संजीवनी टुडे

स्पीकर ने सभी दिवंगत नेताओं को अर्पित की श्रदांजलि, विधानसभा सत्र की कार्यवाही को दोपहर 1 बजे तक के लिए स्थगित

संजीवनी टुडे 14-08-2020 11:19:23

सत्र की शुरुआत ही विधानसभा स्पीकर सीपी जोशी द्वारा परम्परा के तहत सभी दिवंगत नेताओं को श्रन्दांजलि अर्पित की और 2 मिनट का मौन रखा गया।


जयपुर। राजस्थान के सियासी ड्रामे के पटाक्षेप के बाद अब सब कुछ बेहतर हो गया है। अशोक गहलोत सरकार के खिलाफ मोर्चा खोलने वाले सचिन पायलट और उनके समर्थक अब मन गए हैं और राजस्थान की कांग्रेस सरकार स्थिर दिख रही है। इसके बावजूद मुख्यमंत्री गहलोत विधानसभा सत्र की पूर्व संध्या पर भी अपने रूठे विधायकों को मनाते नजर आये। इसके साथ ही आज 11 बजे से विधानसभा सत्र की शुरुआत हो चुकी है। 

Legislative Assembly session to begin today at 11 am

सत्र की शुरुआत ही विधानसभा स्पीकर सीपी जोशी द्वारा परम्परा के तहत सभी दिवंगत नेताओं को श्रन्दांजलि अर्पित की और 2 मिनट का मौन रखा गया। इसके साथ ही स्पीकर ने सदन की कार्यवाही को दोपहर 1 तक के लिए स्थगित कर दिया गया है। 

इससे पहले बारिश के बीच सभी विधायक विधानसभा भवन पहुंचे। इस बार विधान सभा सत्र के दौरान दर्शक, विशिष्‍ट और अध्‍यक्ष दीर्घा के लिए भी प्रवेश पत्र नहीं बनाये जायेंगे। राजस्‍थान विधान सभा के सचिव प्रमिल कुमार माथुर ने बताया कि प्रवेश द्वारों पर हाथ धोने और सेनेटाइज किये जाने वाली मशीनें पर्याप्‍त संख्‍या में लगाई गई है। चार पहिया वाहन को भी विधानसभा परिसर में प्रवेश करते ही सेनेटाइज मशीन से निकालना होगा। 

Gehlot and Pilot

उन्‍होंंने बताया कि कोरोना से बचाव के लिए अपनाई जाने वाली सभी सावधानियों को दृष्टिगत रखते हुए विधानसभा सत्र के लिये आवश्‍यक व्‍यवस्‍थाएं पूरी कर ली गई हैं। कोरोना से बचाव के कारण ही इस बार सत्र आहूत होने के मध्‍यनजर पूर्व की भांति विधानसभा भवन एवं उसके बाहर की जाने वाली सत्र सम्‍बंधी व्‍यवस्‍थाओं की बैठकों का आयोजन भी नहीं किया गया। 

विधानसभा में संचालित एलोपैथिक, होम्‍योपैथिक, आयुर्वेद और यूनानी चिकित्‍सालयों में चिकित्‍सकों और औषधियों की व्‍यवस्‍था कोरोना के दृष्टिगत पर्याप्‍त की गई है। सत्र के दौरान अस्‍थाई सी.पी.आर की व्‍यवस्‍था विधानसभा के ऐलोपैथिक चिकित्‍सालय में रखी गई है।

Gehlot and Pilot

उन्‍होंने बताया कि राजकीय विभागों में दो अधिकारियों के ही प्रवेश पत्र - इस बार विधानसभा के पंचम सत्र में कोरोना के प्रभाव को मध्‍यनजर रखते हुए अधिकारियों के प्रवेश पत्र पूर्व की भांति नहीं बनाये जायेगें। राजकीय विभागों के दो अधिकारियों के ही प्रवेश पत्र बनेंगें। एक अधिकारी दीर्घा और एक सामान्‍य प्रवेश पत्र बनाया जायेगा। 

प्लीज सब्सक्राइब यूट्यूब बटन

 

यह खबर भी पढ़े: Coronavirus Live Updates/भारत में आज बढे 64,553 नए केस, अब तक 48,040 संक्रमितों ने तोडा दम

 

ऐसी ही ताजा खबरों व अपडेट के लिए डाउनलोड करे संजीवनी टुडे एप

More From politics

Trending Now
Recommended