संजीवनी टुडे

Rajasthan Politics LIVE Updates/राजस्थान के सियासी ड्रामे पर सुप्रीम कोर्ट में सुनवाई आज, BSP ने बढ़ाई गहलोत सरकार की टेंशन

संजीवनी टुडे 27-07-2020 08:04:52

राजस्थान कोर्ट के इसी फैसले के खिलाफ सीपी जोशी ने सुप्रीम कोर्ट का दरवाजा खटखटाया था।


नई दिल्ली। राजस्थान का सियासी घटनाक्रम रोज नए मोड़ ले रहा है। दो नेताओं के टकराव से शुरू हुई यह कहानी अब हाई कोर्ट के बाद सुप्रीम कोर्ट और पूरे देश तक पहुँच चुकी है। आज सुप्रीम कोर्ट राजस्थान विधानसभा के स्पीकर सीपी जोशी की याचिका पर सुनवाई करेगा। सुप्रीम कोर्ट की तीन जजों की बेंच इस याचिका पर सुनवाई करेगी। 

बता दें कि बुधवार को सीपी जोशी ने राजस्थान हाई कोर्ट के फैसले के खिलाफ सुप्रीम कोर्ट में याचिका दायर की थी। दरअसल राजस्थान हाई कोर्ट ने स्पीकर से 24 जुलाई तक 19 विधायकों के खिलाफ अयोग्यता को लेकर किसी भी तरह की कार्रवाई नहीं करने को कहा था। 

Rajasthan Politics

राजस्थान कोर्ट के इसी फैसले के खिलाफ सीपी जोशी ने सुप्रीम कोर्ट का दरवाजा खटखटाया था। लेकिन कोर्ट ने सीपी जोशी को फौरी राहत देने से इनकार कर दिया था और कहा था कि इस मामले में सुनवाई की जरूरत है और हम राजस्थान कोर्ट के फैसले को रोक नहीं सकते हैं जबतक कि इस मामले की सुनवाई नहीं हो जाती।

सुप्रीम कोर्ट में दायर अर्जी पर सोमवार सुबह 11 बजे सुनवाई होगी। इस मामले में सुप्रीम कोर्ट में तीन जजों की बेंच सोमवार सुबह 11 बजे सुनवाई करेगी। विधानसभा अध्यक्ष ने कांग्रेस पार्टी द्वारा शिकायत दिए जाने के बाद इन विधायकों को 14 जुलाई को नोटिस जारी किया था। कांग्रेस ने शिकायत में कहा था कि विधायकों ने पिछले हफ्ते बुलाई गई कांग्रेस विधायक दल की दो बैठकों के लिए जारी व्हिप का उल्लंघन किया।

Rajasthan Politics

BSP ने बढ़ाई गहलोत सरकार की टेंशन-
रविवार को बसपा ने सदन की किसी भी कार्यवाही में गहलोत सरकार के खिलाफ मतदान करने के लिए छह विधायकों को व्हिप जारी किया। बसपा महासचिव सतीश चंद्र मिश्रा ने कहा कि सभी छह विधायक अपने राष्ट्रीय अध्यक्ष मायावती द्वारा जारी बसपा के चुनाव चिन्ह पर चुने गए थे और कांग्रेस सरकार के खिलाफ वोट देने के लिए पार्टी के व्हिप द्वारा बाध्य थे। 

सभी छह विधायकों को अलग-अलग नोटिस जारी किए गए हैं, जिसमें उन्हें कहा गया है कि चूंकि बसपा एक मान्यता प्राप्त राष्ट्रीय पार्टी है, इसलिए छह विधायकों का राज्य स्तर पर दसवीं अनुसूची के पैरा (4) के तहत कोई विलय नहीं किया जा सकता है।

Rajasthan Politics

कांग्रेस में अशोक गहलोत खेमे के पास इस समय राजस्थान विधानसभा में बहुमत है। उन्हें स्पीकर को छोड़कर 101 विधायकों का समर्थन प्राप्त है। इसमें वे छह विधायक भी शामिल हैं, जो बीएसपी छोड़कर कांग्रेस में शामिल हुए थे। पूर्व उपमुख्यमंत्री सचिन पायलट कैंप में 22 विधायक हैं। भाजपा के नेतृत्व वाले समूह में 75 विधायक हैं।

प्लीज सब्सक्राइब यूट्यूब बटन

 

यह खबर भी पढ़े: RBSE 10th Result 2020 date/ आज जारी हो सकता है आरबीएसई 10वीं बोर्ड का परिणाम, जानिए कहां देखें रिजल्ट

यह खबर भी पढ़े: राजस्थान की सियासत में अब एक और नया मोड़, बसपा का छह विधायकों को कांग्रेस के खिलाफ वोट देने का व्हिप जारी

 

ऐसी ही ताजा खबरों व अपडेट के लिए डाउनलोड करे संजीवनी टुडे एप

More From politics

Trending Now
Recommended