संजीवनी टुडे

raafel, rahul पर अहम् फैसला, ‘चौकीदार चोर है’ बयान पर SC की राहुल गांधी को सलाह, जानें?

संजीवनी टुडे 14-11-2019 14:57:14

उच्चतम न्यायालय ने राफेल लड़ाकू विमान सौदा मामले में अपने फैसले पर पुनर्विचार से गुरुवार को इंकार कर दिया। मुख्य न्यायाधीश रंजन गोगोई, न्यायमूर्ति संजय किशन कौल और न्यायमूर्ति के एम जोसेफ की पीठ ने केंद्र सरकार को क्लीन चिट देने के अपने निर्णय के खिलाफ दायर सभी पुनर्विचार याचिकाएं खारिज कर दी। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के


नई दिल्ली। उच्चतम न्यायालय ने राफेल लड़ाकू विमान सौदा मामले में अपने फैसले पर पुनर्विचार से गुरुवार को इंकार कर दिया। मुख्य न्यायाधीश रंजन गोगोई, न्यायमूर्ति संजय किशन कौल और न्यायमूर्ति के एम जोसेफ की पीठ ने केंद्र सरकार को क्लीन चिट देने के अपने निर्णय के खिलाफ दायर सभी पुनर्विचार याचिकाएं खारिज कर दी। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के खिलाफ ‘चौकीदार चोर है’ के नारे का इस्तेमाल करने के लिए कांग्रेस नेता राहुल गांधी के खिलाफ दाखिल अवमानना याचिका पर सुप्रीम कोर्ट ने गुरुवार को फैसला सुनाया।

यह खबर भी पढ़ें: नुकसान से बड़ी निजात, किसानों के लिए 700 करोड़ की घोषणा, पढ़िए विस्तृत में!

सुप्रीम कोर्ट ने इस फैसले में राहुल गांधी को राहत देते हुए उनके माफ़ी मांगने का ज़िक्र करते हुए अवमानना का केस चलाने से मना कर दिया। शीर्ष अदालत ने कहा कि राहुल गांधी पार्टी में बड़ा पद संभालते हैं। उन्हें बयान देते वक़्त सावधानी बरतनी चाहिए। कोर्ट ने राहुल गांधी को कहा- 'भविष्य में ऐसे बयान देने से पहले केयरफुल रहें'। गौरतलब है कि शीर्ष अदालत ने गत वर्ष 14 दिसंबर को अपना फैसला सुनाया था और सौदे की स्वतंत्र जांच कराने की मांग ठुकरा दी थी।

यह खबर भी पढ़ें: दमघोंटू हवा से परेशान दिल्ली निवासियों के लिए खुला ''ऑक्सीजन बार'', कीमत 15 मिनिट के 300 रुपए

पूर्व केंद्रीय मंत्री यशवंत सिन्हा और अरुण शौरी तथा जाने माने वकील प्रशांत भूषण समेत कुछ अन्य ने फैसले पर पुनर्विचार के लिए याचिकाएं दायर की थी। इसी से जुड़े एक अन्य मामले में पीठ ने कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी के खिलाफ अदालत की अवमानना का मामला समाप्त कर दिया। पीठ ने राजनीतिक रूप से संवेदनशील इन पुनर्विचार याचिकाओं पर 10 मई को सुनवाई पूरी की थी और फैसला सुरक्षित रख लिया था।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल पर जुड़ें

More From national

Trending Now
Recommended