संजीवनी टुडे

बिजली चोरी पर ब्यावर के मदीना मिनरल पर 3.58 करोड़ का जुर्माना

संजीवनी टुडे 17-09-2020 08:42:38

बिजली चोरी पर ब्यावर के मदीना मिनरल पर 3.58 करोड़ का जुर्माना


अजमेर। अजमेर विद्युत वितरण निगम द्वारा मीटर टेम्परिंग कर बिजली चोरी के खिलाफ चलाए जा रहे विशेष जांच अभियान में ब्यावर के मदीना मिनरल्स पर बडी बिजली चोरी पकड़ी गई है। मीटर में विशेष डिवाइस लगाकर चोरी का खुलासा होने पर डिस्कॉम ने फर्म के खिलाफ 3.58 करोड़ रुपये का जुर्माना लगाया गया है। अब तक अभियान के तहत 7.17 करोड़ की बिजली चोरी पकड़ी जा चुकी है। इन सभी के खिलाफ एफआईआर दर्ज करवाई गई है। 

अजमेर डिस्कॉम के प्रबन्ध निदेशक वी.एस. भाटी ने बताया कि औद्योगिक एवं अन्य क्षेत्रों में लगातार बिजली चोरी की शिकायतें मिल रही थी। इस पर विशेष अभियान चलाकर अलग-अलग टीम का गठन किया जिसमें 5 अधिशाषी अभियंता, 14 सहायक अभियंता को शामिल किया। जांच दल ने घरेलू, कमर्शियल, औद्योगिक, होटल, ढाबे, मोबाइल टावर, मिल्क चिलिंग प्लांट, पेट्रोल पंप, आरो प्लांट में लगे कनेक्शनों की सघन जांच की। जांच दल ने इस दौरान सभी श्रेणियों के 32 मीटर जब्त किए। मीटर टेस्टिंग लैब में इनमें से 26 मीटर की टेस्टिंग हुई जिसमें मीटर के साथ छेड़छाड़ करना पाया गया। इन 26 के विरुद्ध 7.17 करोड़ जुर्माना लगाते हुए कनेक्शन काटा गया। उन्होंने बताया कि 4 सितंबर को मदीना मिनरल्स ब्यावर के मीटर को साइट पर जब्त कर लैब टेस्टिंग के लिए भेजा गया। मैन्युफैक्चरिंग कंपनी एलएनटी, मैसूर के प्रतिनिधियों के उपस्थिति में अजमेर स्थित हाईटेक मीटर टेस्टिंग लैब में 15 सितम्बर को जांच की गई। जांच में मीटर में एक्सटर्नल सोर्स डिवाइस के माध्यम से एनर्जी रीडिंग को प्रभावित करना पाया गया था। जिसके विरुद्ध 3 करोड़ 58 लाख 76 हजार की जुर्माना लगाया गया। इसके खिलाफ विद्युत चोरी निरोधक थाने में धारा 138 के तहत एफआईआर दर्ज कराई एवं मौके पर कनेक्शन काटा गया। 

भाटी ने बताया कि शहरी एवं ग्रामीण इलाकों में मीटर टेंपर कर विद्युत की चोरी कराने वाला गिरोह सक्रिय है। यह गिरोह आधुनिक टेक्नोलॉजी का इस्तेमाल कर विद्युत मीटर को टेम्पर कर विद्युत की चोरी करा रहे है। गिरोह के झांसे में आकर उपभोक्ता लालच में फंस रहा है। भाटी ने उपभोक्ताओं से अपील करते हुए कहा कि कोई भी उपभोक्ता ऎसे किसी भी गिरोह के झांसे में ना आए। निगम में विशेषज्ञ अभियंता है जो उपभोग हिस्ट्री का अध्ययन कर इस प्रकार की चोरी का लगातार पर्दाफाश कर रहे हैं। निगम लगातार अभियान चलाकर विद्युत चोरों के खिलाफ कार्यवाही जारी रखेगा। जिससे निगम के बढ़ते लॉस पर लगाम लग सके। 

यह खबर भी पढ़े: राष्ट्रपति और उपराष्ट्रपति ने नाव डूबने की घटना पर जताया दुख

यह खबर भी पढ़े: युवक ब्लाइंड मर्डर केस: हत्या के आरोपी सिरोही पुलिस के हत्थे चढ़े

ऐसी ही ताजा खबरों व अपडेट के लिए डाउनलोड करे संजीवनी टुडे एप

More From rajasthan

Trending Now
Recommended