संजीवनी टुडे

अयोध्या में रविवार को भी सुरक्षा व्यवस्था के हैं पुख्ता इंतजाम

संजीवनी टुडे 10-11-2019 17:01:53

उच्चतम न्यायालय द्वारा राम मंदिर के पक्ष में दिये गये निर्णय के बाद रविवार को अयोध्या में सुरक्षा व्यवस्था में पुख्ता इंतजाम है।


अयोध्या। उच्चतम न्यायालय द्वारा राम मंदिर के पक्ष में दिये गये निर्णय के बाद रविवार को अयोध्या में सुरक्षा व्यवस्था में पुख्ता इंतजाम है। पुलिस प्रवक्ता ने यहां बताया कि अयोध्या की सीमा सील है और बैरियर लगे है। अयोध्या में प्रवेश के लिये काफी सघन चेकिंग के बाद प्रहचान पत्र देखकर ही उन्हें शहर में प्रवेश दिया जा रहा है। शनिवार को न्यायालय का फैसला आने के बाद आज दूसरे दिन सुरक्षा व्यवस्था काफी कड़ी है लेकिन कुछ सामान्य है।

यह खबर भी पढ़े:कश्मीर के नेताओं और राजीव के हत्यारों की हो तुरंत रिहाई : द्रमुक

राम की नगरी की लगभग सभी दुकानें खुली है। लोग प्रतिदिन की भांति रोजमर्रा के सामानों की खरीददारी कर रहे है। राम की पैड़ी एवं सरयू स्नानन घाटों पर श्रद्धालुओं की भीड़ तो कम है । हालांकि रविवार को छुट्टी का दिन होने की वजह से सरकारी दफ्तर व स्कूल कालेज बंद रहे। अयोध्या में आने-जाने वाले यात्रियों के सामान की भी गहना से जांच की जा रही है। 

सुरक्षा के मद्देनजर जगह-जगह बैरीकेडिंग लगे हैं। लोगों को पैदल ही जाने की इजाजत है। रामजन्मभूमि मंदिर की तरफ जाने वाले रास्तों पर पहले से लगी बैरीकेडिंग लगी है। वहां के निवासियों की भी पास बनने की बाद भी जांच-पड़ताल के बाद ही उन्हें जाने की अनुमति दी जा रही है। पुराने सरयू पुल पर चार पहिया वाहनों को बंद कर दिया गया है। सिर्फ पैदल और दोपहिया वाहन ही आ रहे हैं।

धर्मनगरी में अभी भी चप्पे-चप्पे पर सुरक्षा बल तैनात हैं। जो किसी भी स्थिति से पूरी तरह निपटने के लिये तैयार हैं। खुफिया तंत्र भी सक्रिय हैं। जो संदिग्धों पर बराबर अपनी नजर गड़ाये हुए हैं। अयोध्या के मण्डलायुक्त पुलिस महानिरीक्षक, जिलाधिकारी, वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक सहित पुलिस प्रशासन द्वारा अयोध्या का भ्रमण किया जा रहा है। 

अयोध्या रेलवे स्टेशन पर भी सुरक्षा का व्यापक व्यवस्था है। वहां पर भी लोगों के सामानों की जांच पड़ताल की जा रही है। रामनगरी में चार पहिया व टैक्सी वाहन पूरी तरह प्रतिबंधित हैं। अयोध्या में पूरी तहर शांति है। सभी लोग अदालत के निर्णय का स्वागत कर रहे हैं ।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल पर जुड़ें

More From national

Trending Now
Recommended