संजीवनी टुडे

राष्ट्रपति और उपराष्ट्रपति ने की ईद-ए-मिलाद पर कोरोना के स्वच्छता प्रोटोकॉल का पालन करने की अपील

संजीवनी टुडे 29-10-2020 20:06:04

पैगम्बर मोहम्मद ने आपसी प्रेम और भाईचारे का संदेश देकर दुनिया को इंसानियत की राह दिखाई। वे बराबरी और मेल-जोल पर आधारित समाज का निर्माण करना चाहते थे।


नई दिल्ली। राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद और उपराष्ट्रपति एम. वेंकैया नायडू ने गुरुवार को पैगम्बर मोहम्मद के जन्मदिन के उपलक्ष्य में मनाए जाने वाले ईद-ए-मिलाद (मिलाद-उन-नबी) की पूर्व संध्या पर देशवासियों विशेषकर मुस्लिम समुदाय को शुभकामनाएं दीं। उन्होंने त्योहार मनाते समय कोविड-19 के स्वास्थ्य और स्वच्छता प्रोटोकॉल का पालन करने की भी अपील की।

राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने यहां जारी अपने शुभकामना संदेश में कहा, पैगम्बर मोहम्मद के जन्मदिवस के उपलक्ष्य पर मनाए जाने वाले ईद-ए-मिलाद या मिलाद-उन-नबी के पाक मौके पर मैं सभी देशवासियों, विशेष रूप से हमारे मुस्लिम भाइयों और बहनों को मुबारकबाद देता हूं। उन्होंने कहा कि पैगम्बर मोहम्मद ने आपसी प्रेम और भाईचारे का संदेश देकर दुनिया को इंसानियत की राह दिखाई। वे बराबरी और मेल-जोल पर आधारित समाज का निर्माण करना चाहते थे।

राष्ट्रपति ने कहा कि पवित्र कुरान में संकलित पैगम्बर मोहम्मद की शिक्षाओं के अनुसार, आइए, हम सब, समाज की खुशहाली और देश में अमन व सुकून के लिए कार्य करें।

वहीं उपराष्ट्रपति एम. वेंकैया नायडू ने कहा कि पैगम्बर मोहम्मद के जन्मदिन के रूप में मनाया जाने वाले मिलाद-उन-नबी के शुभ अवसर पर सभी देशवासियों को शुभकामनाएं। उन्होंने कहा, पवित्र पैगम्बर ने मानवता को दया और सार्वभौमिक भाईचारे का धार्मिक मार्ग दिखाया। मिलाद-उन-नबी परिवार और दोस्तों के साथ मिलकर प्रार्थना करने का एक अवसर होता है। लेकिन इस साल, कोविड-19 महामारी के कारण, मैं अपने साथी नागरिकों से विनती करता हूं कि कोविड-19 के स्वास्थ्य और स्वच्छता प्रोटोकॉल का सख्ती से पालन करते हुए, मिलाद-उन-नबी को एक विनम्र तरीके से मनाया जाए।

यह खबर भी पढ़े: गाजियाबाद: भाजपा विधायक नंदकिशोर गुर्जर ने आमिर खान पर दर्ज कराई FIR

यह खबर भी पढ़े: सुप्रीम कोर्ट ने स्वामी ओमजी को 8 हफ्ते में 5 लाख रुपये जमा करवाने के दिए आदेश

ऐसी ही ताजा खबरों व अपडेट के लिए डाउनलोड करे संजीवनी टुडे एप

More From national

Trending Now
Recommended