संजीवनी टुडे

Assembly Session LIVE/अब सीएम गहलोत के बगल में नहीं बैठे पायलट, बीजेपी ने कांग्रेस को घेरा

संजीवनी टुडे 14-08-2020 13:49:11

सचिन पायलट की सीटिंग अरेंजमेंट में किए गए बदलाव इसलिए करना पड़ा है क्योंकि अब वो प्रदेश सरकार में मंत्री नहीं है।


जयपुर। राजस्थान में जारी सियासी दंगल के लिए आज का दिन काफी मत्वपूर्ण है। अब राजस्थान की सियासत का रण विधानसभा में नजर आएगा। राजस्थान विधानसभा के पांचवें सत्र का आज पहला दिन है, आज राजस्थान विधानसभा सत्र की कार्यवाही सुबह 11 बजे के बाद दोपहर 1 बजे से फिर शुरू हुई। 

लेकिन इस बार विधानसभा सत्र के दौरान हर बार की तरह सचिन पायलट को मुख्यमंत्री अशोक गहलोत के साथ बैठा नहीं देखा गया। बगावती तेवर अख्तियार करने वाले सचिन पायलट को सीट नंबर 127 मिली है और वो निर्दलीय विधायक के साथ बैठे है। 

Assembly Session LIVE  Congress introduced confidence motion BJPs uproar in assembly

बता दें कि सचिन पायलट की सीटिंग अरेंजमेंट में किए गए बदलाव इसलिए करना पड़ा है क्योंकि अब वो प्रदेश सरकार में मंत्री नहीं है। अपनी सरकार के खिलाफ बगावत की वजह से पिछले दिनों पार्टी ने कार्रवाई करते हुए उन्हें डिप्टी सीएम और कांग्रेस प्रदेश अध्यक्ष के पद से हटाने का फैसला लिया था। 

पायलट के उपमुख्यमंत्री नहीं रहने की वजह से विधानसभा में उनकी सीट में बदलाव किया गया है। अब उन्हें सीएम गहलोत के बगल वाली सीट भी नहीं मिलेगी। उन्हें निर्दलीय विधायक संयम लोढ़ा के बगल वाली सीट मिली है। स्पीकर सीपी जोशी ने पिछले दिनों हुए घटनाक्रम के बाद विधानसभा में विधायकों के बैठने को लेकर नए नियम जारी किए हैं।

Gehlot and Pilot

जानकारी के मुताबिक, इसमें सचिन पायलट की जगह संसदीय कार्य मंत्री शांति धारीवाल मुख्यमंत्री गहलोत के बगल वाली सीट पर बैठे नजर आएंगे। सचिन पायलट अभी मंत्री नहीं हैं ऐसे में उन्हें पीछे की ओर 127 नंबर की सीट दी गई है। ये सीट निर्दलीय विधायक संयम लोढ़ा के बगल में स्थित है।

सचिन पायलट की ही सीट में बदलाव नहीं किया गया है। प्रदेश सरकार के दो और मंत्री विश्वेंद्र सिंह और रमेश मीणा को भी मंत्री पद से हटाया गया था, ऐसे में उनकी भी सीट बदल गई है। विश्वेंद्र सिंह अब 14वें नंबर की सीट पर बैठेंगे, वहीं रमेश मीणा को पांचवी लाइन की 54 नंबर सीट दी गई है।

Gehlot and Pilot

बता दें कि सत्र के दौरान संसदीय कार्य मंत्री शांति धारीवाल ने बीजेपी नेताओं से कहा कि अमित शाह आपको माफ नहीं करेंगे। वह जवाब मांगेंगे। शांति धारीवाल ने कहा कि जिस तरह से महाराणा प्रताप ने विरोधियों को हराया, उसी तरह अशोक गहलोत ने हराया। राजस्थान में ना किसी शाह की चली, ना तानाशाही की चली। 

मंत्री शांति धारीवाल ने सदन में कहा, 'अमित शाह हिसाब मांग कर रहेगा, छोड़ेगा नहीं' इस पर राजेंद्र राठौड़ ने आपत्ति जताई और कहा कि इस तरह केंद्रीय गृहमंत्री का नाम नहीं लिया जा सकता। इस पर मंत्री शांति धारीवाल ने कहा कि बात साफ है, पैसा दिया था तो हिसाब मांगा ही जाएगा।

Gehlot and Pilot

वहीं, प्रतिपक्ष भारतीय जनता पार्टी की तरफ से गुलाब चंद कटारिया ने विधायकों की बाड़ेबंदी, टिड्डी हमले और प्रदेश की कानून व्यवस्था व आर्थिक हालात, कांग्रेस विधायकों की बाड़ेबंदी पर खर्च, सरकारी मशीनरी और सुविधाओं का दुरुपयोग को लेकर अलग से सरकार पर हमले किए। 

प्लीज सब्सक्राइब यूट्यूब बटन

 

यह खबर भी पढ़े: Assembly Session LIVE/कांग्रेस ने पेश किया विश्वास प्रस्ताव, तो विधानसभा में बीजेपी का हंगामा

यह खबर भी पढ़े: Rajasthan Politics Update/भारतीय जनता पार्टी ने बदला मूड, अब नहीं लाएंगे सरकार के खिलाफ अविश्वास प्रस्ताव

 

ऐसी ही ताजा खबरों व अपडेट के लिए डाउनलोड करे संजीवनी टुडे एप

More From politics

Trending Now
Recommended