संजीवनी टुडे

अयोध्या पहुंचे उद्धव ठाकरे, संत समाज ने कहा- यहां पूजा-अर्चना करें, राजनीति नहीं

संजीवनी टुडे 17-06-2019 08:11:00

उद्धव ठाकरे ने पूजा-अर्चना के बाद कहा कि अयोध्या में सरकार को राम मंदिर का निर्माण जल्द से जल्द करना होगा। सरकार को राम मंदिर निर्माण के लिए अध्यादेश लाना चाहिए। इस बीच अयोध्या के संत समाज ने कहा कि अगर उद्धव ठाकरे दर्शन के लिए आएं हैं तो ठीक है, मगर इसे राजनीतिक आखाड़ा न बनाएं।


नई दिल्ली। शिवसेना प्रमुख उद्धव ठाकरे रविवार सुबह अयोध्या पहुंचे। उन्होंने सेना के नवनिर्वाचित 18 सांसदों के साथ रामलला के दर्शन किये। शिवसेना के सभी सांसद भी अयोध्या पहुंचे। उद्धव ठाकरे ने पूजा-अर्चना के बाद कहा कि अयोध्या में सरकार को राम मंदिर का निर्माण जल्द से जल्द करना होगा। सरकार को राम मंदिर निर्माण के लिए अध्यादेश लाना चाहिए। इस बीच अयोध्या के संत समाज ने कहा कि अगर उद्धव ठाकरे दर्शन के लिए आएं हैं तो ठीक है, मगर इसे राजनीतिक आखाड़ा न बनाएं। 

We have full faith soon will be the construction of Ram Temple Uddhav Thackeray

मणिरामदास छावनी के उत्तराधिकारी कमल नयन दास ने कहा, "रामजी के दर्शन के लिए जो भी भक्त आए, अच्छी बात है। इसी क्रम में ये भी लोग आए होंगे। हमारा संकल्प है कि रामभूमि के साथ परिवेश बनाएंगे।"संत समिति के अध्यक्ष महंत कन्हैयादास रामायणी ने कहा कि अब देरी बर्दाश्त नहीं है। भगवान राम को कांग्रेस ने 35 वर्ष तक जेल में बंद रखा, आज भी उसकी मानसिकता बदली नहीं है। जब राम मंदिर बनेगा, तभी हमें धार्मिक स्वतंत्रता मिलेगी। दर्शन-पूजन के लिए कोई आए, मनाही नहीं है। बस इस विषय को राजनीति से दूर रखा जाए।  

?????

हनुमान गढ़ी के महंत राजू दास ने कहा कि अयोध्या अभी तक उपेक्षित रहा है। योगी अदित्यनाथ के मुख्यमंत्री बनने के बाद से ही यहां हलचल बढ़ी है। उद्धव ठाकरे आए तो अच्छी बात है, स्वागत है। वह एक भक्त बनकर आएं तो अच्छी बात है। इस बार उनकी पार्टी के सांसदों की संख्या ठीक-ठाक है। इस मुद्दे को उनके सांसद संसद में उठाएं, तब पता चलेगा कि इस पक्ष में कितने लोग हैं। रामलला परिसर को राजनीति के आखाड़े से दूर ही रखें तो बेहतर होगा। 

प्लीज सब्सक्राइब यूट्यूब बटन

 

अयोध्या में राम जन्मभूमि-बाबरी मस्जिद विवाद में पक्षकार इकबाल अंसारी ने कहा कि राम जन्मभूमि को लेकर दोनों पक्षों को अदालत के फैसले का इंतजार करना चाहिए। अयोध्या धर्म नगरी है। अयोध्या में आकर सरयू स्नान, हनुमानगढ़ी और रामलला के दर्शन करना अच्छी बात है। उन्होंने कहा कि शिवसेना प्रमुख का 18 सांसदों के साथ अयोध्या आना धर्म का काम नहीं, बल्कि राजनीति है। 

मात्र 260000/- में टोंक रोड जयपुर में प्लॉट 9314166166

More From national

Trending Now
Recommended