संजीवनी टुडे

पीएम मोदी के सम्बोधन ने जम्मू कश्मीर के लोगो की दी राहत, जानिए कश्मीरियों ने क्या कहा

संजीवनी टुडे 09-08-2019 12:18:50

राज्यसभा में गत सोमवार को जम्मू कश्मीर का विशेष दर्जा (धारा 370) समाप्त करने और दो केंद्र शासित राज्य बनाने के बाद से घाटी में लगातार असमंजस का माहौल बना हुआ है। लेकिन गुरुवार रात को इन लोगो ने चैन की सांस ली। दरहसल, प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने रात 8 बजे का राष्ट्र को संबोधित किया।


नई दिल्ली। राज्यसभा में गत सोमवार को जम्मू कश्मीर का विशेष दर्जा (धारा 370) समाप्त करने और दो केंद्र शासित राज्य बनाने के बाद से घाटी में लगातार असमंजस का माहौल बना हुआ है। लेकिन गुरुवार रात को इन लोगो ने चैन की सांस ली। दरहसल,  प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने रात 8 बजे का राष्ट्र को संबोधित किया।  

पाक पीएम इमरान खान को अब भारत से युध्द का डर, कहीं ये बड़ी बात...

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा कि जम्मू-कश्मीर और लद्दाख में एक नए युग की शुरुआत हुई है। अनुच्छेद 370 हटने  के बाद जम्मू कश्मीर के नौजवानों को पर्याप्त रोजगार के साधन उपलब्ध होंगे। खाली पड़े सरकारी पदों की भर्ती शुरू की जाएगी।

-प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा कि जो सपना सरदार पटेल का था, बाबा साहेब अंबेडकर का था, डॉक्टर श्यामा प्रसाद मुखर्जी का था, अटल जी और करोड़ों देशभक्तों का था, वो अब पूरा हुआ है। अब देश के सभी नागरिकों के हक़ और दायित्व समान हैं। 

अनुच्छेद 370: बौखलाए पाकिस्तान ने अब भारतीय फिल्मों पर लगाई रोक

-प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा कि एक राष्ट्र के तौर पर, एक परिवार के तौर पर, आपने, हमने, पूरे देश ने एक ऐतिहासिक फैसला लिया है। एक ऐसी व्यवस्था, जिसकी वजह से जम्मू-कश्मीर और लद्दाख के हमारे भाई-बहन अनेक अधिकारों से वंचित थे, जो उनके विकास में बड़ी बाधा थी, वो हम सबके प्रयासों से अब दूर हो गई है। 

-देश की भलाई के लिए जो काम सरकार करती थी, उससे कश्मीर के डेढ़ करोड़ लोग दशकों तक वंचित रहे। संसद इतने कानून बनाए और देश के एक हिस्से में वह लागू ही ना हों। 

-देश के अन्य हिस्सों में बच्चों के लिए शिक्षा का अधिकार, बेटियों के हक का अधिकार, माइनॉरिटी एक्ट, कर्मचारियों के लिए कानून, मजदूरों के लिए मिनिमम वेजेज एक्ट, चुनाव में एससी-एससी आरक्षण जैसी सुविधाएं थीं। लेकिन, यहां ये लाभ नहीं मिल पाते थे। यहां के बच्चों, बेटियों और भाइयों-बहनों का क्या गुनाह है। 

-लद्दाख में स्पिरिचुअल, एडवेंचर और इको टूरिज्म का सबसे बड़ा केंद्र बनने की क्षमता है। सोलर पावर में भी लद्दाख सबसे बड़ा केंद्र बन सकता है। वहां के सामर्थ्य का उचित इस्तेमाल होगा। बिना भेदभाव विकास के नए अवसर बनेंगे। लद्दाख को इनोवेशन, शिक्षा, अस्पताल, इन्फ्रास्ट्रक्चर मिलेगा। 

-संसद में किसने मतदान किया, किसने नहीं किया... इससे आगे बढ़कर अब हमें जम्मू-कश्मीर और लद्दाख के हित में मिलकर और एकजुट होकर काम करना है- पीएम मोदी

-सरकार ने जो फैसला लिया है, वो उन नौजवानों को भी मदद करेगा। यहां जब स्पोर्ट्स स्टेडियम, खेल सुविधाओं का विकास होगा, तो कश्मीर का बच्चा दुनिया के अंदर हिंदुस्तान का नाम रोशन करेगा। यहां के बच्चों में यह ताकत भरी है- पीएम मोदी 

-जम्मू-कश्मीर और लद्दाख में दुनिया का सबसे बड़ा टूरिस्ट डेस्टिनेशन बनने की क्षमता है। इसके लिए वातावरण और शासन-प्रशासन में बदलाव किए जा रहे हैं। लेकिन, इसमें मुझे हर हिंदुस्तानी का साथ चाहिए-पीएम मोदी

-एक समय था कि जब फिल्मों की शूटिंग के लिए कश्मीर पसंदीदा जगह थी। उस दौरान शायद ही कोई फिल्म बनती हो, जिसकी कश्मीर में शूटिंग ना हो। अब स्थितयां सामान्य होंगी तो दुनियाभर के लोग फिल्मों की शूटिंग करने आएंगे- पीएम मोदी 

-हर फिल्म रोजगार के लिए अवसर लेकर आएगी। मैं हिंदी, तमिल, तेलुगु और इससे जुड़े हर आदमी से कहूंगा कि जम्मू-कश्मीर को प्राथमिकता दे- पीएम मोदी 

-जम्मू-कश्मीर की जनता गुड गवर्नेंस के वातावरण में नए मुकाम हासिल करेगी। दशकों के अलगाववाद ने जम्मू-कश्मीर के युवाओं को नेतृत्व का अवसर ही नहीं दिया। अब युवा विकास का नेतृत्व करेंगे और उसे नई ऊंचाइयों पर ले जाएंगे। 

-बहन-बेटियों से आग्रह करूंगा कि अपने क्षेत्र के विकास की कमान संभालने के लिए आगे आइए। 

-भारत का लोकतंत्र इतना मजबूत होने के बावजूद बंटवारे के समय पाकिस्तान से जम्मू-कश्मीर आए हजारों-लाखों लोगों को विधानसभा, पंचायत, नगर पालिका, महा-नगरपालिका चुनाव में मतदान का अधिकार नहीं था। अन्य राज्यों में उन्हें सारे अधिकार हैं, केवल जम्मू-कश्मीर में नहीं है। क्या ये ऐसा ही चलता रहता। अब आपका जनप्रतिनिधि आपके द्वारा चुना जाएगा, आपके बीच से ही आएगा। 

जैसे पहले एमएलए होते थे, वैसे भी आएगे ही होंगे। जैसी मंत्रिपरिषद और सीएम होते थे, वैसे ही आगे भी होंगे। पूरा विश्वास है कि इस नई व्यवस्था के तहत हम सब मिलकर आतंकवाद, अलगाववाद से जम्मू-कश्मीर को मुक्त कराएंगे। 

खैर, सभी ने भाषण सुना। किसी ने घर के बाहर खड़े होकर पड़ोसी के रेडियो सेट पर तो कइयों ने अपने परिजनों के साथ दूरदर्शन पर और डिश टीवी के जरिए। अधिकतर लोगों ने कहा कि पीएम का संदेश सुनकर विश्वास हुआ कि जो हो रहा है उसी में हमारी भलाई है।

श्रीनगर में राजबाग पुलिस स्टेशन से कुछ ही दूरी पर इखराजपोरा मस्जिद में इशा की नमाज अदा करने आए नासिर खान ने कहा कि हमने रेडिया पर पूरा भाषण सुना। अब जाकर बड़ी राहत मिली है। पीएम ने ऐसी कोई बात नहीं की जिससे हमारा अहित हो। हम तो हिंदोस्तानी हैं, इसमें न हमें संदेह है और न किसी दूसरे को होना चाहिए। यहां हम सभी इस बात को लेकर चिंतित हैं कि हमारी सभ्यता और संस्कृति को बचाए रखने के लिए सरकार क्या कर रही है, यह उन्होंने नहीं बताया। आम कश्मीरी तो पहले भी कोई विशेषाधिकार नहीं चाहता था और न अब। अगर वह इसका भी उल्लेख करते तो बेहतर होता।


सेवानिवृत इंजीनियर एजाज हुसैन ने कहा कि पीएम मोदी ने हमें लोकतंत्र की आड़ में पल रहे खानदानी राज से मुक्ति का यकीन दिलाते हुए कहा कि अब हम लोगों में से ही यहां विधायक बनेंगे, सांसद बनेंगे। पहले भी बनते थे, लेकिन वह दूसरों को आगे नहीं आने देते थे। उनकी बात से साफ हो गया है कि कोई बाहर से यहां आकर चुनाव नहीं लड़ने वाला, चुनाव हम कश्मीरी ही लड़ेंगे और हम ही अपनी मर्जी से अपना नेता चुनेंगे। वैसे भी अगर देखा जाए तो यहां कौन सा केंद्रीय कानून नहीं था। उन्होंने जल्द ही राज्य व केंद्र के अधीनस्थ विभागों में यहां भर्ती प्रक्रिया शुरू करने का एलान किया है।

आबीगुजर में स्थित JKLF  मुख्यालय के साथ सटे मकान में रहने वाले राशिद और उनकी पत्नी ने कहा कि यहां कह रहे थे कि अब कश्मीर में बाहर के लोग आकर बस जाएंगे, लेकिन प्रधानमंत्री ने ऐसा तो कुछ नहीं कहा। यहां तो ऐसे ही डराया जा रहा है।

प्लीज सब्सक्राइब यूट्यूब बटन

 

करगिल में अध्यापक शब्बीर काचो ने जागरण को टेलीफोन पर बताया कि कस्बे में शाम को लोग टीवी के सामने खड़े थे। प्रधानमंत्री ने तो कोई ऐसी बात का जिक्र नहीं किया है, जिससे हमारी पहचान, हमारी संस्कृति किसी तरह से भंग होती हो। हमारे खेत खलिहानों पर कोई कब्जा करने नहीं आ रहा है। उन्होंने तो हमें 72 साल से जारी शोषण की राजनीति से आजादी का संदेश दिया है।

गोवर्मेन्ट एप्रूव्ड प्लाट व फार्महाउस मात्र रु. 2600/- वर्गगज, टोंक रोड (NH-12) जयपुर में 9314166166

More From national

Trending Now
Recommended