संजीवनी टुडे

'बॉयज लॉकर रूम' मामले में चौंकाने वाला खुलासा, गैंगरेप की चैट करने वाली निकली लड़की

संजीवनी टुडे 11-05-2020 04:47:00

इंस्टाग्राम पर बनाए गए बॉयज लॉकर रूम ग्रुप के मामले में चौंकाने वाली बात सामने आई हैं। सोशल मीडिया पर लड़की से गैंगरेप का जो चैट सबसे ज्यादा चर्चित हुआ था, वह इंस्टाग्राम के इस ग्रुप का नहीं था।


नई दिल्ली। इंस्टाग्राम पर बनाए गए 'बॉयज लॉकर रूम' ग्रुप के मामले में चौंकाने वाली बात सामने आई हैं। सोशल मीडिया पर लड़की से गैंगरेप का जो चैट सबसे ज्यादा चर्चित हुआ था, वह इंस्टाग्राम के इस ग्रुप का नहीं था। उक्‍त मामले का पर्दाफाश करते हुए द‍िल्‍ली पुल‍िस की साइबर सेल ने बताया क‍ि वह स्नैपचैट पर की गई बात चीत थी।

हैरानी की बात यह है कि लड़की से सामूहिक दुष्कर्म की बात जिसने लिखी, वह खुद एक लड़की है। उसने लड़के का एक फर्जी अकाउंट बनाकर अपने दोस्त का कैरेक्टर जानने के लिए यह हरकत की थी। डीसीपी के अनुसार, साइबर सेल की टीम सोशल मीडिया की लगातार मॉनिटरिंग करती है। इस दौरान उन्हें इंस्टाग्राम पर बनाए गए एक ग्रुप के बारे में पता चला जिसमें महिलाओं की अश्लील तस्वीरें साझा करने के साथ उनके बारे में अश्लील टिप्पणियां की जा रही थी। इसे लेकर साइबर सेल द्वारा तुरंत एफआईआर दर्ज की गई और पूरे मामले की छानबीन शुरू की गई। जांच में उन्हें पता चला कि इस ग्रुप के चैट सोशल मीडिया पर काफी वायरल भी हो चुके हैं। 

नाबालिग से मिले सुराग पर एडमिन गिरफ्तार 
इसे लेकर साइबर सेल की टीम द्वारा एक नाबालिक को पकड़ा गया और उसका मोबाइल फोन जब्त किया गया। उसके मोबाइल से मिली जानकारी की मदद से इस ग्रुप के सदस्यों के बारे में भी उन्हें पता चला। इस खुलासे के बाद उन्होंने नोएडा से उस छात्र को पकड़ा जो इस ग्रुप का एडमिन था। उसे गिरफ्तार कर लिया गया। इस मामले में अब तक 24 छात्रों से पूछताछ की जा चुकी है और उनके मोबाइल फोन जब्त कर फॉरेंसिक जांच के लिए भेजे जा चुके हैं।  

लड़की ने लिखी थी गैंगरेप की बात 
इस मामले में सोशल मीडिया पर जो चैट वायरल किए गए थे उनमें से एक चैट स्नैपचैट का था। इसमें सिद्धार्थ नामक शख्स ने लड़की से गैंगरेप की बात लिखी थी। इसकी जांच के दौरान पता चला कि यह लिखने वाला कोई सिद्धार्थ नहीं बल्कि एक लड़की है। इस लड़की ने सिद्धार्थ के नाम से फर्जी अकाउंट बनाकर यह बातचीत एक नाबालिग के साथ की थी। इस चैट के जरिए वह खुद पर यौन शोषण की बात लिख रही थी। दरअसल वह इस मैसेज के जरिए लड़के का रिएक्शन और उसके कैरेक्टर को देखना चाहती थी। 

किशोर ने जताई थी आपत्ति 
सिद्धार्थ नाम से आए इस मैसेज को लेकर नाबालिग ने आपत्ति जताई थी। उसने इस तरह की साजिश से सिद्धार्थ को भी पीछे हटने के लिए कहा था। उसने इस चैट का स्क्रीनशॉट लेकर अपने दोस्त को दिया। इसमें वह लड़की भी शामिल थी जिसने नाम बदलकर यह चैट किया था। इस चैट का स्क्रीनशॉट ही बॉयज लॉकर ग्रुप के साथ वायरल हो गया था। डीसीपी के अनुसार, इस ग्रुप के अन्य सदस्यों के बारे में जानकारी जुटाने की कोशिश साइबर सेल द्वारा की जा रही है। 

यह खबर भी पढ़े: राजस्थान/ भीलवाड़ा में बेरोजगारी व भूख से परेशान श्रमिक परिवार सहित सड़क पर उतरे, प्रदर्शन कर घर वापसी की मांग

ऐसी ही ताजा खबरों व अपडेट के लिए डाउनलोड करे संजीवनी टुडे एप

ऐसी ही ताजा खबरों व अपडेट के लिए डाउनलोड करे संजीवनी टुडे एप

More From national

Trending Now
Recommended