संजीवनी टुडे

विवाह विच्छेद में हिन्दू महिलाओं के अधिकारों का संरक्षण किया जाना चाहिए: ठाकुर

संजीवनी टुडे 31-07-2019 16:27:28

भारतीय जनता पार्टी के सी पी ठाकुर ने आज राज्यसभा में कहा कि विवाह विच्छेद में हिन्दू महिलाओं के अधिकारों का संरक्षण किया जाना चाहिए और विवाह विच्छेद की प्रक्रिया को सरल किया जाना चाहिए।


नई दिल्ली। भारतीय जनता पार्टी के सी पी ठाकुर ने आज राज्यसभा में कहा कि विवाह विच्छेद में हिन्दू महिलाओं के अधिकारों का संरक्षण किया जाना चाहिए और विवाह विच्छेद की प्रक्रिया को सरल किया जाना चाहिए।

श्री ठाकुर ने सदन में शून्यकाल के दौरान यह मामला उठाते हुए कहा कि हिन्दू महिलाओं के विवाह विच्छेद की प्रक्रिया 20 साल तक चल जाती है। इतने लंबे समय में पुनर्विवाह की स्थिति खत्म हो जाती है और जीवन का तबाह हो जाता है। उन्हाेंने कहा कि सरकार को इस संबंध में कानून लाना चाहिए।

कांग्रेस की विप्लव ठाकुर ने कहा कि सरकार को सेना के विक्लांग जवानों की पेंशन और आय पर अायकर नहीं लेना चाहिए। उन्होेंने कहा कि नीति के अनुसार विक्लांग हो चुके जवानों का रैंक मिलना बंद हाे जाता है। इससे उनकी आमदनी के रास्ते सीमित हो जाते हैं। सरकार को उनकी पेंशन पर आयकर नहीं वसूलने पर विचार करना चाहिए।

कांग्रेस के शमशेर सिंह ढिल्लों ने कहा कि सरकार ने अनुसूचित जाति और जनजाति के छात्रों के लिए दी जानी वाली छात्रवृत्ति का तरीका बदलना नहीं चाहिए। उन्हाेंने कहा कि इस छात्रवृत्ति में 90 प्रतिशत हिस्सा केंद्र सरकार और 10 प्रतिशत हिस्सा राज्य सरकार देती है। 

नयी व्यवस्था के अनुसार 60 प्रतिशत हिस्सा केंद्र और 40 प्रतिशत हिस्सा राज्य सरकार को देना होगा। उन्होेंने कहा कि इन वर्गों के बच्चों की पढ़ाई के लिए छात्रवृत्ति जरूरी है। राज्य सरकार अपना हिस्सा नहीं देती है। इसलिए केंद्र सरकार को अपना हिस्सा नहीं घटाना चाहिए।

प्लीज सब्सक्राइब यूट्यूब चैनल

गोवर्मेन्ट एप्रूव्ड प्लाट व फार्महाउस मात्र रु. 2600/- वर्गगज, टोंक रोड (NH-12) जयपुर में 9314166166

More From national

Trending Now
Recommended