संजीवनी टुडे

राज्य भर में भाजपा तृणमूल के बीच पार्टी दफ्तरों पर कब्जा करने की होड़

संजीवनी टुडे 26-05-2019 17:04:08


कोलकाता। पश्चिम बंगाल की 42 में से 18 सीटों पर भाजपा की जबरदस्त जीत और सत्तारूढ़ तृणमूल की 12 सीटें कम होने के बाद राज्यभर में एक दूसरे के पार्टी दफ्तर पर कब्जा करने का दौर लगातार जारी हैं। सबसे अधिक चर्चा में उत्तर 24 परगना जिला है। रविवार को कांकीनाड़ा के एक तृणमूल दफ्तर में कब्जा और बाद में तृणमूल कार्यकर्ताओं द्वारा तोड़फोड़ की घटना प्रकाश में आई है। 

सूत्रों के अनुसार भाटपाड़ा से भाजपा के टिकट पर पवन सिंह की जीत के बाद कांकीनाड़ा के इस क्लब के सदस्यों में भाजपा का समर्थन करना शुरू कर दिया था। इसके बाद वहां से तृणमूल का झंडा, बैनर, पोस्टर ममता बनर्जी की तस्वीरें आदि हटा दिए थे। तृणमूल के नेम प्लेट पर सफेद रंग का पेंट लगाकर भाजपा का झंडा लगा दिया गया था। 

इसके बाद आरोप है कि शनिवार देर रात अज्ञात तृणमूल कार्यकर्ताओं ने क्लब में घुसकर तोड़फोड़ की। यहां के टीवी, टेबल, कुर्सी सबकुछ तोड़ दिया गया है। भाजपा का झंडा, बैनर, पोस्टर निकालकर फेंक दिया गया है। रविवार सुबह जब भाजपा कार्यकर्ता यहां पहुंचे तो सबकुछ बिखरा हुआ देखा। सूचना मिलने के बाद पुलिस की टीम मौके पर पहुंची है। इस मामले में प्राथमिकी दर्ज कर जांच शुरू की गई है। हालांकि अपराहन 2:30 बजे खबर लिखे जाने तक किसी की गिरफ्तारी नहीं हुई थी। यहां से हाल ही में पार्टी से निलंबित किए गए तृणमूल के विधायक शुभ्रांशु रॉय ने कहा है कि क्षेत्र में तृणमूल कांग्रेस का कोई अस्तित्व ही नहीं बचेगा इसलिए पार्टी दफ्तर बचने का तो कोई सवाल ही नहीं पैदा होता। 

पूर्व मेदिनीपुर के पांशकुड़ा विधानसभा क्षेत्र में भी घटी है। आरोप है कि यहां के वार्ड नंबर-7 के मधुसूदन रोड स्थित तृणमूल के दफ्तर में शनिवार देर रात आग लगा दी गई है। इसका आरोप भाजपा के कार्यकर्ताओं पर लगा है। रविवार सुबह जब तृणमूल के कार्यकर्ताओं ने देखा कि पूरा दफ्तर जलकर खाक हो गया है, पुलिस को इसकी सूचना दी गई। सूचना मिलने पर पांशकुड़ा नगरपालिका के चेयरमैन नंद कुमार मिश्रा भी मौके पर पहुंचे। 

उन्होंने दावा किया कि उनके पार्टी दफ्तर में भाजपा कार्यकर्ताओं ने आग लगाया है। उन्होंने कहा कि यह क्षेत्र घाटाल लोकसभा केंद्र में पड़ता है। संसदीय क्षेत्र में भाजपा उम्मीदवार भारती घोष के हारने के अलावा सात नंबर वार्ड से भाजपा को 96 वोटों की लीड मिली थी। इसलिए उत्साहित कार्यकर्ताओं ने तृणमूल के दफ्तर में आग लगाई है। हालांकि भाजपा के पार्षद मिंटू सेनापति ने नगरपालिका अध्यक्ष के दावे को खारिज करते हुए कहा कि यह तृणमूल की आपसी झड़प का परिणाम है। 

प्लीज सब्सक्राइब यूट्यूब बटन

सात नंबर वार्ड के पार्षद ने अपने कार्यकर्ताओं को साथ लेकर पार्टी दफ्तर में आग लगाई है। इसका भाजपा से कोई संबंध नहीं है। उन्होंने कहा कि इस क्षेत्र में आम लोगों ने भाजपा का समर्थन किया है इसलिए भाजपा को बदनाम करने की साजिश के तहत अपने ही पार्टी दफ्तर में आग लगाकर तृणमूल हंगामा कर रही है। शिकायत मिलने के बाद पुलिस घटना की जांच में जुट गई है।

मात्र 240000/- में टोंक रोड जयपुर में प्लॉट 9314166166

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल पर जुड़ें

More From politics

Trending Now
Recommended