संजीवनी टुडे

कर्नाटक के नाटक का हुआ अंत, कुमारस्वामी नहीं बचा पाए अपनी सरकार

संजीवनी टुडे 23-07-2019 20:08:12

कर्नाटक में मुख्यमंत्री एच डी कुमारस्वामी की सरकार मंगलवार को विश्वास मत हासिल करने में विफल रही।


बेंगलुरु। कर्नाटक में मुख्यमंत्री एच डी कुमारस्वामी की सरकार मंगलवार को विश्वास मत हासिल करने में विफल रही।

श्री कुमारस्वामी द्वारा सदन में पेश विश्वास मत प्रस्ताव के समर्थन में 99 मत पड़े जबकि इसके विरोध में 105 सदस्यों ने वोट डाले।इसके साथ ही कांग्रेस-जनता दल (एस) गठबंधन की 13 माह पुरानी सरकार गिर गयी।

14 महीने में ही गिरी कुमारस्वामी सरकार

कुमारस्वामी की सरकार 23 मई 2018 को बनी थी लेकिन यह 23 जुलाई 2019 को गिर गई। 

कर्नाटक विधानसभा में सदस्यों की कुल संख्या 224 है। इनमें से सिर्फ 204 विधानसभा सदस्यों ने वोट किया। उनमें से 99 ने विश्वासमत के पक्ष में वोट किया जबकि 105 ने विपक्ष में वोट किया। जबकि 19 सदस्य वोटिंग के दौरान गैर-हाजिर रहे।

कुमारस्वामी बोले- सरकार का नहीं था कोई लालच

इससे पहले, विश्वासमत पर चर्चा के दौरान एचडी कुमारस्वामी ने कहा कि कहा कि उनके बारे में नकारात्मक रिपोर्ट्स से वे काफी आहत हुए और वे खुशी-खुशी पद छोड़ देते। सरकार के बारे में बोलते हुए मुख्यमंत्री ने कहा कि उन्होंने एक ऐसी सरकार चलाई जिस पर लगातार गिरने का बादल मंडरा रहा था।

सदन में बहुमत साबित करने के दौरान बहस में बोलते हुए कर्नाटक के मुख्यमंत्री एचडी कुमारस्वामी ने कहा कि उन्होंने सरकार बचाने के लिए काफी जद्दोजहद की क्योंकि सदन के नए नेताओँ ने उनसे इसकी अपील की थी। 

कर्नाटक विधानसौदा में बहुमत को लेकर चल रही बहस के दौरान मुख्यमंत्री एचडी कुमारस्वामी ने खुद को राज्य का एक्सीडेंटल सीएम बताया। काफी मुश्किल घड़ी में सरकार बचाने की अपनी कड़ी मेहनत को बताते हुए कुमारस्वामी ने कहा कि उस वक्त हमने सरकार चलाई जब यह लगातार कयासबाजी हो रही थी कि सरकार गिर रही है।

कुमारस्वामी ने कहा- ऐसा लगा जैसे एक्सीडेंटल सीएम हूं

उन्होंने कहा- पिछले करीब चौदह महीने से हमने उस स्थिति में सरकार चलाई है जब लगातार सरकार गिरने की कयासबाजी हो रही थी। मैं अथॉरिटीज को धन्यवाद करना चाहता हूं जिन्होंने निश्चित समय-सीमा के साथ काम किया, जो बीजेपी ने हमें दिया था। उन्होंने दिन-रात काम किया और अगर हमने इन महीनों के दौरान कुछ किया तो वे सब उनकी बदौलत किया है।

-बेंगलुरू के पुलिस कमिश्नर आलोक कुमार ने कहा- आज और कल हम शहर में धारा 144 लागू करने जा रहे हैं। सभी पब और शराब की दुकानें 25 तक बंद रहेंगी। अगर कोई इस नियम का उल्लंघन करते हुए पाया जाता है तो उन्हें सजा दी जाएगी।

-कुमारस्वामी ने कहा कि मैं काफी संवेदनशील और भावनात्मक व्यक्ति हूं। जब मैनें अपने खिलाफ रिपोर्ट देखी तो मैं इस सोच में पड़ गया कि क्या मुझे मुख्यमंत्री होना चाहिए। मेरी भावना आहत हूं और खुशी-खुशी मैं पद छोड़ दूंगा।

-कुमारस्वामी ने ऋण माफी पर लोगों का ध्यान खींचते हुए कहा- प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने लोकसभा चुनावों के दौरान यह कहा था कि ऋण माफी विफल योजना थी। इस योजना के लिए दो बजट में हमने 25 हजार करोड़ रुपये दिए। कांग्रेस नेता सिद्धारमैया की तरफ से 2018 के फरवरी बजट में जो भी घोषणा की गई थी, हमने किसी में कोई कटौती नहीं की।

गोवर्मेन्ट एप्रूव्ड प्लाट व फार्महाउस मात्र रु. 2600/- वर्गगज, टोंक रोड (NH-12) जयपुर में 9314166166

More From national

Trending Now
Recommended