संजीवनी टुडे

दिल्ली हाईकोर्ट ने कहा- सरकार खाना, नौकरी नहीं दे सकती तो भीख मांगना कैसे अपराध

संजीवनी टुडे 18-05-2018 09:40:55


नई दिल्ली। दिल्ली हाईकोर्ट ने एक याचिका पर सुनवाई करते हुए कहा कि अगर सरकार देश में भोजन या नौकरी देने में असमर्थ है तो भीख मांगना अपराध कैसे हो सकता है। भीख मांगने को अपराध की श्रेणी से बाहर रखने की याचिका पर सुनवाई करते हुए कहा।

चीफ जस्टिस गीता मित्तल और जस्टिस सी. हरिशंकर की पीठ ने कहा कि एक व्यक्ति केवल अपनी जरूरतों की पूर्ति के लिए भीख मांगता है। बेंच ने कहा कि अगर कोई हमसे एक करोड़ रुपये की पेशकश करे तो क्या आप या हम भीख नहीं मांगेंगे। एक देश में सरकार भोजन या नौकरी देने में असमर्थ है तो भीख मांगना अपराध कैसे हो सकता है। 

जयपुर में प्लॉट मात्र 2.40 लाख में call: 09314166166

MUST WATCH

यदि गरीबी के कारण ऐसा किया गया है तो भीख मांगना अपराध नहीं होना चाहिए और भीख मांगने को अपराध की श्रेणी से बाहर नहीं किया जाएगा। बता दें राजधानी में भिखारियों को आधारभूत मानवीय और मौलिक अधिकार देने का आग्रह किया गया।  

Rochak News Web

More From national

Trending Now
Recommended