संजीवनी टुडे

डॉ. दिशा दुष्कर्म-हत्या मामले में पुलिस ने NHRC को सौंपी रिपोर्ट

इनपुट- यूनीवार्ता

संजीवनी टुडे 10-12-2019 17:40:41

साइबराबाद पुलिस ने डाॅ. दिशा दुष्कर्म एवं हत्याकांड में राष्ट्रीय मानवाधिकार आयोग (एनएचआरसी) को मंगलवार को अपनी रिपोर्ट सौंप दी।


हैदराबाद। तेलंगाना की साइबराबाद पुलिस ने डाॅ. दिशा दुष्कर्म एवं हत्याकांड में राष्ट्रीय मानवाधिकार आयोग (एनएचआरसी) को मंगलवार को अपनी रिपोर्ट सौंप दी।

एनएचआरसी को सौंपी गयी रिपोर्ट में डॉ. दिशा का अपहरण, उनके साथ सामूहिक दुष्कर्म और हत्या के बाद चार आरोपियों द्वारा शव जलाये जाने के घटना के बारे में विस्तारपूर्वक बताया गया है।

यह खबर भी पढ़ें:​ BJP नेता मांग रहा था रेपिस्ट्स के लिए मौत की सजा, तभी इस मॉडल ने लगा दिया यौन शोषण का आरोप

इस बीच, पुलिस मुठभेड़ मारे गये चारों आरोपियों के मामले की जांच के लिए राज्य सरकार की ओर से गठित विशेष जांच दल ने आज से अपना काम शुरू कर दिया। समिति के प्रमुख रचनकोंडा के पुलिस आयुक्त महेश भागवत के नेतृत्व में सदस्य उस स्थल का दौरा करेंगे जहां पुलिस मुठभेड़ में चारों आराेपी मारे गये थे।

तेलंगाना उच्च न्यायालय ने सोमवार को अधिकारियों को पुलिस के साथ कथित मुठभेड़ में मारे गए चारों आरोपियों के शवों को 13 दिसंबर तक संरक्षित रखने का निर्देश दिया। मुख्य न्यायाधीश आर एस चौहान की अध्यक्षता वाली एकल पीठ ने इस संबंध में निर्देश दिए। अदालत ने कहा कि अगर महबूबनगर के सरकारी अस्पताल में शवों को 13 दिसंबर तक सुरक्षित रखने की व्यवस्था न हो तो उन्हें हैदराबाद में सरकार द्वारा संचालित गांधी अस्पताल में स्थानांतरित किया जा सकता है।

यह खबर भी पढ़ें:​ छोटे उद्योगों के विस्तार के लिए अमेजन इंडिया और सीआईआई में गठबंधन

एनएचआरसी की टीम ने साइबराबाद पुलिस से कथित मुठभेड़ के संबंध में सोमवार को विस्तृत जानकारी हासिल की। उन्होंने राजस्व विभाग के अधिकारियों से भी पूछताछ की। इस विभाग ने मुठभेड़ की जांच पड़ताल की थी। टीम ने डाॅ़ दिशा की बहन और पिता के बयान भी रिकॉर्ड किये। उसने मुठभेड़ के मौके पर जाकर जांच की और दो घायल पुलिसकर्मियों से बातचीत भी की। पुलिसकर्मियों का अस्पताल में इलाज चल रहा है।

एनएचआरसी ने मुठभेड़ का स्वत: संज्ञान लेते हुए अपनी सात सदस्यीय टीम तेलंगाना रवाना की थी। इस बीच, उच्चतम न्यायालय ने भी सोमवार को उस याचिका को त्वरित सुनवाई के लिए स्वीकार कर ली जिसमें चारों आरोपियों को पुलिस मुठभेड़ में मारे जाने के मामले की स्वतंत्र जांच की मांग की गयी है। मामले की सुनवाई कल होगी।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल पर जुड़ें

More From national

Trending Now
Recommended