संजीवनी टुडे

गठबंधन तो टूटा ही, बुआ-बबुआ का रिश्ता भी टूटा गया : चाहर

संजीवनी टुडे 26-06-2019 21:32:46

उत्तर प्रदेश की फतेहपुर सीकरी लोकसभा क्षेत्र से भाजपा सांसद राजकुमार चाहर ने बुआ-बबुआ गठबंधन के टूटने पर जबरदस्त प्रहार करते हुए कहा है कि यह गठबंधन दो राजनैतिक दलों के बीच न होकर अपने आपको बचाने के लिए स्वार्थ का गठबंधन था।


फरीदाबाद। उत्तर प्रदेश की फतेहपुर सीकरी लोकसभा क्षेत्र से भाजपा सांसद राजकुमार चाहर ने बुआ-बबुआ गठबंधन के टूटने पर जबरदस्त प्रहार करते हुए कहा है कि यह गठबंधन दो राजनैतिक दलों के बीच न होकर अपने आपको बचाने के लिए स्वार्थ का गठबंधन था। उन्होंने कहा कि बसपा व सपा का गठबंधन तो टूटा ही साथ ही बुआ और बबुआ का व्यक्तिगत रिश्ता भी टूटा गया। चाहर बुधवार को फरीदाबाद लोकसभा क्षेत्र से पूर्व सांसद स्व. रामचंद्र बैंदा के पुत्र दयानंद बैंदा के सैक्टर-14 स्थित निवास पर आयोजित सम्मान समारोह में उपस्थित क्षेत्र के मौजिज लोगों को सम्बोधित कर रहे थे।

 चाहर का दयानंद बैंदा व भाजपा के जिलाध्यक्ष गोपाल शर्मा द्वारा सम्मानजनक पगड़ी व चांदी का मुकुट बांधकर सम्मान किया गया।  चाहर ने कहा कि लोकसभा चुनाव से पूर्व स्वार्थ की धरातल पर बने इस गठबंधन के संदर्भ में प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने पहले ही भविष्यवाणी कर दी थी कि लोकसभा चुनाव के बाद यह गठबंधन अपने आप टूट जाएगा और हुआ भी कुछ वैसा ही। राजनैतिक गठबंधन तो बनते और टूटते है पर व्यक्तिगत संबंध नहीं टूटने चाहिए किन्तु मायावती और अखिलेश ने व्यक्तिगत संबंधों की भी परवाह नहीं की। उन्होंने कहा कि गेस्ट हाऊस काण्ड में भाजपा कार्यकर्ता ब्रह्मदत्त द्विवेदी ने ही सपा कार्यकर्ताओं से मायावती की जान बचाई थी। 

लोकसभा क्षेत्र से अपने निकटतम प्रतिद्वन्द्वी व सिने अभिनेता राज बब्बर को हराने के संदर्भ में उनका कहना था कि वह जमीन से जुड़े हुए थे तथा आम आदमी के बीच से निकले हुए उनके अपने थे, जबकि राज बब्बर फतेहपुर सीकरी केवल चुनाव लडऩे के उद्देश्य से आए थे। सबसे बड़ी बात यह है कि एक तो फतेहपुर सीकरी के लोगों को उनके बीच का आदमी मिल गया था तथा दूसरे प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी की सुनामी चल रही थी। सम्मान समारोह में पहुंचने पर दयानंद बैंदा ने क्षेत्र के मौजिज लोगों का आभार जताया। 

मात्र 260000/- में टोंक रोड जयपुर में प्लॉट 9314166166

More From national

Trending Now
Recommended