संजीवनी टुडे

पीएम किसान योजना/ एक स्पेलिंग ने डुबोए किसानों के 4200 करोड़ रुपये! जानिए पूरा मामला

संजीवनी टुडे 25-05-2020 14:47:02

पीएम किसान स्कीम के आवेदनकर्ताओं के नाम और बैंक अकाउंट नंबर में गड़बड़ी है।


नई दिल्ली। प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि स्कीम में कागजात की गड़बड़ी की वजह से ज्यादातर किसानों को अभी तक इसका लाभ नहीं मिल पाया है। एक टीवी रिपोर्ट के अनुसार पीएम किसान स्कीम में आवेदन करने वाले करीब 70 लाख किसानों के नाम और बैंक अकाउंट नंबर में गड़बड़ी पाई गई है। 

PM Kisan Yojana

ऐसे में, किसानों तक 4200 करोड़ रुपए की राशि नहीं पहुंच सकी है। जब तक इस गलती में सुधार नहीं होता है, किसानों को इस योजना का लाभ नहीं मिल सकता।  जब तक यह गलती ठीक नहीं होगी तब तक अब इतनी बड़ी संख्या में किसानों को प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि स्कीम (Pradhan Mantri Kisan Samman Nidhi Scheme) का पैसा नहीं मिल पाएगा। 

कहां हुई गलती?
पीएम किसान स्कीम के आवेदनकर्ताओं के नाम और बैंक अकाउंट नंबर में गड़बड़ी है। बैंक अकाउंट और अन्य कागजातों में नाम की स्पेलिंग भिन्न है। जिसकी वजह से स्कीम का ऑटोमेटिक सिस्टम उसे पास नहीं करता। 

PM Kisan Yojana

पीएम किसान स्कीम के सीईओ विवेक अग्रवाल ने न्यूज18 से बातचीत में बताया कि ‘ऐसी गड़बड़ी करने वाले आवेदक किसानों की संख्या करीब 70 लाख है। जबकि करीब 60 लाख लोगों के आधार (Aadhaar card) में गड़बड़ी है।’

ऑटोमैटिक सिस्टम में नहीं होता क्लियर-
बैंक अकाउंट और कागजात में स्पेलिंग की गड़बड़ी होने से स्कीम का ऑटोमैटिक सिस्टम एप्लिकेशन को पास नही करता। पीएम किसान योजना के सीईओ के मुताबिक, इस तरह की गड़बड़ी करने वाले किसानों की संख्या 70 लाख है। 

PM Kisan Yojana

वेरीफिकशन के लिए पेंडिंग हैं सवा करोड़ केस-
मतलब स्कीम के पैसे के लिए अप्लाई करने के बावजूद देश भर के करीब 1.3 करोड़ किसान सालाना 6000 रुपये के लाभ से वंचित हैं. कई जिले ऐसे हैं जहां पर सवा-सवा लाख किसानों का डेटा वेरीफिकेशन के लिए पेंडिंग है।जब राज्य सरकार किसान के डाटा को वेरीफाई करके केंद्र को भेजती है तब जाकर किसान को पैसा मिलता है। 

आधार कार्ड में भी गड़बड़ी-
सिर्फ बैंक अकाउंट ही नहीं, आवेदन देने वाले किसानों के आधार कार्ड में भी गड़बड़ी पाई गई है। ऐसे करीब 60 लाख किसान हैं, जिनके आधार कार्ड में गड़बड़ी है। जब तक ये गड़बड़ी दूर नहीं कर ली जाती, उन्हें इस स्कीम का फायदा नहीं मिल सकता।

PM Kisan Yojana

कैसे ठीक होगी गलती?
-सबसे पहले PM-Kisan Scheme की ऑफिशियल वेबसाइट पर जाएं। इसके फार्मर कॉर्नर के अंदर जाकर Edit Aadhaar Details ऑप्शन पर क्लिक करें।
-आपको यहां पर अपना आधार नंबर दर्ज करना होगा। इसके बाद एक कैप्चा कोड डालकर सबमिट करें। जैसा कि नीचे दिखाया गया है।
-अगर आपका केवल नाम गलत होता है यानी कि अप्लीकेशन और आधार में जो आपका नाम है दोनों अलग-अलग है तो आप इसे ऑनलाइन ठीक कर सकते हैं। अगर कोई और गलती है तो इसे आप अपने लेखपाल और कृषि विभाग कार्यालय में संपर्क करें।

PM Kisan Yojana

9.68 करोड़ किसानों को लाभ मिला-
पीएम किसान स्कीम के का बजट 75 हजार करोड़ रुपये का है। मोदी सरकार सालाना 14.5 करोड़ लोगों को पैसा देना चाहती है। लेकिन लाभ अभी 9.68 करोड़ किसानों को ही मिल सका है। इसके कुल जबकि स्कीम शुरू हुए 17 माह बीत चुके हैं। ज्यादा से ज्यादा किसान रजिस्ट्रेशन करवाएं इसके लिए पीएम किसान स्कीम में खुद रजिस्ट्रेशन करने की सुविधा दे दी गई है।

प्लीज सब्सक्राइब यूट्यूब बटन

 

यह खबर भी पढ़े: राजस्थान /Lockdown 4.0:गहलोत सरकार का बड़ा फैसला, आज से शुरू होगी स्पेशल बस सेवा, सफर भी मुफ्त

यह खबर भी पढ़े: Lockdown 4.0/ भारत के इस राज्य में अनिश्चितकाल के लिए बंद हुई शराब की दुकानें

 

ऐसी ही ताजा खबरों व अपडेट के लिए डाउनलोड करे संजीवनी टुडे एप

More From national

Trending Now
Recommended