संजीवनी टुडे

सत्या नडेला को बतौर कोच करियर के अंत में मिला 'हेडमास्टर' का टैग: कुंबले

संजीवनी टुडे 08-11-2017 19:05:27

Satyam Nadeelas Headmaster tag found at the end of coach career Kumble

नई दिल्ली। सॉफ्टवेयर कंपनी माइक्रोसॉफ्ट के मुख्य कार्यकारी अधिकारी सत्या नडेला का क्रिकेट प्रेम किसी से नहीं छिपा है। वे जब भी अपने भारत के दौरे पर होते हैं तो खुद को क्रिकेट से दूर नहीं रख पाते हैं, बचपन से ही क्रिकेट के दीवाने सत्‍या नडेला का कहना है कि जब वह छोटे थे तो उनके बेडरूम में पिता कार्ल मार्क्‍स का पोस्‍टर लगाना चाहते थे, मां देवी लक्ष्‍मी की फोटो लगाना चाहती थीं लेकिन सत्‍या इनसे अलग अपने क्रिकेट हीरो एलएल जयसिम्‍हा की फोटो लगाना चाहते थे। 

यह भी पढ़े: यमुना एक्सप्रेस-वे पर कोहरे के कारण भिड़े दर्जनों वाहन, देखें वीडियो

नडेला ने कहा कि उन्होंने भारत में क्रिकेट खेलने के दौरान ही नेतृत्व के गुण सीखे। नडेला के मुताबिक इससे उन्हें जीवन में आने वाली चुनौतियों का सामना करने में मदद मिली। क्रिकेट पिच से मिली सीख के तहत माइक्रोसॉफ्ट में अपने 25 साल के करियर के दौरान उन्होंने अपनी टीम को प्राथमिकता दी और हर किसी में छिपी क्षमता को बाहर निकाला। 

 #Microsoft, #Global Workforce, # 3000 Jobs, #deduction, #India, #Born Truth Nadeela,#माइक्रोसॉफ़्ट, #वैश्विक वर्क फोर्स, # 3000 नौकरियों, #कटौती,#भारत, #जन्मे सत्या नडेला

टीम इंडिया के पूर्व कोच और दिग्गज गेंदबाज अनिल कुंबले ने कहा है कि उन्हें बतौर कोच करियर के अंत में 'हेडमास्टर' का टैग मिला। नडेला ने मंगलवार को अपनी एक किताब 'हिट रिफ्रेश' को लेकर अपने विचार साझा किए। इस समारोह में दिग्गज क्रिकेट खिलाड़ी अनिल कुंबले भी मौजूद थे, उन्होंने कुम्बले से चर्चा के दौरान कहा कि जीवन में सफलता के लिए आपको एक सहानुभूति की जरूरत होती है।

भारतीय क्रिकेट टीम, ऑस्ट्रेलिया क्रिकेट टीम, अनिल कुंबले,स्टीव स्मिथ, विराट कोहली, भारत, क्रिकेट, टेस्ट सीरीज, Indian Cricket Team, Australia Cricket Team, Anil Kumble, Steve Smith, Virat Kohli, India, Cricket, Test Series

बता दें कि नडेला खुद क्रिकेट के बहुत बड़े फैन हैं। इस दौरान उन्होंने कुंबले से उनकी जिंदगी और क्रिकेट करियर को लेकर कई अहम सवाल पूछे। सीईओ नडेला ने जब पूर्व कोच कुंबले से पूछा कि आपको अपने माता-पिता से क्या सीख मिली, तो उन्होंने कहा कि खुद पर यकीन करना। कुंबले ने कहा कि माता-पिता ने मुझे खुद पर भरोसा करना सिखाया। इसके लिए आपको अपने माता-पिता और दादा-दादी की तरफ देखना पड़ता है।

Bangladesh, Test Cricket, Coach Kumble,बांग्लादेश,टेस्ट,भारतीय क्रिकेट टीम,कोच, अनिल कुंबले

उन्होंने कहा, "अगर आप 'माइक्रोसॉफ्ट' को देखें, तो इस कंपनी को 43 साल हो गए हैं. मैं पिछले 25 साल से इस कंपनी के साथ हूं और अब हर पांच साल में हमें किसी बाहरी चुनौती का सामना करना पड़ता है, लेकिन हम अब भी मजबूत खड़े हैं। इसका साफ मतलब यह है कि हम उस स्तर पर जो कुछ भी कर रहे हैं, वह सही है।"

यह भी पढ़े: लड़के ने की भरे बाजार में लड़की की पिटाई, तमाशा देखते रहे लोग देखिए वीडियो

इस समारोह में मौजूद कुंबले ने कहा देश के लोगों के लिए 1983 में मिली विश्व कप की जीत एक प्रेरणा का काम करती है। यह जीत भारतीय क्रिकेट के लिए एक 'हिट रिफ्रेश' की तरह थी, जिसने लाखों लोगों को प्रोत्साहित किया।

NOTE: संजीवनी टुडे Youtube चैनल सब्सक्राइब करने के लिए क्लिक करे !

जयपुर में प्लॉट ले मात्र 2.20 लाख में: 09314188188

More From sports

loading...
Trending Now
Recommended