संजीवनी टुडे

आरटीआई में हुआ खुलासा, प्रस्तावित नागदा जिले की आबादी 7.70 लाख से अधिक

संजीवनी टुडे 09-07-2019 17:07:57

औद्योगिक नगर नागदा को नवीन जिले के प्रस्ताव में कुल आबादी 7 लाख 70 हजार 201 होगी। जिला बनाने के लिए कई तथ्यों की रिपोर्ट प्रशासन के समक्ष पहुंची है।


नागदा। औद्योगिक नगर नागदा को नवीन जिले के प्रस्ताव में कुल आबादी 7 लाख 70 हजार 201 होगी। जिला बनाने के लिए कई तथ्यों की रिपोर्ट प्रशासन के समक्ष पहुंची है। नागदा को नवीन जिला सर्जन में शासन की परीक्षण रिपोर्ट में आंकड़ों का संकलन अब सामने आया है। प्रस्तावित कुल 5 तहसीलों में 561 गांवों के नाम हैं। वल्लभ भवन भोपाल से मिले आदेश के बाद गत दिनों कलेक्टर उज्जैन ने नागदा को जिला बनाने के लिए नागदा, खाचरौद, महिदपुर, झारड़ा व रतलाम जिले की आलोट तहसील से एक निर्धारित प्रोफार्मा में प्रत्येक क्षेत्र के अनुविभागीय अधिकारियों से जानकारियों की रिपोर्ट पेश करने का आदेश दिया था। सभी 5 तहसीलों से कलेक्टर उज्जैन के समक्ष जो रिपोर्ट प्रस्तुत हुई, उसके आंकड़े हाल में  सूचना के अधिकार में सामने आए हैं।

कलेक्टर उज्जैन ने प्रत्येक तहसील के जनसंख्या, पटवारी हल्के, पचायतों की संख्या, क्षेत्र का रकबा, क्षेत्रफल आदि के तथ्य मांगे थे। प्रस्तावित नागदा जिले की तस्वीर उभर कर जो सामने आए है, उसका खुलासा आरटीआई में हुआ है। लोकसूचना अधिकारी कलेक्टर कार्यालय उज्जैन ने रिपोर्ट के सभी अभिलेख आरटीआई एक्टिविस्ट कैलाश सनोलिया निवासी नागदा को उपलब्ध कराए हैं। रिपोर्ट के सभी दस्तावेज हिंदुस्थान समाचार के पास सुरक्षित हैं।इन जानकारियों में प्रस्तावित नवीन जिले में पांचों तहसील की विभिन प्रकार की जानकारिया उपलब्ध है। यहां तक की प्रस्तावित नागदा जिले में जिन 561 गांवों को लिया जा रहा है, इन प्र्र्र्रत्येक गांवों की जनसंख्या, गांव का कृषि रकबा, क्षेत्रफ ल, गांव की भोगोलिक स्थिति आदि का खुलासा किया गया है।

जनसंख्या में नागदा तहसील आगे

तहसीलों की जनसंख्या के आंकडों में प्रशासन ने वर्ष 2011 की जनगणना को आधार बनाया गया है। इस मान से प्रस्तावित नागदा जिले की तहसील जनसंख्या के मान से प्रथम स्थान पर हैं। अनुविभागीय अधिकारी राजस्व नागदा ने कलेक्टर उज्जैन को जो रिपोर्ट पेश की है उसमे नागदा तहसील की आबादी सभी पांचो तहसील में अब्वल है। एसडीएम की प्रस्तुत रिपोर्ट में नागदा तहसील की आबादी 2 लाख, 37 हजार 996 बताई गई है। दूसरे स्थान पर नागदा विधानसभा क्षेत्र में ही जुडा तहसील मुख्यालय खाचरौद का नाम सामने आया है। इस तहसील की जनसंख्या 1 लाख 61 हजार, 270 सामने आई है। तीसरे क्रम पर महिदपुर है जिसकी जनसंख्या 1 लाख 51 हजार 736 बताई जा रही है।  जबकि सबसे कम आबादी आलोट तहसील की है। इस तहसील को रतलाम जिले से हटाकर प्रस्तातित नागदा जिले में शामिल करने का प्रस्ताव है। 

उन्हेल क्षेत्र के 28 गांव शामिल

कस्बा उन्हेल वर्तमान में घटिया विधानसभा में शामिल है। जबकि कस्बा राजस्व विभाग के मान से नागदा तहसील में शामिल है। नवीन जिला सर्जन में उन्हेल क्षेत्र के 28 गांवों को जोडऩे की रिपोर्ट पेश हुई है। इन सभी गांवों की कुल आबादी जनगणना 2011 के आधार पर 42 हजार 18 सामने आई है। इस क्षेत्र के 17 पटवारी हल्कों के नाम शामिल किए गए है।

रतलाम जिले की अब नई तस्वीर

कलेक्टर रतलाम ने कलेक्टर उज्जैन को जो रिपोर्ट पेश की उसके प्रमाणित अभिलेख भी उपलब्ध हुए है। इन प्रमाणों में यह भी बताया गया हैकि आलोट तहसील का संबध रतलाम जिले से विच्छेद किया जाता है तो प्रथक्करण के पश्चात रतलाम जिले की तस्वीर क्यां सामने आएगी। उसका खुलासा भी अपनी रिपोर्ट में किया गया है। इस रिर्पोट की प्रति भी सुरक्षित है। इस रिपोर्ट के मुताबिक आलोट तहसील को अलग किया जाता है तो रतलाम के खाते में अब 8 तहसील रतलाम ग्रामीण, रतलाम नगर, जावरा, पिपलौदा, ताल, सैलाना, बाजना एवं रावटी शेष रहेगी। रतलाम जिले में अभी 1089 गांव शामिल है। नागदा में आलोट को जोडऩे पर यह संख्या घटकर 979 रह जाएगी। पंचायतों एवं पटवारी हल्कों की संख्या में भी गिरावट आएगी। पंचायतों की संख्या 373 रह जाएगी। वर्तमान इस जिले में 419 पंचायते जुड़ी है। इसी प्रकार से पटवारी हलके 383 रह जाएंगे।

इस प्रकार प्रस्तावित नागदा जिले का स्वरूप

कुल पांच तहसील नागदा, खाचरौद, महिदपुर, झारड़ा, एवं रतलाम जिले की आलोट तहसील को शमिल किया गया है। नागदा तहसील में 114 गांव शामिल है। इस तहसील की आबादी 2 लाख 37 हजार 996 है। पंचायतों की संख्या 66 तथा पटवारी हल्के 66 है। खाचरौद तहसील में 110 गांव है। इस तहसील की कुल आबादी 1 लाख 61 हजार 270 आंकी गई है। पंचायतों की संख्या 68 तथा पटवारी हल्के 68 हैं। इसी प्रकार से महिदपुर तहसील में 114 गांव है। कुल जनसंख्या 1 लाख 51 हजार 736 बताई गई है। इस क्षेत्र पंचायत 61 तथा पटारी हल्के भी 61 है। झारड़ा तहसील में 113 गांव जुड़े हैं। इस तहसील की आबादी 1 लाख 7 हजार 563 है। पंचायतों की संख्या 60 तथा पटवारी हल्के भी 60 है। रतलाम जिले की आलोट तहसील को पृथक कर प्रस्तावित नागदा जिले में लिया गया है। इस तहसील में 110 गांव शामिल है। आबादी 1 लाख 11 हजार 636 है। पंचायतों की संख्या 46 तथा पटवारी हल्के 46 हैं।

गोवर्मेन्ट एप्रूव्ड प्लाट व फार्महाउस मात्र रु. 4300/- गज, अजमेर रोड (NH-8) जयपुर में 7230012256

More From national

Trending Now
Recommended