संजीवनी टुडे

वडोदरा पुलिस ने तैयार किया आई फेशियल रिकॉग्नाइज सॉफ्टवेयर, आरोपितों को पकड़ने में मिलेगी मदद

संजीवनी टुडे 03-08-2020 21:40:48

डोदरा पुलिस पहली बार आरोपितों को पकड़ने के लिए हाईटेक तकनीक अपना रही है। वडोदरा पुलिस ने एक आई फेशियल रिकॉग्नाइज सॉफ्टवेयर तैयार किया है।


गांधीनगर / वडोदरा। वडोदरा पुलिस पहली बार आरोपितों को पकड़ने के लिए हाईटेक तकनीक अपना रही है। वडोदरा पुलिस ने एक आई फेशियल रिकॉग्नाइज सॉफ्टवेयर तैयार किया है। नगर में लगे सीसीटीवी कैमरों को इस साॅफ्टवेयर से जोड़ा जायेगा। यह सॉफ्टवेयर अपराधी को खोजने में मदद करेगा। 

दरअसल, राज्य में पहली बार राज्य सरकार के गृह विभाग और वडोदरा पुलिस ने आई फेशियल रिकॉग्निशन सॉफ्टवेयर का सफल परीक्षण किया है। अब इस सॉफ्टवेयर की मदद से वडोदरा पुलिस देशभर में कुख्यात आरोपितों पर कड़ी नजर रखी जा सकेगी। इसकी खासियत यह है कि अगर कोई कुख्यात आरोपित वडोदरा की सड़क पर लगे सीसीटीवी कैमरे पर नजर आता है, तो वह पुलिस कंट्रोल रूम की एक स्क्रीन पर अलर्ट करेगा। कंट्रोल रूम में बैठे कर्मचारी पुलिस स्टेशन को सूचित करेगा। इस तरह से पुलिस आरोपित को आसानी से पकड़ सकती है। 

इस संबंध में डीसीपी संदीप चौधरी ने बताया कि वडोदरा में लगे सीसीटीवी कैमरों को आई-सॉफ्टवेयर से जोड़ा जायेगा। वडोदरा में सॉफ्टवेयर के सफल प्रयोग के बाद इस सॉफ्टवेयर को राज्यभर में उपयोग किया जाएगा। आने वाले समय में इसका प्रयोग दूसरे राज्यों में भी किया जा सकेगा। उन्होंने बताया कि आई सॉफ्टवेयर न केवल आरोपितों को पकड़ने में मदद करेगा बल्कि गुमशुदा व्यक्ति, चेन स्नेचिंग और डकैती के मामलों के आराेपित को पकड़ने में भी मदद करेगा। देशभर के आरोपितों का डेटा इस सॉफ़्टवेयर में दर्ज किया जाएगा।

यह खबर भी पढ़े: उमा भारती सरयू किनारे रहेंगी, इस वजह से भूमि पूजन कार्यक्रम में नहीं होंगी शामिल

यह खबर भी पढ़े: पूर्व लोकसभा अध्यक्ष मनोहर जोशी की पत्नी अनघा जोशी का निधन

ऐसी ही ताजा खबरों व अपडेट के लिए डाउनलोड करे संजीवनी टुडे एप

More From national

Trending Now
Recommended