संजीवनी टुडे

वातावरण को शुद्ध करता है यज्ञ : आचार्य कुलदीप आर्य

संजीवनी टुडे 12-06-2019 04:01:00

यज्ञ करने से वातावरण शुद्ध होता है।


शिमला। राज्यपाल आचार्य देवव्रत की पहल पर राजभवन शिमला में वाल्मीकि रामायण पर आधारित संगीतमय श्री राम चरित चिंतन सत्र के दूसरे दिन मंगलवार को प्रख्यात मनीषी एवं प्रखर वक्ता आचार्य कुलदीप आर्य ने रामायण चिंतन प्रस्तुत करते हुए कहा कि जन्म से ही श्री राम विलक्षण प्रतिभा के धनी थे। उनका ओजस्वी तेज आकर्षक और सभी के लिए आनंदमयी था। बच्चों में संस्कार के महत्त्व पर प्रकाश डालते हुए उन्होंने कहा कि आज रामायण का हर संदर्भ हमें प्रेरणा देता है।

उन्होंनेयज्ञ के महत्त्व पर प्रकाश डालते हुए कहा कि यज्ञ में उपयोग होने वाली सामग्री का प्रभाव चारों ओर फैल जाता है और पंचतत्वों के साथ मानव देह को भी प्रभावित व शुद्ध करता है। यज्ञ की पवित्रता को आज हम भूलते जा रहे हैं, जबकि यह संस्कृति का वह हिस्सा था जो नित-प्रतिदिन जीवन का हिस्सा हुआ करता था। श्री राम जन्म से पूर्व राजा जनक ने भी यही पवित्र यज्ञ किया था।

इस अवसर पर हिमाचल प्रदेश लोक सेवा आयोग के अध्यक्ष मेजर जनरल डी.वी.एस राणा ने बतौर मुख्य अतिथि शिरकत की। उन्होंने दीप प्रज्ज्वलित कर कार्यक्रम का विधिवत शुभारम्भ किया। इस अवसर पर लेडी गवर्नर दर्शना देवी, हिमाचल प्रदेश उच्च न्यायालय के कार्यवाहक मुख्य न्यायाधीश न्यायमूर्ति धर्मचंद चैधरी तथा न्यायमूर्ती चंद्र भूूषण बरोवालिया भी उपस्थित थे।

मात्र 220000/- में टोंक रोड जयपुर में प्लॉट 9314188188 

More From religion

Trending Now
Recommended