संजीवनी टुडे

कृषि बिल के विरोध में आज किसानों का 'भारत बंद', इन राज्यों पर दिखेगा प्रभाव

संजीवनी टुडे 25-09-2020 13:11:17

केंद्र सरकार की तरफ से लाये गये कृषि संबंधित विधेयकों के विरोध में किसानों ने आज मतलब 25 सितंबर को भारत बंद का आह्वान किया है।


नई दिल्ली। केंद्र सरकार की तरफ से लाये गये कृषि संबंधित विधेयकों  के विरोध में किसानों ने आज मतलब 25 सितंबर को भारत बंद का आह्वान किया है। यूपी, हरियाणा, पंजाब, राजस्थान एवं दूसरे राज्य के किसानों ने इस बंद को कामयाब बनाने का संकल्प लिया है। दरअसल भारतीय किसान यूनियन एवं अखिल भारतीय किसान संघर्ष समन्वय समिति ने बीते बुधवार को ही 25 सितंबर को भारत बंद का ऐलान किया था। अनेक राज्य के किसान इन बिल के विरोध में सड़कों पर उतर आए हैं, प्रमुख विपक्षी दल कांग्रेस ने भी बिल के विरोध में देशव्यापी प्रदर्शन की योजना तैयार की है। 

बता दें कि हरियाणा के पानीपत से दिल्ली जा रहे किसानों को पिछले बुधवार को बॉर्डर पर ही रोक दिया गया था। उन्हें रोकने हेतु हरियाणा पुलिस को आंसू गैस के गोले छोड़ने पड़े थे एवं पानी की बौछार भी करनी पड़ी थी। साथ ही अनेक किसानों को हिरासत में भी ले लिया गया है। 

मोदी सरकार के जरिए लाये गये कृषि से संबंधित तीन विधेयकों के विरुद्ध नयी अनाज मंडी में प्रदर्शन कर रहे किसानों और आढ़तियों से मिलने मंगलवार को पहुंचे अखिल भारतीय किसान सभा के हरियाणा राज्य प्रधान फूल सिंह श्योकंद ने बताया कि यह खेती को तबाह करने की साजिश है। उन्होंने यहां जुलाना में धरना स्थल पर किसानों, आढ़तियों से 25 सितंबर को भारत बंद में बढ़-चढ़कर भाग लेने का आह्वान किया। 

राज्य प्रधान फूल सिंह श्योकंद के मुताबिक, भाजपा सरकार ने कृषि संबंधी विधेयकों को पारित नहीं किए बल्कि जबरदस्ती की है। लोकसभा में बीजेपी का बहुमत है, इसलिए वहां यह पारित हुआ किन्तु राज्यसभा में दो विधेयकों को पारित करना खेल करने के समान हैं क्योंकि विधेयकों पर मतदान नहीं हुआ बल्कि बीजेपी ने जबरदस्ती तथा तानाशाही ढंग से इन्हें पारित कराया। 

अलीगढ़ में किसानों ने कृषि विधेयकों के विरुद्ध किया प्रदर्शन
कृषि विधेयकों के विरुद्ध सैकड़ों किसानों ने बीते बुधवार को यूपी के अलीगढ़ जिले में विरोध मार्च निकाला। टप्पल में एक चौराहे पर भारी संख्या में तैनात पुलिसकर्मियों ने भारतीय किसान यूनियन के बैनर तले मार्च कर रहे प्रदर्शनकारियों को यमुना एक्सप्रेस-वे पर प्रवेश करने से रोका। एसडीएम अंजनी कुमार ने प्रदर्शनकारियों को यह भरोसा दिलाया कि उनकी मांगों को राज्य सरकार तक पहुंचाया जायेगा। 

कृषि बिल के विरुद्ध सपा का ज्ञापन सौंपो अभियान
समाजवादी पार्टी (सपा) किसानों तथा श्रमिकों के हितों पर आघात पहुंचाने वाले कानूनों के विरोध में आज प्रदेशव्यापी अभियान के तहत जिलाधिकारियों के माध्यम से राज्यपाल को संबोधित ज्ञापन सौंपेगी। सपा के राष्ट्रीय सचिव एवं प्रवक्ता राजेंद्र चौधरी ने बीते वीरवार को कहा है कि दल के अध्यक्ष और प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव के निर्देश पर सपा कार्यकर्ता किसानों एवं श्रमिकों के हितों पर आघात पहुंचाने वाले कृषि एवं श्रम कानूनों के विरोध में आज सभी जिलों में दो गज की दूरी बनाए रखते हुए जिलाधिकारी के माध्यम से राज्यपाल आनंदीबेन पटेल को सम्बोधित ज्ञापन प्रदान करेंगे। 

इन राज्यों में देखने को मिल सकता है 'भारत बंद' का प्रभाव 
भारतीय किसान यूनियन के प्रवक्ता तथा यूपी के किसान नेता राकेश टिकैत ने बताया है कि कृषि विधेयकों के विरोध में पूरे देश में आज चक्का जाम रहेगा। जिसके तहत पंजाब, हरियाणा, यूपी, एमपी, छत्तीसगढ़, उत्तराखंड, महाराष्ट्र, कर्नाटक सहित लगभग पूरे देश के किसान संगठन इस बंद को कामयाब बनाने की कोशिश करेंगे। 

किसान संगठनों ने भारत सरकार से इन विधेयकों को किसान विरोधी और कॉरपोरेट को लाभ पहुंचाने वाले विधेयक करार देते हुए, इन्हें वापस लेने एवं निणर्यों के न्यूनतम समर्थन मूल्य (एमएसपी) की गारंटी देने हेतु कानूनी प्रावधान करने की मांग की है। 

यह खबर भी पढ़े: कृषि बिल के खिलाफ किसानों का भारत बंद, तेजस्वी ने निकाली ट्रैक्टर रैली

ऐसी ही ताजा खबरों व अपडेट के लिए डाउनलोड करे संजीवनी टुडे एप

More From national

Trending Now
Recommended