संजीवनी टुडे

सुषमा को मिला आईओसी की बैठक का निमंत्रण, भारत ने किया स्वीकार

संजीवनी टुडे 23-02-2019 22:02:13


नई दिल्ली। संयुक्त अरब अमीरात ने विदेश मंत्री सुषमा स्वराज को इस्लामिक सहयोग संगठन (ओआईसी) के विदेश मंत्रियों की आबू धाबी में एक और दो मार्च को होने वाली बैठक में आमंत्रित किया है। विदेश मंत्रालय ने इस निमंत्रण को स्वीकार भी कर लिया है। ओआईसी 57 सदस्यीय मुस्लिम बहुसंख्यक देशों का समूह है। सुषमा स्वराज ओआईसी के विदेश मंत्रियों की 46वीं बैठक के उद्घाटन सत्र में विशेष अतिथि के तौर पर भाग लेंगी। इस निमंत्रण को पाकिस्तान के खिलाफ एक बड़ा राजनयिक प्रहार माना जा रहा है। पाकिस्तान हमेशा से संगठन में भारत की भागीदारी का विरोध करता रहा है। भारत दुनिया का तीसरा सबसे बड़ा मुस्लिम आबादी वाला देश है।

जयपुर में प्लॉट मात्र 2.30 लाख में Call On: 09314188188

विदेश मंत्रालय की ओर से जारी वक्तव्य में शनिवार को कहा गया है कि यूएई के विदेश मंत्री शेख अब्दुल्ला बिन जायद अल नहान की ओर से सुषमा स्वराज को उद्घाटन सत्र में संबोधित करने का निमंत्रण दिया गया। विदेश मंत्रालय ने निमंत्रण पर खुशी जाहिर करते हुए इसे स्वीकार किया है। इस निमंत्रण को कई दृष्टिकोण से महत्वपूर्ण माना जा रहा है। पहला तो यह कि यह एक इस्लामिक सम्मेलन है और दुनिया का दूसरा सबसे बड़ा अंतर-सरकारी संगठन भी। इससे भारत के संयुक्त अरब अमीरात और सऊदी अरब के साथ संबंध अधिक मजबूत होंगे। 

MUST WATCH & SUBSCRIBE

इसके अलावा ओआईसी जम्मू कश्मीर पर पाकिस्तान के नजरिए से सहमति जताता रहा है कि इस निमंत्रण से उसकी स्वीकार्य सोच में बदलाव के आसार हैं। इससे भारत-पाकिस्तान के बीच एक और संघर्ष की शुरुआत हो गई मानी जा रही है। दूसरी ओर कांग्रेस पार्टी ने शनिवार को सरकार के इस निमंत्रण को स्वीकार करने पर आश्चर्य जताया है। उसका कहना है कि यह अप्रभावी प्रयास है। कांग्रेस के वरिष्ठ नेता आनंद शर्मा ने कहा है कि ओआईसी भारत को एक ऑब्जर्वर के तौर पर रखना चाहता है, जबकि भारत की मुस्लिम आबादी को देखते हुए इसे पूर्ण सदस्य का दर्जा दिया जाना चाहिए। उन्होंने प्रधानमंत्री और विदेश मंत्री से अनुरोध किया कि वह भारत की इसपर पहले से स्वीकार्य स्थिति पर बना रहे। 

More From national

Trending Now
Recommended