संजीवनी टुडे

Lok Sabha Election Result : 271 / 542

Party Name Lead Won Last Election
BJP+ 153 195 336
Congress+ 46 46 60
Other 72 30 147
State Wise Lok Sabha Election Result Click Here

मुख्यमंत्री ने मंत्रालय को बनाया कांग्रेस कार्यालयः विजयवर्गीय

संजीवनी टुडे 15-03-2019 21:27:49


भोपाल। भारतीय जनता पार्टी ने मुख्यमंत्री कमलनाथ की शिकायत चुनाव आयोग से की है। अपनी शिकायत में भाजपा ने कहा कि मुख्यमंत्री कमलनाथ ने वल्लभ भवन (मंत्रालय) को कांग्रेस पार्टी का कार्यालय बना दिया है। मुख्यमंत्री यही से बैठकर चुनाव की प्लानिंग कर रहे है और लोगों को पार्टी की सदस्यता दिलवा रहे है, जो कि आचार संहिता का उल्लंघन है।

मात्र 240000/- में टोंक रोड जयपुर में प्लॉट 9314166166

पार्टी के राष्ट्रीय महासचिव कैलाश विजयवर्गीय के नेतृत्व में पहुंचे प्रतिनिधिमंडल ने साक्ष्य सौंपकर चुनाव आयोग से मुख्यमंत्री कमलनाथ के खिलाफ सख्त कार्यवाही की मांग की है। प्रतिनिधि मंडल में पार्टी के प्रदेश उपाध्यक्ष विजेश लुणावत, एस.एस. उप्पल, रवि कोचर, संजीव दुबे, अश्विनी राय शामिल थे।

कैलाश विजयवर्गीय ने कहा कि आदर्श आचार संहिता लागू होने के बाद मुख्यमंत्री कमलनाथ मंत्रालय में बैठकर अपने प्रभाव का दुरूपयोग कर रहे है। 10 मार्च से मुख्यमंत्री कमलनाथ द्वारा पार्टी की चुनाव संबंधी बैठकें मंत्रालय में हो रही है। मंत्रालय को कांग्रेस मुख्यालय में बदल दिया गया है और यहां से चुनाव प्रक्रिया में लगे अधिकारियों पर राजनैतिक दबाव बनाया जा रहा है। 

उद्योगपतियों को बुलाकर चुनाव के लिए पैसा इकठ्ठा किया जा रहा है। शिकायत में कहा कि आदर्श आचार संहिता लागू हो चुकी है लेकिन आचार संहिता लागू होने के बाद भी शुक्रवार को मुख्यमंत्री कमलनाथ द्वारा बीएसपी के पूर्व विधायक बलवीर सिंह डंडोतिया को उनके 70 समर्थकों को मंत्रालय में कांग्रेस पार्टी की सदस्यता दी गयी, जो कि आचार संहिता के उल्लंघन की श्रेणी में आता है। भाजपा ने इस संबंध में चुनाव आयोग को वीडियों भी सौंपा है।

MUST WATCH & SUBSCRIBE

प्रतिनिधिमंडल ने शिकायत करते हुए मांग की है कि 10 मार्च से वर्तमान दिनांक तक का मंत्रालय का प्रवेश एवं निकास का संपूर्ण रिकार्ड एवं सीसीटीवी फूटेज की जांच की जाए, साथ ही मुख्यमंत्री कमलनाथ के निर्देश पर कांग्रेस पार्टी के उद्देश्यों की पूर्ति के लिए किन-किन व्यक्तियों को प्रवेश दिया गया है, उनकी जांच हो एवं मुख्यमंत्री कमलनाथ, पूर्व विधायक बलवीर सिंह डंडोतिया और उनके समर्थकों के विरूद्ध आचार संहिता का उल्लंघन किए जाने पर उनके खिलाफ कड़ी कार्यवाही हो।

More From politics

Loading...
Trending Now