संजीवनी टुडे

गुरुवार को मां लक्ष्‍मी के स्‍वामी भगवान विष्‍णु की इस विधि विधान से करें पूजा, बनी रहेगी कृपा

संजीवनी टुडे 13-06-2019 07:39:21

गुरुवार भगवान विष्णु का दिन माना जाता हैं मां लक्ष्‍मी के स्‍वामी भगवान विष्‍णु का पूजन करने से सभी तरह के सांसारिक सुखों की प्राप्‍ति होती है। भगवान विष्‍णु ही इस संसार के पालनहार हैं और अगर आप उनकी पूजा सच्‍चे मन और भक्‍तिभाव से करते हैं तो आपको इस संसार के प्रत्‍येक सुख की प्राप्ति होगी।


डेस्क। गुरुवार भगवान विष्णु का दिन माना जाता हैं मां लक्ष्‍मी के स्‍वामी भगवान विष्‍णु का पूजन करने से सभी तरह के सांसारिक सुखों की प्राप्‍ति होती है। भगवान विष्‍णु ही इस संसार के पालनहार हैं और अगर आप उनकी पूजा सच्‍चे मन और भक्‍तिभाव से करते हैं तो आपको इस संसार के प्रत्‍येक सुख की प्राप्ति होगी। गुरू भगवान के भक्‍त उन्‍हें कई नामों से बुलाते हैं कोई उन्‍हें जगन्नाथ भगवान के रूप में पूजता है तो कोई कृष्ण के रूप में तो कोई पदमनाभ स्वामी के रूप में और कोई रंगनाथ स्वामी के रूप में पूजा करता है। इन सारे ही रूपों का मूल श्री विष्णु ही हैं। गुरूवार यानि ब्रहस्‍पतवार भगवान विष्णु को समर्पित दिन माना जाता है। गुरूवार को घर में सुख समृद्धि और संपन्नता लाने के लिए गुरुवार के दिन विष्णु भगवान की पूजा की जाती है। कुछ ऐसे ही उपाय जिन्हें गुरुवार के दिन करने से बृहस्पति देव की कृपा प्राप्त होती है।

विष्‍णु पूजन की सामग्री: देव मूर्ति के स्नान के लिए तांबे का पात्र जल का कलश, दूश, देव मूर्ति को अर्पित किए जाने वाले वस्‍त्र और आभूषण। पुष्‍प, अष्‍टगंध, तुलसीदल, तिल ,अक्षत, कुमकुम, दीपक, तेल, रुई, धूपबत्ती, और जनेऊ। नारियल, पंचामृत, फल, मिठाई, सूखे मेवे, शक्‍कर, पान और दक्षिणा।

s

करें विष्णु भगवान की पूजा

गुरुवार के दिन विष्णु भगवान की पूजा की जाती है। कहा जाता है कि विष्णु भगवान की पूजा से देवी लक्ष्मी प्रसन्न होती हैं। ज्ञानवर्द्धक पुस्तकों को योग्य व्यक्तियों को दान करें। कुल पुरोहित का सम्मान करके आशीर्वाद प्राप्त करें एवं यथा शक्ति स्वर्ण का दान करें।

पहनें पीले रंग के वस्त्र: गुरुवार के दिन पीले रंग के वस्त्र पहनने चाहिए। पीला रंग भगवान विष्णु को बेहद प्रिय है इसलिए भगवान विष्णु को प्रसन्न करने के लिए पीले रंग के वस्त्र पहने जाते हैं।

केले के पेड़ की करें पूजा: गुरुवार के दिन केले के पेड़ की पूजा की जाती है। इस दिन सुबह-सुबह केले के पेड़ की पूजा कर उसके नीचे घी का दीपक जलाना चाहिए। इसके साथ ही केले के पेड़ पर चने की दाल चढ़ाना शुभ होता है। ब्राह्मणों का सम्मान करके उनका आशीर्वाद प्राप्त करें।चने की दाल तथा केसर का मंदिर में दान करें, केसर का तिलक मस्तक पर लगाएं।

s

इनका करें दान: गुरुवार के दिन पीले रंग की चीजें जैसे वस्त्र, अन्न का दान करना शुभ माना जाता है।सत्यनारायण कथा भगवान विष्णु को प्रसन्न करने के लिए गुरुवार को सत्यनारायण की कथा पढ़ते हैं।

मात्र 220000/- में टोंक रोड जयपुर में प्लॉट 9314188188  

More From religion

Trending Now
Recommended