संजीवनी टुडे

22 जुलाई को पहला सावन सोमवार, भूलकर भी न करें ये काम

संजीवनी टुडे 17-07-2019 09:17:39

हिंदू धर्म के अनुसार सोमवार के व्रत 3 तरह के होते हैं। भगवान शिव , सोलह सोमवार और सोम प्रदोष। पूर्णिमा से की जाने वाली गणना के अनुसार ,आज 17 जुलाई से सावन आरंभ हो रहा है और पहला सावन सोमवार 22 जुलाई को है। दूसरा 29 जुलाई को है। तीसरा 5 अगस्त को हैं और चौथा 12 अगस्त को हैं। सोमवार को खास पूजा पाठ कर भगवान शिव को प्रसन्न करते हैं।


डेस्क। सावन मास आज से आरंभ हो गया हैं। सावन के पहले सोमवार का अपना ही एक अलग महत्व होता है।इस महीने में भक्त भगवान शिव की आराधना करते हैं।  हिंदू धर्म के अनुसार सोमवार के व्रत 3 तरह के होते हैं। भगवान शिव , सोलह सोमवार और सोम प्रदोष। पूर्णिमा से की जाने वाली गणना के अनुसार ,आज 17 जुलाई से सावन आरंभ हो रहा है और पहला सावन सोमवार 22 जुलाई को है। दूसरा 29 जुलाई को है। तीसरा 5  अगस्त को हैं और चौथा 12 अगस्त को हैं। सोमवार को खास पूजा पाठ कर भगवान शिव को प्रसन्न करते हैं। लेकिन सोमवार के दिन ऐसी चीज़ें ना करें जो आपके लिए सही ना हो। ऐसे में हम आपको बताने जा रहे है कि किस तरह से सोमवार को पूजा करें और किन कामों को करने से बचे। यदि आपको उन चीजों के बारे में नहीं पता तो हम आपको इसकी जानकारी देते हैं। 

सावन के सोमवर में भूलकर भी न करें ये काम

-सोमवार को दिन में बिल्कुल भी नहीं सोना चाहिए। क्योंकि ऐसा कहा जाता है कि इस पूरे महीने भोलेनाथ धरती पर विचरण करते हैं। ऐसे में यदि आप सोते है तो उनका अपमान होता है।

fgf

-शिव जी को भूलकर भी हल्दी ना लगाएं क्योंकि ये अशुभ माना जाता है। इससे आपके घर मुसीबत आ सकती है।

- सावन के सोमवार को ही नहीं बल्कि पूरे महीने मांस-शराब का सेवन नहीं करना चाहिए, क्योंकि इससे आपको व्रत का लाभ भी नहीं मिलेगा। 

- बैंगन का इस्तेमाल बिल्कुल भी न करें। 

-गन्ने का जूस और काली मिर्च भुलकर भी न खाएं. क्योंकि महादेव को ये चीजें बिल्कुल भी पसंद नहीं है.

-सरसों का तेल नहीं लगाना चाहिए, क्योंकि ये शनिदेव को चढ़ता है। इससे उग्र भावनाएं पैदा होती है और जबकि भगवान भोलेनाथ शांत प्रवृति के हैं।

ssfgf

-दाढ़ी न बनवाएं और न ही बालों को कटवाएं। 


-घर में रखें साफ-सफाई का विशेष ध्यान। 

-पेड़ों को बिल्कुल भी न काटें बल्कि परिवार के सदस्यों की संख्या के बराबर पेड़ लगाएं।

- किसी भी कांवर यात्रियों का अपमान न करें। ऐसा करने से आप खुद पर अधिक पाप चढ़ा सकते हैं और आपका सारा काम भी बिगड़ सकता है। 

-धार्मिक मान्यताओं के अनुसार सावन में हरी पत्तेदार सब्जियां बिल्कुल नहीं खानी चाहिए। दरअसल ये शरीर में वात को बढ़ाती हैं।

ss

-इसके अलावा मानसून के दिनों में इनमें बैक्टीरिया और कीड़े भी देखे जा सकते हैं। इसलिए सावन में हरी पत्तेदार सब्जियां खाने की मनाही होती है। 

गोवर्मेन्ट एप्रूव्ड प्लाट व फार्महाउस मात्र रु. 2600/- वर्गगज, टोंक रोड (NH-12) जयपुर में 9314166166 

 

More From religion

Trending Now
Recommended