संजीवनी टुडे

सचिन की बगावत पर राहुल का तंज, कहा- जिसे पार्टी छोड़कर जाना है वो जाएगा, घबराना नहीं

संजीवनी टुडे 15-07-2020 23:25:57

कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी ने बुधवार को पार्टी की छात्र इकाई एनएसयूआई (NSUI) के वरिष्ठ पदाधिकारियों के साथ वीडियो कांफ्रेंस के जरिए बैठक के दौरान कहा कि जिसे पार्टी से जाना है वो जाएगा, लेकिन इससे घबराने की जरूरत नहीं है।


नई दिल्ली। कांग्रेस पार्टी की तरफ से रणदीप सुरजेवाला जैसे नेता भले ही सचिन पायलट को अब भी मनाने की कोशिश में जुटे हों, लेकिन ऐसा लगता है कि राहुल गांधी ने पायलट को अपने दिलो-दिमाग से निकाल दिया है। कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी ने बुधवार को पार्टी की छात्र इकाई एनएसयूआई (NSUI) के वरिष्ठ पदाधिकारियों के साथ वीडियो कांफ्रेंस के जरिए बैठक के दौरान कहा कि जिसे पार्टी से जाना है वो जाएगा, लेकिन इससे घबराने की जरूरत नहीं है। 

सूत्रों का कहना है कि उन्होंने यह टिप्पणी करते हुए किसी नेता का नाम नहीं लिया। हालांकि, राहुल गांधी की इस टिप्पणी को राजस्थान के पूर्व उप मुख्यमंत्री सचिन पायलट की बगावत से जोड़कर देखा जा रहा है। उधर, भारतीय राष्ट्रीय छात्र संगठन (एनएसयूआई) की राष्ट्रीय प्रभारी रुचि गुप्ता ने इससे इनकार किया है कि राहुल गांधी ने बैठक में ऐसी कोई टिप्पणी की, हालांकि संगठन से जुड़े कई सूत्रों ने कांग्रेस नेता की टिप्पणी की पुष्टि की है। 

रुचि ने कहा, ‘राहुल गांधी के साथ एनएसयूआई की बैठक के बारे में कुछ खबरें सामने आई हैं, मैं कहना चाहती हूं कि ये खबरें निराधार हैं। यह एनएसयूआई की आंतरिक बैठक थी और हमने सिर्फ छात्रों एवं युवाओं के बारे में चर्चा की।’ दूसरी तरफ, एनएसयूआई से जुड़े सूत्रों ने बताया कि बैठक में कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष ने कहा कि जिसे पार्टी छोड़कर जाना है वो जाएगा ही, आप लोगों को घबराना नहीं है। जब कोई बड़ा नेता पार्टी छोड़कर जाता है तो आप जैसे लोगों के लिए रास्ते खुलते हैं। 

कहा जा रहा है कि राहुल गांधी ने पायलट को बगावत से रोकने के लिए उनसे खुद बात की थी। पार्टी आलाकमान की तरफ से राजस्थान में पैदा हुए राजनीतिक संकट को संभालने के लिए जयपुर भेजे गए प्रतिनिधिमंडल में शामिल रणदीप सुरजेवाला ने इसकी जानकारी मीडिया को भी दी। उन्होंने कहा, 'पिछले पांच दिनों से सोनिया गांधी और राहुल गांधी के साथ-साथ सारे कांग्रेस नेतृत्व ने सारे दरवाजे खोलकर उदार हृदय से कहा कि घर का व्यक्ति अगर घर से भूलकर बाहर चला जाए तो वह परिवार का सदस्य रहता है, आप वापस चले आइए। 

इस बैठक में कांग्रेस के संगठन महासचिव केसी वेणुगोपाल भी मौजूद थे। कांग्रेस के शीर्ष नेतृत्व ने आधा दर्जन बार, कांग्रेस कार्यसमिति को दो-दो सदस्यों ने एक दर्जन बार और पार्टी के संगठन महासचिव केसी वेणुगोपाल ने एक से अधिक बार उन्हें यह भी कहा कि न केवल वापस आकर अपना पक्ष और अपनी बात रखिए।' 

यह खबर भी पढ़े: इग्नू में ऑनलाइन नामांकन की अंतिम तिथि 31 जुलाई तक बढाई

यह खबर भी पढ़े: राजस्थान/ अशोक गहलोत और अविनाश पांडे का बड़ा फैसला, 19 बागी कांग्रेस विधायकों के क्षेत्रों में उपचुनाव कराने की तैयारियां शुरू

ऐसी ही ताजा खबरों व अपडेट के लिए डाउनलोड करे संजीवनी टुडे एप

More From politics

Trending Now
Recommended