संजीवनी टुडे

दिल्ली में हिंसा: IB कांस्टेबल की पीट-पीटकर हत्या, हिंसा में मरने वालों की संख्या पहुंची 20

संजीवनी टुडे 26-02-2020 17:05:29

नागरिकता संशोधन अधिनियम (सीएए) के मुद्दे पर उत्तर-पूर्वी दिल्ली में भड़की हिंसा में अब तक 20 लोगों की मौत हो चुकी है। जबकि 200 से ज्यादा लोग घायल हो चुके हैं और 12 लोगों की हालत गंभीर बनी हुई।


नई दिल्ली। नागरिकता संशोधन अधिनियम (सीएए) के मुद्दे पर उत्तर-पूर्वी दिल्ली में भड़की हिंसा में अब तक 20 लोगों की मौत हो चुकी है। जबकि 200 से ज्यादा लोग घायल हो चुके हैं और 12 लोगों की हालत गंभीर बनी हुई। बीती देर रात पूर्वी दिल्ली के चांद बाग पुलिया पर नाले से आइबी के कांस्टेबल का शव निकाला गया है। मृतक की पहचान अंकित शर्मा के रूप में हुई है। वह परिवार के साथ खजूरी में रहते थे। मंगलवार शाम को वह ड्यूटी से घर लौट रहे थे। परिवार का आरोप है कि उग्र प्रदर्शनकारियों ने चांद बाग पुलिया पर कुछ लोगों ने उन्हें घेर लिया। उनकी पीट-पीट कर हत्या कर दी। इसके बाद शव को नाले में फेंक दिया। परिजन मंगलवार से ही उनकी तलाश में थे। अंकित के पिता रविंदर शर्मा भी आइबी में हेड कांस्टेबल हैं। 

उन्होंने एक आप नेता के समर्थकों पर हत्या का आरोप लगाया है। उनका कहना है कि पिटाई के साथ अंकित को गोली भी मारी गई है। पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए जीटीबी अस्पताल भेज दिया है।

पीछे क्या हुआ उसे भूलो, कोई नई घटना ना घटे इसके लिये काम करो : अजित डोभाल 

नागरिकता संशोधन कानून के खिलाफ बिगड़ते हालत को देखते हुए राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार ( एनएसए ) के अजित डोभाल ने पुलिस के वरिष्ठ अधिकारियों से कहा कि पीछे क्या हुआ उसे भूलो, आगे आरोपितों को दबोचने और कोई नई घटना ना घटे इसके लिये काम करो। बुधवार सुबह फिर विरोधियों और समर्थक आमने-सामने आ गये। सूत्रों की माने तो जमीनी स्थिति के बारे में अजित डोभाल पीएम और मंत्रिमंडल को जानकारी देंगे। डोभाल बीती देर रात को उत्तर-पूर्वी दिल्ली के विभिन्न हिस्सों में सुरक्षा स्थिति की समीक्षा के लिए पहुंचे थे।  इस दौरान उनके साथ दिल्ली पुलिस के वरिष्ठ अधिकारी भी मौजूद रहे। वहीं एनएसए ने स्पष्ट कर दिया है कि राजधानी में अराजकता नहीं रहने दी जाएगी। 

साक्ष्य जुटाने का काम शुरू 
उत्तर पूर्वी दिल्ली जिले में तीन दिनों से मची तबाही की तह तक पहुंचने की कोशिश में पुलिस की स्पेशल सेल और क्राइम ब्रांच की टीमें जुट गई हैं। हिंसा से संबंधित जो भी साक्ष्य हैं, उन्हें जल्दी से जल्दी जुटाने का आदेश दिया गया है। क्राइम ब्रांच इस काम में जुट गई है।

यह खबर भी पढ़े: चिदंबरम ने गृह मंत्रालय और दिल्ली पुलिस पर साधा निशाना, कहा- हिंसा पुलिस की विफलता को दर्शाता है

यह खबर भी पढ़े: दिल्ली में हिंसा : मुख्यमंत्री केजरीवाल ने की सेना तैनाती की मांग

मात्र 289/- प्रति sq. Feet में जयपुर में प्लॉट बुक करें 9314166166

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल पर जुड़ें

More From national

Trending Now
Recommended