संजीवनी टुडे

सावन मास में शिवलिंग के पास जलाएं दीपक, जल्द से जल्द होगी हर मनोकामना पूर्ण

संजीवनी टुडे 25-07-2019 08:47:12

सावन के इस महीने में भगवान भोले को प्रसन्न करने के लिए हम कई चीजों का अर्पण भोले के समक्ष किया करते है। इस महीने में भोले का पूजन बहुत धूम धाम के साथ करते हैं और साथ ही पूजन में भोले को खुश करने के लिए जतन भी किया जाता है।


डेस्क। सावन शिव का मास है। सावन के इस महीने में भगवान भोले को प्रसन्न करने के लिए हम कई चीजों का अर्पण भोले के समक्ष किया करते है। इस महीने में भोले का पूजन बहुत धूम धाम के साथ करते हैं और साथ ही पूजन में भोले को खुश करने के लिए जतन भी किया जाता है। सावन महीने में शिव पूजा करने का विशेष विधान माना गया है तो शिव भगवान को लेकर कई तरह की विशेष प्रचीन कथाएं हमारे हिंदू धर्म ग्रंथों में सुनने को मिल ही जाती है ।

शिवपुराण शिवजी और सृष्टि के निर्माण पर आधारित है। इस ग्रंथ में बताया गया है की अगर आप सावन के महीने में भगवान शिव के शिवलिंग के पास दीपक जलाएं तो आपकी हर मनोकामना जल्द से जल्द पूरी होती है। 

ss

-शिवपुराण में बताई गई कथा के अनुसारप्राचीन काल में गुणनिधि नाम का एक व्यक्ति बहुत गरीब था। वह अपने लिए और परिवार के लिए भोजन की खोज कर रहा था। खोज करते हुए रात हो गई और वह एक शिव मंदिर में पहुंच गया। गुणनिधि ने सोचा कि इसी में रात्रि विश्राम कर लेना ठीक होगा रात में बहुत ज्यादा अंधेरा हो गया और इस अंधकार को दूर करने के लिए उसने अपनी कमीज जला दी रात के समय भगवान शिवलिंग के प्रकाश करने के फलस्वरूप से उस व्यक्ति को अगले जन्म में देवताओं के कोषाध्यक्ष कुबेर देव का पद प्राप्त हुआ।

ss
बस इसी कथा अनुसार ऐसी मान्यता है की भगवान शिव के मंदिर में यदि शाम के समय सावन के महीने में दीपक जलाया जाएं तो बेहद शुभ होगा। दीपक जलाते समय ऊँ नम: शिवाय मंत्र का जाप करें इस मंत्र का जाप 108 बार करें शिव की पूजा में रुद्राक्ष की माला का उपयोग करना लाभकारी होता है। सावन के महीने में रोज सुबह तांबे के लोटे में शिवलिंग पर जल चढ़ाएं जल चढ़ाते समय ऊँ सांब सदा शिवाय नम: मंत्र का जाप करें और बिल्व पत्र चढाएं और मिठाई का भोग लगाएं ऐसा करना बेहद लाभकारी होगा।

गोवर्मेन्ट एप्रूव्ड प्लाट व फार्महाउस मात्र रु. 2600/- वर्गगज, टोंक रोड (NH-12) जयपुर में 9314166166 

 

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल पर जुड़ें

More From religion

Trending Now
Recommended