संजीवनी टुडे

बुधवार के दिन अति लाभकारी हैं गणेश जी पूजा, जानें सही विधि

संजीवनी टुडे 18-09-2019 08:03:41

देवता भी अपने कार्यों की बिना किसी विघ्न से पूरा करने के लिए गणेश जी की अर्चना सबसे पहले करते हैं। ऐसा इसलिए है क्योंकि देवगणों ने स्वयं उनकी अग्रपूजा का विधान बनाया है। मान्यता है कि नए कार्य की शुरुआत में गणपति की पूजा करने से भविष्य में आने वाले संकट दूर हो जाते हैं और शुरू होने जा रहा कार्य शुभ होता है. इसी वजह से गणेश जी को विघ्नहर्ता भी कहा जाता है।


डेस्क। आज बुधवार हैं और इस दिन भगवान गणेश जी की पूजा का विधान हैं। हिन्दू संस्कृति और पूजा में भगवान श्रीगणेश जी को सर्वश्रेष्ठ स्थान दिया गया है। प्रत्येक शुभ कार्य में सबसे पहले भगवान गणेश की ही पूजा की जाती अनिवार्य बताई गयी है। देवता भी अपने कार्यों की बिना किसी विघ्न से पूरा करने के लिए गणेश जी की अर्चना सबसे पहले करते हैं। ऐसा इसलिए है क्योंकि देवगणों ने स्वयं उनकी अग्रपूजा का विधान बनाया है। मान्यता है कि नए कार्य की शुरुआत में गणपति की पूजा करने से भविष्य में आने वाले संकट दूर हो जाते हैं और शुरू होने जा रहा कार्य शुभ होता है. इसी वजह से गणेश जी को विघ्नहर्ता भी कहा जाता है। माना जाता है कि भगवान अगर अपने किसी भक्त से प्रसन्न हो जाए तो उनकी सभी परेशानियों को दूर करते हैं। आज हम आपको बता रहे हैं गणेश जी बुधवार पूजा विधि... 

 ये खबर भी पढ़े: 18 सितंबर 2019: जानिए आज का राशिफल

गणेश भगवान की पूजा विधि

बुधवार के दिन सुबह जल्दी उठकर सबसे पहले स्नान ध्यान आदि से सुद्ध होकर सर्व प्रथम ताम्र पत्र के श्री गणेश यन्त्र को साफ़ मिट्टी, नमक, निम्बू  से अच्छे से साफ़ किया जाए।  पूजा स्थल पर पूर्व या उत्तर दिशा की और मुख कर के आसान पर विराजमान हो कर सामने श्री गणेश यन्त्र की स्थापना करें। 

Ganesh ji

शुद्ध आसन में बैठकर सभी पूजन सामग्री को एकत्रित कर पुष्प, धूप, दीप, कपूर, रोली, मौली लाल, चंदन, मोदक आदि गणेश भगवान को समर्पित कर, इनकी आरती की जाती है।

अंत में भगवान गणेश जी का स्मरण कर ॐ गं गणपतये नमः का 108 नाम मंत्र का जाप करना चाहिए।

बुधवार के असरदार उपाय

बुधवार के दिन अगर सुख-शांति और समृद्धि चाहते हैं तो बुधवार के दिन गणेश जी को घी और गुड़ का भोग लगाएं। भोग लगाने के बाद गाय माता को इसे खिलाएं। मान्यता है कि बुधवार को ऐसा करने से आर्थिक परेशानी दूर होती है और घर में लक्ष्मी माता का प्रवेश होता है। 

Ganesh ji

-अगर आपको महसूस हो रहा है कि आपके घर पर किसी भी तरह की बाधा है तो घर में सफेद रंग की बप्पा की मूर्ति की स्थापना करें, इससे भय दूर भागेगा। साथ ही नकारात्मक शक्तियों को घर से बाहर निकालना चाहते हैं तो घर के मुख्य द्वार पर गणेश जी मूर्ति की स्थापना करें।

गोवर्मेन्ट एप्रूव्ड प्लाट व फार्महाउस मात्र रु. 2600/- वर्गगज, टोंक रोड (NH-12) जयपुर में 9314166166 

More From religion

Trending Now