संजीवनी टुडे

उत्तराखंड: धधकते जंगल बढ़ा रहे गर्मी, वनाग्नि की घटनाओं में तेजी

संजीवनी टुडे 02-06-2019 17:24:00

उत्तराखंड में पिछले एक पखवाड़े से जल रहे जंगलों से उठता धुआं हवाई सेवा के लिए भी बाधा बन रहा है धुएं के कारण लोगों को सांस तथा घुटन की समस्या हो रही है


देहरादून। उत्तराखंड में पिछले एक पखवाड़े से जल रहे जंगलों से उठता धुआं हवाई सेवा के लिए भी बाधा बन रहा है। धुएं के कारण लोगों को सांस तथा घुटन की समस्या हो रही है। इस बार जहां गर्मी अधिक बढ़ी है, वहीं जंगल भी धधक रहे हैं। अब तक लगभग 1500 के आसपास घटनाएं जंगल जलने की प्रकाश में आईं हैं। वनाग्नि की इन घटनाओं से लगभग 2150 हेक्टेयर जंगल नष्ट हो चुका है। रविवार को भी कुछ क्षेत्र के जंगल में आग लगने की खबर है।


राज्य के आठ जिलों में जंगलों के जलने का सिलसिला लगतार चल रहा है। इनमें राजधानी देहरादून भी शामिल है। देहरादून के साथ-साथ अल्मोड़ा, बागेश्वर, चंपावत, टिहरी, नैनीताल, पौड़ी, पिथौरागढ़ आदि जनपदों पर वनाग्नि का पूरा-पूरा प्रभाव है। इन जिलों में अब तक लगभग 1500 के आसपास की इन घटनाओं में 2150 हेक्टेयर जंगल पूरी तरह नष्ट हो गया है। इससे चाल-खाल (जल संरक्षण के लिए बनाया गया गड्ढा) को अधिक नुकसान पहुंचा है। इससे सिर्फ अल्मोड़ा में लगभग सवा सात सौ हेक्टेयर से अधिक जंगल खत्म हो गया है। 

प्लीज सब्सक्राइब यूट्यूब चैनल

 

नोडल अधिकारी वनाग्नि पीके सिंह ने बताया कि शनिवार को जमगलों में आग लगने की पचास से अधिक घटनाएं प्रकाश में आई थी, वहीं रविवार को भी यह घटनाएं जारी रहीं। रविवार को भी 30 से 35 स्थानों पर वनाग्नि की सूचना है। इन्हें वनकर्मी पूरी तरह आग पर काबू पाने के लिए लगे हुए हैं। तेज गर्मी तथा बरसात न होने के कारण वनाग्नि की घटनाएं बढ़ी हैं। 

मात्र 240000/- में टोंक रोड जयपुर में प्लॉट 9314188188

More From national

Trending Now
Recommended