संजीवनी टुडे

UP: कोरोना जांच में देश में पहले स्थान पर, संक्रमितों की कुल संख्या 35,97,233

संजीवनी टुडे 14-08-2020 15:27:06

प्रदेश में कोरोना के तेजी से बढ़ रहे संक्रमण के बीच योगी सरकार ने बड़ी उपलब्धि हासिल की है। राज्य में प्रतिदिन होने वाले कोरोना टेस्ट की संख्या में लगातार इजाफा करने


लखनऊ। प्रदेश में कोरोना के तेजी से बढ़ रहे संक्रमण के बीच योगी सरकार ने बड़ी उपलब्धि हासिल की है। राज्य में प्रतिदिन होने वाले कोरोना टेस्ट की संख्या में लगातार इजाफा करने के फलस्वरूप उत्तर प्रदेश अब देश में कुल जांच के मामले में पहले स्थान पर पहुंच गया है।

राज्य में शुक्रवार को प्रदेश की विभिन्न प्रयोगशालाओं में कुल  96,106 कोरोना नमूनों की जांच की गई। इसे मिलाकर कुल जांच का आंकड़ा अब 35,97,233 पहुंच गया है, जो देश में सर्वाधिक है। इस तरह उत्तर प्रदेश को बड़ी सफलता हासिल हुई है। कुछ दिनों पहले तक उत्तर प्रदेश सिर्फ तमिलनाडु से पीछे चल रहा था। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने इसके लिए अधिकारियों को लगातार जांच संख्या बढ़ाने के निर्देश दिए थे। उन्होंने जोखिम क्षेत्र (कंटेनमेंट जोन) में सभी लोगों का कोविड टेस्ट कराने को कहा, जिससे इस क्षेत्र बनाने का उद्देश्य पूरा हो सके। इसके बाद कोरोना जांच संख्या की रफ्तार और तेज हो सकेगी।

चिकित्सा शिक्षा मंत्री सुरेश कुमार खन्ना के मुताबिक कोरोना संक्रमण को लेकर सरकार गम्भीरता से काम कर रही है और इसके बेहतर नतीजे सामने आये हैं। टेस्टिंग कार्य में वृद्धि लाये जाने के लिए इस माह के अन्त तक 10 बीएसएल लैब और तैयार हो जाएंगी। 

राज्य के अपर मुख्य सचिव चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अमित मोहन प्रसाद के मुताबिक जब टेस्टिंग शुरू की गई थी तब से 24 जून तक कुल 6,03,390 लाख नमूनों की जांच हुई थी। वहीं 24 जून से 30 जुलाई के बीच 16 लाख से अधिक नमूनों की जांच हुई और आंकड़ा 22,09810 पहुंच गया। इसके बाद प्रदेश में जांच की संख्या में और इजाफा किया गया और कई बार एक दिन में एक लाख से अधिक जांच भी की गई। बीते दिनों प्रदेश ने कुल 34 लाख जांच का आंकड़ा पार किया और फिर 35 लाख तक पहुंचने के बाद 15 अगस्त से पहले देश में पहले पायदान पर पहुंच गया है। 

प्रदेश सरकार के मुताबिक 01 अगस्त से 11 अगस्त के बीच जो टेस्ट किए गए हैं उसमें पॉजिटिविटी का प्रतिशत 4.8 प्रतिशत है। इस महीने भी पॉजिटिविटी 05 प्रतिशत से कम बनी हुई है। संक्रमण की संख्या ज्यादा होने के बाद भी उत्तर प्रदेश ऐसा करने में सफल रहा है। भारत सरकार की ओर से पॉजिटिविटी 05 प्रतिशत से कम करने की कोशिश की बात कही जाती है। प्रदेश में सबसे ज्यादा पॉजिटिविटी जिन पांच जनपदों में देखी गई उसमें कानपुर नगर, गोरखपुर, देवरिया, महराजगंज और लखनऊ शामिल हैं। वहीं सबसे कम पॉजिटिविटी वाले पांच जनपद हाथरस, बागपत, महोबा, कासगंज, बुलंदशहर है। 

प्रदेश में कुल कोरोना जांच का रिकॉर्ड
13 अगस्त-35,01,127
12 अगस्त-34,12,346
11 अगस्त-33,14,435
10 अगस्त-32,09,587

यह खबर भी पढ़े: मंदिर परिसर में साधु ने फांसी लगाकर की खुदकुशी, जांच में जुटी पुलिस

यह खबर भी पढ़े: Sadak 2 के ट्रेलर को यूट्यूब पर नहीं किया गया पसंद, मिले सबसे ज्यादा डिसलाइक

ऐसी ही ताजा खबरों व अपडेट के लिए डाउनलोड करे संजीवनी टुडे एप

More From national

Trending Now
Recommended