संजीवनी टुडे

गठबंधन पर अंतिम फैसला 14 को लेगी कांग्रेस

संजीवनी टुडे 08-11-2018 18:19:00


कोलकाता। प्रदेश कांग्रेस कमेटी 2019 के आम चुनाव से पहले पश्चिम बंगाल में वाममोर्चा या तृणमूल में से किसी एक पार्टी के साथ चुनावी गठबंधन कर सकती हैै। गुरुवार को इसका संकेत पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष सोमेन मित्रा ने दिया है। नोटबंदी की दूसरी बरसी पर आयोजित एक कार्यक्रम के दौरान राज्य में 2019 से पहले संभावित गठबंधन के बारे में पूछे गए एक सवाल के जवाब में उन्होंने कहा कि इस बारे में वह तय नहीं कर सकते हैं कि पार्टी किसके साथ गठबंधन करेगी।

 इसका फैसला कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी लेंगे। हालांकि उन्होंने कहा कि आगामी 13 और 14 नवंबर को प्रदेश कांग्रेस मुख्यालय विधान भवन में पार्टी की अहम बैठक होनी है जिसमें राज्य भर से कांग्रेस पदाधिकारियों को बुलाया गया हैै। इसके अलावा इसमें पश्चिम बंगाल और पूर्वोत्तर के कांग्रेस प्रभारी गौरव गोगोई सहित केंद्रीय स्तर के कुछ नेता भी शामिल होंगे। 

दो दिनों तक प्रदेश कांग्रेस मुख्यालय में रणनीतिक बैठक होगी जिसमें संभावित गठबंधन समेत राज्य में पार्टी की स्थिति मजबूत करने और लोकसभा चुनाव के दौरान लोगों के बीच मजबूती से अपना पक्ष रखने की रणनीति बनाई जाएगी। इसमें ही पार्टी की चुनावी गतिविधियों पर अंतिम मुहर लगेगी। सोमेन के इस बयान के बाद अंदाजा लगाया जा रहा है कि माकपा या तृणमूल कांग्रेस में से किसी एक से चुनावी समझौते पर अंतिम फैसला लिया जा सकता है।

उल्लेखनीय है कि गत महीने सॉल्ट लेक में सीबीआई दफ्तर का घेराव करने के दौरान माकपा के राज्य महासचिव सूर्यकांत मिश्रा ने लोकसभा चुनाव में कांग्रेस को बिना शर्त समर्थन की घोषणा की थी एवं कहा था कि आज सबसे बड़ी जरूरत केंद्र की सत्ता से भाजपा को उखाड़ फेंकना है। सोमेन ने इस समर्थन का स्वागत किया था लेकिन दूसरी ओर मालदा जिले से सांसद मौसम नूर और अबुल हसन खान चौधरी ने तृणमूल कांग्रेस का समर्थन लेने की घोषणा की थी।

 गनी खान चौधरी जैसे दिंवंगत दिग्गज कांग्रेस नेता के परिवार से संबंध रखने वाले दोनों सांसदों ने कहा था कि लोकसभा चुनाव से पहले अगर पार्टी पश्चिम बंगाल में ममता बनर्जी के साथ समझौता नहीं करती है तो अस्तित्व बचाना भी मुश्किल होगा। हालांकि सोमेन ने इन दोनों सांसदों के इस दावे को उनकी व्यक्तिगत राय बताया था लेकिन सूत्रों के हवाले से बताया गया है कि पार्टी में एक धड़ा माकपा के साथ गठबंधन के पक्ष में है तो दूसरा तृणमूल के साथ। ऐसे में 13 और 14 नवंबर को प्रदेश कांग्रेस मुख्यालय में होने वाली बैठक में इसपर अंतिम फैसला हो सकता है। 

sanjeevni app

More From national

Loading...
Trending Now
Recommended