संजीवनी टुडे

महाराष्‍ट्र में 50-50 फॉर्मूले पर फंसा पेच, एक दूसरे पर आरोप-प्रत्यारोपण जारी

संजीवनी टुडे 08-11-2019 20:57:18

महाराष्‍ट्र के मुख्‍यमंत्री देवेंद्र फणनवीस ने राजयपाल को इस्‍तीफा सौंप दिया है। देवेंद्र फणनवीस ने शुक्रवार को राज्‍यपाल भगत सिंह कोश्‍यरी से मुलाक़ात की। श्री फडणवीस ने कहा कि महागठबंधन टूट गया है, ऐसा हम नहीं कर रहे और जब मतभेद दूर हो जायेंगे तब एक साथ मिलकर सरकार बनायेंगे। उन्होंने कहा कि महागठबंधन को जोड़ने वा


नई दिल्ली। महाराष्‍ट्र के मुख्‍यमंत्री देवेंद्र फणनवीस ने राजयपाल को इस्‍तीफा सौंप दिया है। देवेंद्र फणनवीस ने शुक्रवार को राज्‍यपाल भगत सिंह कोश्‍यरी से मुलाक़ात की। श्री फडणवीस ने कहा कि महागठबंधन टूट गया है, ऐसा हम नहीं कर रहे और जब मतभेद दूर हो जायेंगे तब एक साथ मिलकर सरकार बनायेंगे। उन्होंने कहा कि महागठबंधन को जोड़ने वाला हिंदुत्व का धागा कायम है।

यह खबर भी पढ़ें: स्पाॅट फिक्सिंग के आरोपों से गिरी इस टीम की फ्रेंचाइजी निलंबित, 6 गिरफ्तार

उन्होंने कहा कि हम लोग शुरू से ही कह रहे हैं कि चर्चा के लिए हमारा दरवाजा हमेशा खुला है। देवेंद्र फणनवीस ने साफ़ कहा कि उन्होंने कभी भी शिवसेना से सीएम पद का वादा नहीं किया था। इसके बाद उद्धव ने यहां तक कह दिया कि अगर बीजेपी ने एक और बार उन्हें झूठा कहा तो वे कभी उनसे कोई रिश्ता नहीं रखेंगे। 

फडणवीस ने आरोप लगाया कि शिवसेना के नेताओं ने बीजेपी और मोदी जी पर हमला बोला है। साथ ही बीजेपी और शिवसेना के बीच कभी भी सीएम पद को लेकर 50-50 के फॉर्मूले पर निर्णय नहीं हुआ था। मैंने पार्टी अध्यक्ष अमित शाह, नितिन गडकरी से भी इस बारे में पूछा, लेकिन उन्होंने भी सीएम पर 50-50 फॉर्मूले पर किसी भी तरह के फैसले से इनकार किया। 

जवाब में शिवसेना नेता संजय राउत ने प्रेस कॉफ्रेंस करके बीजेपी पर पलटवार किया। उन्‍होंने कहा कि उद्धव ठाकरे से 50-50 के फॉर्मूले पर बात हुई थी। वहीं फडणवीस और संजय राउत की कॉफ्रेंस के बाद उद्धव ठाकरे ने मीडिया से बात करते हुए कहा कि बीजेपी ने हमें झूठा ठहराया है। ऐसा पहली बार हुआ, जब किसी ने ठाकरे परिवार पर झूठ बोलने का आरोप लगाया। 

यह खबर भी पढ़ें: एसपीजी सुरक्षा हटाना गांधी परिवार के जीवन के साथ खिलवाड़, बदले की भावना से लिया गया निर्णंय: कांग्रेस

गौरतलब हैं शिवसेना ने अपने सभी 56 नवनिर्वाचित विधायकों को उपनगर बांद्रा में समुद्र तट के किनारे बनी होटल में ठहराया है। राज्य में सियासी संकट खत्म होने तक उन्हें वहीं रखा जाएगा। यह शिवसेना प्रमुख उद्धव ठाकरे के घर से चंद किमी दूर, पार्टी मुख्यालय सेना भवन से 4 किमी दूर, राजभवन से 16 किमी व विधानभवन से 16 किमी दूर है।

यह खबर भी पढ़ें:

 

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल पर जुड़ें

More From national

Trending Now
Recommended