संजीवनी टुडे

सीमा पर तनाव के बीच आज राज्यसभा को संबोधित करेंगे रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह

संजीवनी टुडे 17-09-2020 10:35:15

रक्षा मंत्री के बयान के बाद विपक्ष के नेता अपनी बात रखेंगे और सिंह आवश्यकता पड़ने पर सभापति की अनुमति से स्पष्टीकरण दे सकते हैं।


नई दिल्ली। कोरोना वायरस महामारी के बीच सोमवार से 18 दिनों के मानसून सत्र की शुरुआत हो चुकी है। आज सत्र का चौथा दिन है। राज्यसभा में बुधवार को आयुर्वेद शिक्षण और अनुसंधान संस्थान बिल, 2020 पास हुआ। वहीं, सदन में कोरोना वायरस पर भी चर्चा हुई। कांग्रेस ने इस मुद्दे पर सरकार से सवाल किए। आज रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह पूर्वी लद्दाख में चीन के साथ गतिरोध पर राज्यसभा में बयान देंगे। 

सूत्रों ने कहा कि रक्षा मंत्री के बयान के बाद विपक्ष के नेता अपनी बात रखेंगे और सिंह आवश्यकता पड़ने पर सभापति की अनुमति से स्पष्टीकरण दे सकते हैं। रक्षा मंत्री वास्तविक नियंत्रण रेखा (एलएसी) गतिरोध पर दोपहर 12 बजे बयान देंगे। उसके बाद विपक्ष के नेता मुद्दे पर बोलेंगे। 

Defense Minister Rajnath Singh said in Parliament China occupied 38000 square kilometers of land in India

सूत्रों के मुताबिक जरूरत हुई तो उसके बाद मंत्री स्पष्टीकरण दे सकते हैं। सिंह लोकसभा में मंगलवार को मुद्दे पर पहले ही बयान दे चुके हैं। रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने मंगलवार को लोकसभा में कहा कि वहां हम चुनौती का सामना कर रहे हैं, लेकिन हमारे सशस्त्र बल देश की संप्रभुता और क्षेत्रीय अखंडता की रक्षा के लिए डटकर खड़े हैं। 

लोकसभा में पूर्वी लद्दाख की स्थिति पर दिये गये एक बयान में रक्षा मंत्री ने यह भी कहा कि इस सदन को प्रस्ताव पारित करना चाहिए कि यह सदन और सारा देश सशस्त्र बलों के साथ है जो देश की संप्रभुता और क्षेत्रीय अखंडता के लिए डटकर खडे़ हैं। 

Defense Minister Rajnath Singh made this statement in the Lok Sabha about the situation on the border in Ladakh

रक्षा मंत्री ने कहा कि भारत, चीन के साथ सीमा पर गतिरोध को शांतिपूर्ण ढंग से हल करने को प्रतिबद्ध है। भारत ने चीन को अवगत कराया है कि भारत-चीन सीमा को जबरन बदलने का प्रयास अस्वीकार्य है। 

उन्होंने कहा, ‘‘मैं इस बात पर बल देना चाहूंगा कि भारत शातिपूर्ण बातचीत और परामर्श से सीमा मुद्दों को सुलझाने के लिए प्रतिबद्ध है। इसी उद्देश्य से मैंने चार सितंबर को चीनी रक्षा मंत्री से बातचीत की।’’

Indo-China border dispute

बता दें कि भारत-चीन के बीच सीमा विवाद को लेकर पिछले 20 दिनों में कम से कम तीन बार फायरिंग की घटना हो चुकी है। सैन्य सूत्रों के अनुसार, सबसे पहली घटना तब घटी जब दक्षिणी पैंगोंग की ऊंचाई वाली चोटी पर कब्जा करने की चीन ने कोशिश की। इस दौरान, भारत ने चीन के सैनिकों को वापस खदेड़ते हुए उनकी चाल को नाकाम कर दिया। यह घटना 29-31 अगस्त के बीच हुई। इसके बाद दूसरी घटना 7 सितंबर की है, जो कि मुखपारी की चोटियों पर घटी थी।

सूत्रों ने आगे बताया कि तीसरी घटना आठ सितंबर को पैंगोंग झील के उत्तरी किनारे पर हुई थी। इस दौरान, दोनों ही पक्षों के जवानों ने 100 राउंड से ज्यादा फायरिंग की थी। यह गोलीबारी इसलिए हुई क्योंकि चीनी पक्ष काफी आक्रामकता दिखा रहा था। ये सभी घटनाएं ऐसे वक्त में हुईं, जब भारत और चीन के विदेश मंत्रियों (एस. जयशंकर और वांग यी) के बीच रूस के मॉस्को में शंघाई सहयोग संगठन से इतर एक बैठक होने वाली थी। दोनों ही विदेश मंत्रियों ने सीमा पर अप्रैल से जारी तनातनी पर बातचीत की थी और तनाव को कम करने पर राजी हुए थे।

The issue of Question Hour echoed in Parliament Defense Minister Rajnath Singh defended the government by naming political parties

वहीं सरकार ने बुधवार को कहा कि पिछले छह महीने में भारत-चीन सीमा पर कोई घुसपैठ नहीं हुई जबकि इस अवधि में भारत-पाक सीमा पर घुसपैठ के प्रयास के 47 मामले सामने आए हैं। राज्यसभा में आज एक प्रश्न के लिखित उत्तर में गृह राज्य मंत्री नित्यानंद राय ने कहा कि जम्मू कश्मीर में पिछले तीन वर्षो में पाकिस्तानी आतंकियों द्वारा घुसपैठ के 594 प्रयास किये जाने के मामले सामने आए जिसमें 312 घुसपैठ हुई।

केंद्रीय मंत्री ने कहा, ‘‘पिछले छह महीने में भारत-चीन सीमा पर घुसपैठ का कोई मामला सामने नहीं आया है।’’ एक अन्य सवाल के जवाब गृह राज्य मंत्री जी किशन रेड्डी ने कहा कि जम्मू कश्मीर में पिछले तीन वर्षो के दौरान सुरक्षा बलों ने 582 आतंकवादियों को मार गिराया और इस अवधि में 46 आतंकी पकड़े गए। उन्होंने बताया कि वर्ष 2018 से इस वर्ष 8 सितंबर तक जम्मू कश्मीर में 76 सैन्यकर्मी शहीद हुए। 

यह खबर भी पढ़े: भारत में आज फिर भड़का कोरोना, बीते 24 घंटे में मिले 97 से ज्यादा नए संक्रमित, 83,198 मरीजों ने दम तोडा

यह खबर भी पढ़े: सीमा पर तनाव के बीच चीनी सैनिकों का दावा, भारतीय सेना को नहीं मिल पाता गरम खाना

 

ऐसी ही ताजा खबरों व अपडेट के लिए डाउनलोड करे संजीवनी टुडे एप

More From national

Trending Now
Recommended