का  सपना करें साकार, सांगानेर जयपुर में बना हुआ मकान कॉल - 9314166166

 

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल पर जुड़ें

More From religion

Trending Now
Recommended