संजीवनी टुडे

CAA के खिलाफ उच्चतम न्यायालय में याचिका प्रोटोकॉल का उल्लंघन- खान

इनपुट-यूनीवार्ता

संजीवनी टुडे 16-01-2020 19:53:16

राज्यपाल ने सरकार के फैसले की आलोचना करते हुए कहा कि सीएए के खिलाफ सर्वोच्च न्यायालय जाना प्रोटोकॉल का उल्लंघन है।


तिरुवनंनतपुरम। केरल के राज्यपाल आरिफ मोहम्मद खान और मार्क्सवादी कम्युनिस्ट पार्टी (माकपा) समर्थित राज्य की वाम मोर्चा सरकार के बीच तल्ख रिश्ते एक बार फिर उस समय उजागर हुए जब राज्यपाल ने सरकार के नागरिकता संशोधन कानून (सीएए) के खिलाफ उच्चतम न्यायालय में याचिका देने पर प्रतिक्रिया देते हुए कहा कि यह प्रोटोकॉल का उल्लंघन करना है।

यह खबर भी पढ़ें: ​अभय चौटाला ने की CBI से जांच करवाए जाने की मांग

राज्यपाल ने सरकार के फैसले की आलोचना करते हुए कहा कि सीएए के खिलाफ सर्वोच्च न्यायालय जाना प्रोटोकॉल का उल्लंघन है। उन्होंने कहा कि सीएए के खिलाफ उच्चतम न्यायालय जाने से पहले सरकार को उनसे इजाजत लेने चाहिए थी।

खान ने कहा,“उच्चतम न्यायालय जाना सरकार का अधिकार है और उस न्यायालय में सीएए के खिलाफ 60 से ज्यादा याचिकाएं दायर की गयी है लेकिन कोई भी कानून से बड़ा नहीं है। संविधान के हिसाब से राज्य का मुखिया होने के नाते राज्य सरकार को अदालत जाने से पहले एक बार मुझे इसकी जानकारी देनी चाहिए थी। मुझे इसकी जानकारी नहीं दी गयी और मुझे इसके बारे में अखबार से पता चला।”

इससे पहले राज्यपाल ने सरकार द्वारा विधानसभा से सीएए के खिलाफ प्रस्ताव पारित करने को असंवैधानिक करार दिया।

जयपुर में प्लॉट मात्र 289/- प्रति sq. Feet में  बुक करें 9314166166

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल पर जुड़ें

More From national

Trending Now
Recommended