संजीवनी टुडे

पुलवामा आतंकी हमला: अमेरिका, रूस और इजरायल खड़े हुए भारत के साथ, पाकिस्तान ने कहा...

संजीवनी टुडे 15-02-2019 11:29:56


नई दिल्ली। जम्मू-कश्मीर के पुलवामा में गुरुवार को जैश-ए-मोहम्मद के आतंकी हमले में 44  सीआरपीएफ जवानों की जान चली गई। आतंकी हमले में शहीद जवानों की वास्तविक सूची सीआरपीएफ थोड़ी देर बाद जारी करने की तैयारी में है। जवानों के नाम जारी किये जाने में देरी की वजह कई शवों का क्षत विक्षत होना है इस वजह से उनकी पहचान में देरी हुई।

 इस हमले की पूरी दुनिया में निंदा हो रही है। अमेरिका, रूस और इजरायल जैसे देशों ने कहा है कि वो इस मौके पर भारत के साथ हैं।  पुलवामा आतंकी हमले पर यूएन ने भी दुख जताया है।

जयपुर में प्लॉट मात्र 2.30 लाख में Call On: 09314188188

यूएन ने बयान दिया, 'हम जम्मू-कश्मीर के पुलवामा में हुए हमले की कड़ी निंदा करते हैं। जिन परिवारों ने अपनों को खोया है हमारी उनके प्रति गहरी संवेदना है। हम सभी घायलों के जल्द से जल्द स्वस्थ होने की कामना करते हैं और हमले के जिम्मेदार सभी लोगों को जल्द से जल्द कठघरे में लाया जाएगा.'

 रिपोर्ट के अनुसार उरी के बाद यह सबसे बड़ा आतंकी हमला है। घायलों का श्रीनगर स्थित सेना के अस्‍पताल में इलाज चल रहा है। सीआरपीएफ (CRPF) के जवानों को ले जा रही बस को मुख्‍य रूप से निशाना बनाया गया था। हमले में कई अन्‍य वाहन भी क्षतिग्रस्‍त हुए हैं। सेना के एक अधिकारी ने बताया कि सीआरपीएफ जवानों को निशाना बनाकर किए गए आईईडी विस्फोट की जिम्मेदारी आतंकी संगठन जैश-ए-मोहम्मद ने ली है। 

MUST WATCH & SUBSCRIBE​

वहीं पाकिस्तान ने भी इस हमले के बाद प्रेस रिलीज जारी कर प्रतिक्रिया दी है। पाकिस्तान ने इस हमले को लेकर सफाई देते हुए लिखा है, 'भारत अधिकृत कश्मीर के पुलवामा में हुआ हमला चिंता का विषय है।  विश्व में कहीं पर भी होने वाली हिंसा की गतिविधियों की हम कड़ी निंदा करते हैं। इसके साथ ही बिना जांच के भारतीय मीडिया और सरकार की ओर से हमले का लिंक पाकिस्तान से जोड़े के तमाम आरोपों को हम सिरे से खारिज करते हैं.'

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल पर जुड़ें

More From national

Trending Now
Recommended