संजीवनी टुडे

PM Modi Virtual Rally/ प्रधानमंत्री मोदी ने बिहार में दी सड़कों व पुलों की सौगात, बहुप्रतीक्षित नौ परियोजनाओं का किया शिलान्यास

संजीवनी टुडे 21-09-2020 13:49:21

साथ ही प्रधानमंत्री के कहा कि कानून की आड़ में कुछ गिरोह किसानों की मजबूरी का फायदा उठा रहे थे।


पटना। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने आज बिहार के सभी 45,945 गांवों को ऑप्टिकल फाइबर इंटरनेट सेवाओं से जोड़ने के प्रोजेक्ट और राजमार्गों से जुड़ी 9 परियोजनाओं का उद्घाटन किया है। इसके साथ ही प्रधानमंत्री ने कहा, 'देश के गांवों में इंटरनेट उपयोग करने वालों की संख्या शहरों से ज्यादा हो जाएगी, ये कुछ सालों तक सोचना मुश्किल था।किसान, गांव के युवा, महिलाएं आसानी से इंटरनेट का इस्तेमाल करेंगे इस पर भी लोग सवाल उठाते थे, लेकिन अब सारी स्थितियां बदल गई है।'

pmmodi

इसके अलावा सड़कों और पुलों से जुड़ी बहुप्रतीक्षित नौ परियोजनाओं का शिलान्यास भी किया। पीएम मोदी ने हाल के दिनों में बिहार में रेल, इंफ्रास्ट्रक्चर, सेतु, पीने का पानी और सिंचाई से संबंधित कई परियोजनाओं का शिलान्‍यास व उद्घाटन किया है। प्रधानमंत्री के ये कार्यक्रम सरकारी हैं, लेकिन इन्‍हें आगामी विधानसभा चुनाव से जोड़ कर देखा जा रहा है।

pmmodi

पीएम मोदी के भाषण की बड़ी बातें-

  • आज का दिन बिहार के लिए अहम है। यह देश के लिए भी बड़ा दिन है। युवा भारत के लिए बड़ा दिन है। आज भारत अपने गांवों को आत्‍मनिर्भर बनाने के लिए बड़ा कदम उठा रहे है। इसकी शुरूआत बिहार से हो रही है।
  • आज ट्रांजेक्‍शन करने में भारत अग्रणी देशों में शामिल है। इंटरनेट के इसतेमाल के साथ गांबों में तेज रफ्तार इंटरनेट कनेक्टिविटी भी जरूरी है।
  • अब गांव-गांव तक तेज इंटरनेट पहुंचेगा। ग्रामीण एक क्लिक पर दुनिया देखेंगे। किसानों को भी इसका लाभ मिलेगा।
  • इंटरनेट का इस्तेमाल बढ़ने के साथ-साथ अब ये भी जरूरी है कि देश के गांवों में अच्छी क्वालिटी, तेज रफ्तार वाला इंटरनेट भी हो। सरकार के प्रयासों की वजह से देश की करीब डेढ़ लाख पंचायतों तक ऑप्टिकल फाइबर पहले ही पहुंच चुका है। 
  • Telemedicine के माध्यम से अब दूर-सुदूर के गांवों में भी सस्ता और प्रभावी इलाज गरीब को घर बैठे ही दिलाना संभव हो पाएगा। हमारे किसानों को तो इससे बहुत अधिक लाभ होगा। अच्छी फसल, मौसम का हाल जैसी कई जानकारियां उन्हें आसानी से मिलेंगी। 
  • दुनिया में उसी देश ने सबसे तेज़ तरक्की की है, जिसने अपने इंफ्रास्ट्रक्चर पर गंभीरता से निवेश किया है। लेकिन भारत में दशकों तक ऐसा रहा कि इंफ्रास्ट्रक्चर के बड़े और व्यापक बदलाव लाने वाले प्रोजेक्ट्स पर उतना ध्यान नहीं दिया गया। 
  • बिहार की कनेक्टिविटी में सबसे बड़ी बाधा बड़ी नदियों के चलते रही है। यही कारण है कि जब पीएम पैकेज की घोषणा हो रही थी तो पुलों के निर्माण पर विशेष ध्यान दिया गया था। इस पैकेज के तहत गंगा जी के ऊपर कुल 17 पुल बनाए जा रहे हैं, जिसमें से अधिकतर पूरे हो चुके हैं।
  • आने वाले 4 -5 सालों में इंफ्रास्ट्रक्चर पर 110 लाख करोड़ रुपये खर्च करने का लक्ष्य रखा गया है। इसमें से भी 19 लाख करोड़ रुपये से अधिक के प्रोजेक्ट केवल हाईवे से जुड़े हैं। 

pmmodi

साथ ही प्रधानमंत्री के कहा कि कानून की आड़ में कुछ गिरोह किसानों की मजबूरी का फायदा उठा रहे थे। इसमें बदलाव जरूरी था। हमारी सरकार ने यह कर दिखाया है। अब किसान अपवनी शर्तों पर अपनी फसल कहीं भी बेच सकता है। हमारी सरकार ने कृषि मंडियों के विकास के लिए भी काम किया है।

यह खबर भी पढ़े: भारत के कब्जे से अब सिर्फ एक कदम दूर है ब्लैक टॉप और हेलमेट टॉप, अब तक 6 चोटियों पर किया कब्जा

यह खबर भी पढ़े: IPL 2020/ आज आमने सामने होगी विराट और वार्नर की सेना, जानिए कैसी होगी टीमों की संभावित प्लेइंग XI

 

ऐसी ही ताजा खबरों व अपडेट के लिए डाउनलोड करे संजीवनी टुडे एप

More From national

Trending Now
Recommended