संजीवनी टुडे

अलवर सामूहिक दुष्कर्म पीड़ित के परिवार से मिले राहुल गांधी

संजीवनी टुडे 16-05-2019 15:59:15


अलवर। कांग्रेस के राष्ट्रीय अध्यक्ष राहुल गांधी गुरुवार को अलवर जिले के थानागाजी पहुंचे। उनके साथ राजस्थान मुख्यमंत्री अशोक गहलोत और उपमुख्यमंत्री सचिन पायलट भी मौजूद थे। उन्होंने यहां सामूहिक दुष्कर्म पीडि़त परिजनों से मुलाकात कर उन्हें न्याय का भरोसा दिलाया। परिजनों से मुलाकात के बाद राहुल ने पत्रकारों से चर्चा करते हुए कहा कि मुझे घटना के बारे में पता चला, मैंने तुरंत मुख्यमंत्री अशोक गहलोत से बात की। उन्होंने कहा कि यह मेरे लिए राजनीतिक मुद्दा नहीं है, मेरे लिए यह भावनात्मक मुद्दा है। ऐसी घटना को हम सहन नहीं कर सकते। उन्होंने कहा कि आरोपितों के खिलाफ कठोर कार्रवाई होगी। 

राजस्थान ही नहीं, हिंदुस्तान में यह संदेश देना है कि हमारी जो माताएं-बहनें हैं, उनके साथ ऐसा बर्ताव न हो। राहुल ने यह भी कहा कि मैं यहां राजनीति करने नहीं आया। बल्कि पीड़ित परिवार से मिलने आया हूं। उन्होंने जो भी कहा है, उस पर एक्शन लूंगा।

ु

राहुल गांधी ने करीब 20 मिनट तक परिजनों से चर्चा की। गौरतलब है राहुल गांधी पहले बुधवार को यहां आने वाले थे लेकिन मौसम खराब होने की वजह से उनका दौरा स्थगित हो गया था। राहुल और गहलोत से मुलाकात के बाद पीड़ित परिवार संतुष्ट नजर आया। परिवार में इसी माह शादी है। परिजनों को केवल राहुल का इंतजार था। बताया जा रहा है अब परिजन किसी से नहीं मिलना चाहते हैं। पीड़ित परिवार लोगों की आवाजाही और इससे हुई बदनामी से परेशान है। 

पीड़ित के पिता ने कहा कि सात दिन में इतने नेता और लोग घर आए हैं कि पूरे इलाके और समाज में हमारी पहचान उजागर हो गई है। अब हर कोई यह जान गया हे कि वीडियो में दिखे पति-पत्नी का घर यही है। उन्होंने सरकार से मांग की है कि पीड़ित दंपती को सरकारी नौकरी देकर किसी ऐसे स्थान पर भेज दिया जाए, जहां उनकी पहचान उजागर न हो। इस दौरान मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने बताया कि अलवर जिले को अब दो एसपी मिलेंगे। इस मामले को लेकर जल्द ही अधिसूचना जारी करेंगे। जिले में दो पुलिस अधीक्षकों की नियुक्ति की जाएगी। अलवर जिले के विस्तार को देखते हुए अब अलवर में अलवर शहर और अलवर ग्रामीण एसपी नियुक्त होंगे। गौरतलब है कि थानागाजी का रहने वाले एक दंपति 26 अप्रैल को अपनी मोटर साइकिल से जा रहा था। 

प्लीज सब्सक्राइब यूट्यूब बटन

इसी दौरान सुनसान रास्त में पांच युवकों ने उनका पीछा कर उन्हें रोक लिया। इसके बाद दंपति को बंधक बनाकर मारपीट की। उन्हें जबरन जंगल में ले गए। वहां पति के सामने ही महिला से सामूहिक दुष्कर्म किया।  इतना ही नहीं, आरोपितों ने उनके 11 वीडियो बनाए और 50 फोटो खीचें। पीड़ित दंपति थाने गया और पुलिस से गुहार की लेकिन पुलिस ने चुनाव में व्यस्तता का हवाला देकर चुनाव के बाद कार्रवाई करने को कह दिया। इसके बाद आरोपितों ने सोशल मीडिया पर वीडियो वायरल कर दिए। इसके बाद राजनीतिक हलके में भूचाल आ गया।

मात्र 240000/- में टोंक रोड जयपुर में प्लॉट 9314166166

More From national

Trending Now
Recommended