संजीवनी टुडे

स्वतंत्रता के लिए लड़े भारतीय सैनिकों के योगदान को भुलाया नहीं जा सकता : उपराष्ट्रपति

संजीवनी टुडे 10-11-2018 20:52:55


नई दिल्ली। उपराष्ट्रपति एम. वेंकैया नायडू ने शनिवार को प्रथम विश्वयुद्ध में अपना योगदान देने वाले भारतीय सैनिकों की याद में बनाए गए प्रथम विश्वयुद्ध मेमोरियल का उद्घाटन किया। इस अवसर पर उन्होंने कहा कि मानव स्वतंत्रता के लिए लड़े भारतीय सैनिकों के प्रथम विश्वयुद्ध में योगदान को कभी नहीं भुलाया जा सकता।

फ्रांस की राजधानी पेरिस से 200 किलोमीटर दूर स्थित शहर विल्लर्स गुईसलैन (फ्रांस) में यह वार मेमोरियल बनाया गया है। उपराष्ट्रपति ने प्रथम विश्वयुद्ध में सर्वोच्च बलिदान देने वाले भारतीय सैनिकों को पुष्पचक्र अर्पित कर श्रद्धांजलि दी। इस कार्यक्रम में शहर के मेयर जेरेड अल्लार्ट, फ्रांस में भारत के राजदूत विनय क्वात्रा और भारतीय समुदाय कुछ लोग मौजूद थे।

यह भारत सरकार की ओर से फ्रांस में बनाया गया पहला मेमोरियल है जिसके उद्घाटन का भारत और फ्रांस के सैनिकों सहित स्थानीय लोग बारिश होने के बावजूद प्रत्यक्षदर्शी बने। इस अवसर पर उपराष्ट्रपति ने कहा कि भारतीय मेमोरियल फ्रांस के साथ विश्वयुद्ध में शहीद हुए सैनिकों की याद में भारत की एकजुटता दर्शाता है। उन्होंने कहा कि 100 साल पहले इसी स्थान पर भारतीय सैनिकों ने जर्मन सैनिकों का सामना किया। यह लड़ाई भारत की अपनी लड़ाई नहीं थी, लेकिन फिर भी भारतीय सैनिकों ने मानव स्वतंत्रता और स्वायत्तता के लिए यह लड़ाई लड़ी। उन्होंने कहा कि भारत के बेटे-बेटियां दुनिया के दूसरे कोने में भी हमेशा सही के साथ खड़े रहकर कठिन परिस्थितियों का सामना करने के लिए तैयार

2.40 लाख में प्लॉट जयपुर: 21000 डाउन पेमेन्ट शेष राशि 18 माह की आसान किस्तों में Call:09314166166

MUST WATCH & SUBSCRIBE

रहते हैं।

More From national

Loading...
Trending Now
Recommended