संजीवनी टुडे

मुरैना जिले में एक लाख पौधा रोपण का लक्ष्य करना है पूरा : आयुक्त

संजीवनी टुडे 04-07-2019 17:03:19

भू-जल स्तर को बढ़ाने के साथ-साथ शुद्ध पर्यावरण रखने के लिए पौधों का होना बहुत जरूरी है। मुरैना जिले में इस उद्देश्य की पूर्ति के लिये इस वर्षाकाल में एक लाख पौधों का रोपण करने का लक्ष्य निर्धारित किया गया है।


मुरैना। भू-जल स्तर को बढ़ाने के साथ-साथ शुद्ध पर्यावरण रखने के लिए पौधों का होना बहुत जरूरी है। मुरैना जिले में इस उद्देश्य की पूर्ति के लिये इस वर्षाकाल में एक लाख पौधों का रोपण करने का लक्ष्य निर्धारित किया गया है। इसमें प्रशासन, पुलिस, वन विभाग तथा पत्रकार व गणमान्य नागरिक शामिल होंगे। उल्‍लेखनीय है कि पौधारोपण के लिए शासकीय अशासकीय दस स्थानों का चयन किया गया है। पौधों का सुरक्षित होना तथा उनकी देखभाल के लिये इन संस्था प्रमुखों को दायित्व सौंपा गया है। गुरुवार को पांच सैकड़ा से अधिक पौधों का रोपण पांचवीं वाहिनी के परिसर में किया गया। 

इनमें पीपल, बड़, नीम सहित अन्य कई प्रजातियों के पौधे रोपित किये गये हैं। विगत दो दिवस मेें हुई वर्षा के बाद भूमि में नमी को देखते हुये जिला प्रशासन द्वारा चम्बल संभाग आयुक्त श्रीमती रेनू तिवारी के मार्गदर्शन में एसएएफ की पांचवीं बटालियन के रिक्त मैदान पर पांच सैकड़ा से अधिक छायादार, फलदार पौधों का रोपण किया गया। इसमें जिला कलेक्टर श्रीमती प्रियंका दास, जिला वनमण्डल अधिकारी पीडी ग्रेवियल, अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक आशुतोष बागरी, पांचवीं वाहिनी की सैनानी वाहनी सिंह सहित गणमान्य नागरिक, पत्रकार, अधिकारी कर्मचारी व पुलिसकर्मी शामिल हुये। 

चम्बल संभाग आयुक्त श्रीमती रेनू तिवारी ने बताया कि पौधों के वृक्ष बनने के बाद मानव को स्वस्थ्य जीवन के लिये ऑक्सीजन मिलेगी। साथ ही पर्यावरण भी शुद्ध रहेगा। वर्तमान में गिर रहे भू-जल स्तर में वृद्धी होगी। इस अवसर पर जिला कलेक्टर श्रीमती प्रियंका दास ने कहा कि मुरैना जिले में उन्हीं स्थानों पर पौधरोपण करने की योजना बनाई है, जहां इनकी पर्याप्त देखभाल तथा सुरक्षा हो सके। इसके लिये जिला वन मण्डल अधिकारी पीडी ग्रेवियल ने अनेक स्थानों का चयन किया है। मुरैना जिला मुख्यालय पर एसएएफ परिसर, आयुक्त कार्यालय, नवीन कलेक्ट्रेट कार्यालय, विक्टर स्कूल परिसर सहित दस स्थान प्रमुख हैं। प्रशासन व वन विभाग का उद्देश्य इन पौधों को खड़े होने तक सुरक्षित रखने के लिये संस्थाओं को जिम्मेदारी दी गई है। पौधों के रोपण का कार्य वन विभाग की देखरेख में किया जा रहा है। 

मात्र 260000/- में टोंक रोड जयपुर में प्लॉट 9314166166

More From national

Trending Now
Recommended