संजीवनी टुडे

सुभाष चंद्र बोस जयंती: जानिए नेताजी के जीवन से जुडी कुछ अहम बातें

संजीवनी टुडे 23-01-2020 12:50:40

नेताजी सुभाष चंद्र बोस का नाम भारत के महानतम स्वतंत्रता सेनानी के रूप में इतिहास में अमर है। तुम मुझे खून दो मैं तुम्हें आजादी दूंगा देश में अंग्रेजी शासन के दौरान एक ऐसा नारा जिसने हजारों युवाओं को आजादी की लड़ाई में बलिदान के लिए प्रेरित किया।


डेस्क। आज नेताजी सुभाष चंद्र बोस की जयंती है। नेताजी सुभाषचन्द्र बोस का जन्म 23 जनवरी सन् 1897 को ओड़िशा के कटक शहर में हिन्दू कायस्थ परिवार में हुआ था। उनके पिता का नाम जानकीनाथ बोस और माँ का नाम प्रभावती था। नेताजी सुभाष चंद्र बोस का नाम भारत के महानतम स्वतंत्रता सेनानी के रूप में इतिहास में अमर है। तुम मुझे खून दो, मैं तुम्हें आजादी दूंगा" देश में अंग्रेजी शासन के दौरान एक ऐसा नारा, जिसने हजारों युवाओं को आजादी की लड़ाई में बलिदान के लिए प्रेरित किया। ये नारा दिया था नेताजी सुभाष चंद्र बोस ने। आज उनकी जयंती है। आजाद हिंद फौज के संस्थापक सुभाष चंद्र बोस किसी परिचय के मोहताज नहीं हैं। इस अवसर पर हम आपको बता रहे हैं, उनके जीवन से जुड़े कुछ अहम किस्से: 

गणतंत्र दिवस से पूर्व इम्फाल में आईईडी विस्फोट, शहर में हाई अलर्ट

 Netaji Subhash Chandra Bose
नेताजी सुभाषचंद्र बोस का जन्म 23 जनवरी 1897 में ओडिशा जिले के कटक शहर में हुआ था इनके पिता वकील थे जिनका नाम जानकीदास बोस था | इनकी माता का नाम प्रभावती देवी था सुभाष चंद्र बोस एक क्रांतिकारी व्यक्तित्व के व्यक्ति थे।  उन्होंने न सिर्फ देश की आजादी में महत्वपूर्ण भूमिका निभाई, बल्कि आजाद हिंद फौज का गठन करके अंग्रेजी सेना को खुली चुनौती दी। 

देश की आजादी और अंग्रेजों के खिलाफ बिगुल फूंकने वाले बोस बचपन से ही मेधावी छात्र रहे। जानकी नाथ बोस और प्रभावती देवी की संतान के बोस ने सराकरी नौकरी का त्याग कर देश की सेवा के लिए सबकुछ त्यागा। 

 Netaji Subhash Chandra Bose

सुभाष चंद्र बोस एक महान स्वतंत्रता सेनानी थे। उन्होंने एक बहादुर योद्धा के रूप में भारत की सेवा की। बोस ने पहले भारतीय राष्ट्रीय सेना (आईएनए), आजाद हिंद फौज को खड़ा किया और ब्रिटिश साम्राज्य के खिलाफ एक सशस्त्र तख्तापलट शुरू कर दिया।

ऐसा ही नेताजी सुभाषचंद्र बोस के एक ऐतिहासिक भाषण के शब्दों 'तुम मुझे खून दो, मैं तुम्हें आजादी दूंगा' ने आजाद हिन्द फौज के जवानों के अंदर जोश भर दिया था। आज हम भी नेताजी की याद में उनके जीवन के पहलुओं पर कहे गए विचारों और कथनों को याद करेंगे।

 Netaji Subhash Chandra Bose

उनके उन कथनों में नेताजी की बुद्धिमत्ता और उनकी अद्भुत प्रतिभा की झलक साफ तौर पर दिखती है। नेताजी सुभाषचंद्र बोस के ऐतिहासिक भाषण, कथन, विचारों पर प्रकाश डालेंगे, जो आज भी आम लोगों को प्रेरित करते हैं। 

प्लीज सब्सक्राइब यूट्यूब बटन

 

द्वितीय विश्वयुद्ध के दौरान अंग्रेजों के खिलाफ लड़ने के लिये उन्होंने जापान के सहयोग से आजाद हिन्द फौज का गठन किया था और देश को आजादी दिलाने में अहम भूमिका निभाई थी। नेताजी द्वारा दिया गया जय हिन्द का नारा भारत का राष्ट्रीय नारा बन गया हैं।

 जयपुर में प्लॉट मात्र 289/- प्रति sq. Feet में बुक करें 9314166166 

ऐसी ही ताजा खबरों व अपडेट के लिए डाउनलोड करे संजीवनी टुडे एप

More From national

Trending Now
Recommended