संजीवनी टुडे

प्रो कबड्डी फाइनल: आज दिल्ली-बंगाल की टक्कर से मिलेगा नया चैंपियन

संजीवनी टुडे 19-10-2019 08:07:15

दबंग दिल्ली और बंगाल वारियर्स ने पहली बार फाइनल में जगह बनाई है।


अहमदाबाद। प्रो कबड्डी लीग के फाइनल में पहली बार पहुंची दबंग दिल्ली और बंगाल वारियर्स की टक्कर से लीग को इस बार नया चैंपियन मिलेगा। फाइनल अहमदाबाद के एका एरेना के ट्रांसस्टेडिया में शनिवार को खेला जाएगा। 

यह खबर भी पढ़ें: 3-0 की क्लीन स्वीप के लिए उतरेगी टीम इंडिया

दबंग दिल्ली और बंगाल वारियर्स ने पहली बार फाइनल में जगह बनाई है। दिल्ली ने सेमीफाइनल में गत विजेता बेंगलुरु बुल्स को 44-38 से और बंगाल वॉरियर्स ने यू मुम्बा को 37-35 से शिकस्त दी थी। फाइनल के साथ ही तीन महीने तक चले सातवें सत्र का समापन हो जाएगा।

gfgfg

टूर्नामेंट के पिछले छह संस्करणों में जयपुर पिंक पैंथर्स ने 2014 में पहली बार खिताब जीता जबकि यू मुम्बा की टीम 2015 में दूसरी चैंपियन बनी। 

यह खबर भी पढ़ें: रांची टेस्ट में डु फ्लेसिस नहीं करेंगे टॉस, बताई ये वजह

पटना पाइरेट्स ने 2016 में दो बार हुई लीग में खिताब जीता और फिर 2017 में भी खिताब जीतकर खिताबी हैट्रिक पूरी की।बेंगलुरु बुल्स ने 2018 में खिताब जीता।

gfgfg

प्रो कबड्डी लीग के सातवें सत्र में कुल आठ करोड़ रुपये की पुरस्कार राशि दी जायेगी। चैंपियन टीम को तीन करोड़ रुपये की पुरस्कार राशि मिलेगी जबकि उपविजेता को एक करोड़ 80 लाख रुपये मिलेंगे। 

यह खबर भी पढ़ें: भाजपा सासंद गौतम गंभीर ने दिया इस्तीफा, बोले- जो करना चाहता था नहीं कर पाया

तीसरे और चौथे स्थान की टीमों को 90-90 लाख रुपये मिलेंगे जबकि पांचवें और छठे स्थान की टीमों को 45-45 लाख रुपये मिलेंगे। शेष पुरस्कार राशि व्यक्तिगत पुरस्कारों में दी जायेगी।

gfgfg

फाइनल में दिल्ली को अपने युवा स्टार रेडर नवीन कुमार और बंगाल को मनिंदर सिंह से उम्मीदें रहेंगी। नवीन इस सत्र में लगातार 20 सुपर-10 लगा चुके हैं। बंगाल के सुकेश हेगड़े का प्रो कबड्डी में यह 100वां मैच होगा और वह इसे खिताब से यादगार बनाना चाहेंगे।

यह खबर भी पढ़ें: IPL में ऐसा करने वाली पहली टीम बनी RCB, महिला मसाज...

दिल्ली के पास चंद्रन रंजीत और विजय जैसे अच्छे रेडर और रविंदर पहल तथा जोगिन्दर नरवाल जैसे अच्छे डिफेंडर हैं जबकि बंगाल के पास के प्रपंजन जैसा जबरदस्त रेडर है।

gfgfg

लीग दौर में बंगाल ने इस सत्र में दिल्ली के साथ 46वें मैच में 30-30 का टाई खेला था और फिर 115वें मैच में उसने दिल्ली को 42-33 से हराया था। दिल्ली लीग में पहले और बंगाल दूसरे स्थान पर रहा था। 

यह खबर भी पढ़ें: भारत के लिए फिर से ओपनिंग करते दिखाई देंगे सचिन-सहवाग

दिल्ली का इस सत्र में 23 मैचों में 16 जीत, चार हार और तीन ड्रा का रिकॉर्ड रहा है जबकि बंगाल का 23 मैचों में 15 जीत, पांच हार और तीन ड्रा का रिकॉर्ड रहा है। लेकिन फाइनल की टक्कर लीग को नया चैंपियन देगी।

मात्र 2500/- प्रति वर्गगज में फार्म  हाउस अजमेर रोड, जयपुर  में 9314188188

 

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल पर जुड़ें

More From pro-kabaddi-2019

Trending Now
Recommended