संजीवनी टुडे

उठो जागो और तब तक रुको नहीं जब तक मंजिल प्राप्त न हो जाए

संजीवनी टुडे 12-01-2019 16:35:30


वाराणसी। 'उठो जागो और तब तक रुको नहीं जब तक मंजिल प्राप्त न हो जाए' का कालजयी संदेश देने वाले युवा हृदय सम्राट स्वामी विवेकानन्द की 156वीं जयंती पर शनिवार को युवाओं ने उन्हें शिद्दत से याद किया। विभिन्न संस्थाओं के साथ शहर के अलग-अलग हिस्सों में अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद, छात्रों और युवाओं ने विवेकानंद की जयन्ती उत्साह से मनाई। इस मौके पर जगह जगह गोष्ठी, शोभायात्रा भी निकाली गई। 

जयपुर में प्लॉट/ फार्म हाउस: 21000 डाउन पेमेन्ट शेष राशि 18 माह की आसान किस्तों में, मात्र 2.30 लाख Call:09314188188

आईपी विजया के सामने, नदेसर मिण्ट हाउस चौराहे पर स्थित स्वामी जी की विशाल प्रतिमा के सामने दीप प्रज्जविलत किया गया और मूर्ति पर माल्यार्पण कर उनके विचार उठो जागो और तब तक रुको नहीं जब तक मंजिल प्राप्त न हो जाए का मनन कर उनके आदर्शों पर चलने का संकल्प युवाओं ने लिया। 

मिंट हाउस तिराहा नदेसर स्थित स्वामी विवेकानंद की प्रतिमा की साफ-सफाई के बाद भारत विकास परिषद काशी प्रान्त के कार्यकर्ताओं ने स्वामी के चरणों में पुष्प अर्पित किया। इसी क्रम में प्रधानमंत्री आदर्श ग्राम नागेपुर में स्वामी विवेकानंद की जयंती युवा दिवस के रूप में मनाई गई। लोक समिति के तत्वावधान में जुटे ग्रामीण और युवाओं ने स्वामी विवेकानंद के चित्र के सम्मुख दीप प्रज्ज्वलित कर देश सेवा का संकल्प लिया। 

MUST WATCH & SUBSCRIBE

इस मौके पर छात्रों ने देशभक्ति पूर्ण रचनाएं प्रस्तुत की। कार्यक्रम के संयोजक नन्दलाल मास्टर ने कहा कि युवा स्वस्थ होगा तो देश भी स्वस्थ होगा। उन्होंने कहा कि देश को स्वस्थ बनाने के लिए युवाओं को नशा, अनुशासन हीनता व सामाजिक बुराइयों से दूर रहना होगा। हमें भयमुक्त, भ्रष्टाचार मुक्त, आतंकवाद मुक्त व विज्ञान, कृषि, कला, खेल सम्पन्न करने के लिए स्वामी विवेकानंद के मार्ग पर चलना होगा। इस अवसर पर अन्य युवाओं ने भी खुलकर विचार रखे। कार्यक्रम में अमित, रामबचन, पंचमुखी ,विद्या, सुनील, अनीता, समा बानो, रोहित, मोहन, सीमा, मधुबाला आदि की उपस्थिति रहीं।

sanjeevni app

More From national

Loading...
Trending Now
Recommended