संजीवनी टुडे

मतदाता पांच साल की सरकार चाहते हैं, पांच महीने की नहीं : जेटली

संजीवनी टुडे 10-05-2019 20:23:38


नई दिल्ली। वित्तमंत्री एवं भारतीय जनता पार्टी(भाजपा) के वरिष्ठ नेता अरुण जेटली ने कहा कि लोकसभा चुनाव के अंतिम चरणों तक अब यह साबित हो गया है कि देश का मतदाता पांच साल की सरकार चाहता है, पांच महीने की नहीं। भाजपा अपने सहयोगियों के साथ पांच साल तक सरकार चलाने का उदाहरण पेश कर चुकी है। जबकि एक-दूसरे की टांग खींचने वाले विरोधी दल पांच महीने तक भी सरकार नहीं चला सकते।

मात्र 240000/- में टोंक रोड जयपुर में प्लॉट 9314166166

जेटली ने ‘हारे हुए लोगों की उम्मीद’ शीर्षक से एक आलेख में कहा कि मीडियाकर्मी जमीनी स्तर से जो रिपोर्ट भेज रहे हैं उससे पता चलता है कि मोदी के पक्ष में लोगों का स्पष्ट रूझान है। हवा का रुख पहचानते हुए विपक्षी दलों ने जोड़-तोड़ का प्रयास शुरू कर दिया है। विपक्षी दलों की एकमात्र आशा यह है कि चुनाव के बाद देश में त्रिशंकु सरकार बने लेकिन 23 मई को उनकी यह आशा भी चकनाचूर हो जाएगी।

जेटली ने कहा कि राहुल गांधी के दौर में कांग्रेस पार्टी दहाई की संख्या तक पहुंच गई है तथा वह दहाई से ऊपर उठने की निरर्थक कोशिश में है। जहां भाजपा और कांग्रेस में सीधी टक्कर है वहां कांग्रेस कड़ी चुनौती पेश करने की स्थिति में नहीं है। कुछ प्रांतों में क्षेत्रीय दल गठबंधन बनाकर भाजपा को चुनौती देने की कोशिश कर रहे हैं लेकिन यह असरदार नहीं है। आज का भारत बदल गया है और युवा वर्ग पुराने ढर्रे वाली जातिगत अंकगणित से ऊपर उठकर सोचता है।

भाजपा नेता ने कहा कि राहुल गांधी और अन्य कांग्रेस नेताओं का यह कहना बेमानी है कि चुनाव में राष्ट्रीय सुरक्षा कोई मुद्दा नहीं है। वास्तविकता यह है कि देशवासियों के लिए राष्ट्रीय सुरक्षा एक बड़ा मुद्दा है। आलेख के निष्कर्ष में जेटली ने कहा कि ‘मोदी बनाम अराजकता’ वाले चुनाव में मोदी को वर्ष 2014 से भी अधिक सफलता हासिल होगी।

प्लीज सब्सक्राइब यूट्यूब बटन

जेटली ने कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी के सलाहकार सैम पित्रोदा के 1984 के सिख विरोधी दंगे पर दिए गए बयान की भी तीखी आलोचना की। उन्होंने कहा कि पित्रोदा का यह कथन कि ‘हुआ तो हुआ’ से जाहिर है कि कांग्रेस को दंगों को लेकर कोई अफसोस नहीं है। उन्होंने कांग्रेस अध्यक्ष से पूछा कि क्या वह इस कथन के लिए अपने गुरु पित्रोदा को पार्टी से बाहर का रास्ता दिखाएंगे।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल पर जुड़ें

More From national

Trending Now
Recommended