संजीवनी टुडे

श्रीराम मंदिर: सुप्रीम कोर्ट का मध्यस्थता पैनल शाम तक पहुंचेगा अयोध्या

संजीवनी टुडे 12-03-2019 12:34:40


अयोध्या। रामजन्मभूमि बाबरी मस्जिद विवाद में सुप्रीम कोर्ट द्वारा गठित मध्यस्थता पैनल अयोध्या स्थित अवध विश्वविद्यालय के आईटी कैम्पस के गेस्ट हाउस में मंगलवार शाम तक पहुंचने का अनुमान लगाया जा रहा है।

4.25 लाख में प्लॉट जयपुर आगरा रोड पर 9314301194

माना जा रहा है कि बुधवार से अगले बुधवार तक मध्यस्थता की प्रक्रिया शुरू हो जाएगी। श्री श्री रविशंकर की दोपहर बाद चार्टर्ड प्लेन से पहुंचने की उम्मीद है। जिला प्रशासन ने गेस्ट हाउस में किसी भी व्यक्ति के जाने पर रोक लगा दिया है, वहां बैरियर लगाकर सुरक्षा बढ़ा दी गई है। 

तीन सदस्यीय मध्यस्थता कमेटी के अध्यक्ष जस्टिस एफएम कलीफुल्लाह, सदस्य आध्यात्मिक गुरु श्री श्री रविशंकर व वरिष्ठ अधिवक्ता श्री राम पंचू शामिल हैं। इनके लिए विवि गेस्ट हाउस में अलग-अलग कक्ष व फर्नीचर की व्यवस्था बनाई गई है।

सुप्रीम कोर्ट के निर्देश पर अयोध्या विवाद का हल मध्यस्थता के जरिए तलाशने की कवायद मंगलवार से शुरू हो रही है, इसे लेकर पक्ष-विपक्ष समेत मामले से जुड़े अधिवक्ताओं में मध्यस्थता का कैसा रोल होगा, किसको कमेटी वहां बुलाएगी, क्या-क्या दस्तावेज सौंपे जाने हैं, इसे लेकर सरगर्मी तेज होती दिख रही है। अभी मध्यस्थता का स्वरूप क्या होगा इसकी कोई जानकारी नहीं है। मध्यस्थता की पहल 13 मार्च से शुरू हो जाएगी। 

सभी पक्षकारों को वार्ता के लिए सूचना दी जा चुकी है। मध्यस्थता का सभी पक्षकारों ने स्वागत किया है। वहीं विश्व हिंदू परिषद सहित रामनगरी के संत-धर्माचार्यों ने स्पष्ट कर दिया गया है कि हम कोर्ट का तो सम्मान करते हैं, लेकिन राममंदिर के नाम पर कोई समझौता नहीं होगा।

MUST WATCH & SUBSCRIBE

विहिप प्रवक्ता शरद शर्मा ने कहा कि जहां रामलला विराजमान हैं उसको छोड़कर कुछ सोचा जाएगा तो हम विचार कर सकते हैं। मध्यस्थता के लिए क्या किया जा रहा है, किससे वार्ता होगी इस पर दृष्टि रखी जाएगी। मंदिर के अतिरिक्त हिन्दू समाज कुछ और स्वीकार करेगा, इस पर संशय है। हिन्दू समाज अपने पूर्वजों के बलिदान पर समझौता नहीं करने वाला है। 

More From national

Loading...
Trending Now
Recommended