संजीवनी टुडे

सेंट विंसेंट एवं ग्रेनेडाइंस तथा भारत करेंगे कौशल विकास में सहयोग

इनपुट- यूनीवार्ता

संजीवनी टुडे 10-09-2019 18:54:15

प्रधानमंत्री नरेन्‍द्र मोदी और सेंट विंसेंट एवं ग्रेनेडाइंस के प्रधानमंत्री डॉ. राल्‍फ एवरार्ड गोंजाल्विस ने मंगलवार को यहां एक मुलाकात के दौरान यह सहमति व्यक्त की।


नई दिल्ली। कैरिबियाई देश सेंट विंसेंट एवं ग्रेनेडाइंस तथा भारत ने कौशल विकास, प्रशिक्षण, शिक्षा, वित्‍त, संस्‍कृति और आपदा प्रबंधन सहित विभिन्‍न क्षेत्रों में सहयोग बढ़ाने पर सहमति जताई है। प्रधानमंत्री नरेन्‍द्र मोदी और सेंट विंसेंट एवं ग्रेनेडाइंस के प्रधानमंत्री डॉ. राल्‍फ एवरार्ड गोंजाल्विस ने मंगलवार को यहां एक मुलाकात के दौरान यह सहमति व्यक्त की। दोनों नेताओं ने भारत तथा सेंट विंसेंट एवं ग्रेनेडाइंस के बीच कौशल विकास, प्रशिक्षण, शिक्षा, वित्‍त, संस्‍कृति और आपदा प्रबंधन सहित विभिन्‍न क्षेत्रों में सहयोग बढ़ाने पर सहमति जताई। गोंजाल्विस सेंट विंसेंट एवं ग्रेनेडाइंस के ऐसे पहले प्रधानमंत्री हैं, जो भारत के दौरे पर आए हैं। उन्होेंने कल ‘ संयुक्त राष्ट्र मरुस्‍थलीकरण की रोकथाम सम्‍मेलन’ में एक उच्‍चस्‍तरीय संगोष्‍ठी में भाग लिया।

यह खबर भी पढ़ें: ​नुच्छेद 370 की समाप्ति मोदी सरकार की बड़ी उपलब्धि: जितेन्द्र सिंह

गोंजाल्विस ने सेंट विंसेंट एवं ग्रेनेडाइंस के साथ-साथ कैरिबियाई और लैटिन अमेरिकी क्षेत्र में भी भारत के लिए व्‍यापक सद्भावना को रेखांकित किया। उन्‍होंने इस क्षेत्र के विकास में सहयोग के साथ-साथ प्राकृतिक आपदाओं से निपटने में भारत की ओर से त्‍वरित सहायता मिलने की सराहना की।

मोदी ने अंतर्राष्‍ट्रीय मंच पर सहयोग सहित दोनों देशों के बीच घनिष्‍ठ सहयोग को रेखांकित किया और इसके साथ ही उन्‍होंने संयुक्‍त राष्‍ट्र सुरक्षा परिषद के एक अस्‍थायी सदस्‍य के रूप में ‘अब तक के सबसे छोटे देश’ के तौर पर निर्वाचित होने के लिए सेंट विंसेंट एवं ग्रेनेडाइंस को बधाई दी।

गोवर्मेन्ट एप्रूव्ड प्लाट व फार्महाउस मात्र रु. 2600/- वर्गगज, टोंक रोड (NH-12) जयपुर में 9314166166

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल पर जुड़ें

More From national

Trending Now
Recommended