संजीवनी टुडे

कृषि कानूनों का विरोध/ किसानों ने पत्थर पलटे, बैरिकेड्स नदी में फेंके, बैकफुट पर आई हरियाणा पुलिस

संजीवनी टुडे 27-11-2020 10:23:22

उग्राहां ग्रुप के किसान खनौरी में जुटे हुए हैं, वे आज सुबह 11:30 बजे दिल्ली के लिए रवाना होंगे।


नई दिल्ली। केंद्र सरकार के कृषि कानूनों के विरुद्ध खिलाफ पंजाब-हरियाणा के किसानों के प्रदर्शन का आज दूसरा दिन है। पंजाब से दिल्ली कूच पर अड़े किसानों को पुलिस के वाटर कैनन की बौछारें, रास्ते जाम करने हेतु लगाए गए बैरिकेड्स एवं आंसू गैस के गोले भी नहीं रोक सके। किसान लगातार आगे बढ़ रहे हैं। 

Delhi Chalo March

वहीं, दिल्ली जाने की राह में खनौरी बॉर्डर पर किसानों ने हरियाणा पुलिस की ओर से रखे टनों वजनी पत्थरों को पलट दिया। वहीं, शंभू बैरियर पर किसानों ने बैरिकेड्स घग्गर नदी में फेंक दिए। ऐसे में हरियाणा पुलिस बैकफुट पर आ गई और ज्यादा विरोध नहीं किया। शंभू बैरियर, मूनक-टोहाना बॉर्डर, बाहमणवाला बाॅर्डर से किसान दिल्ली की ओर कूच कर गए।

उग्राहां ग्रुप के किसान खनौरी में जुटे हुए हैं, वे आज सुबह 11:30 बजे दिल्ली के लिए रवाना होंगे। जबकि दूसरे ग्रुप के हजारों किसान हरियाणा में प्रवेश कर गए। यहां हजारों की संख्या में किसानों पहुंचने से 4 किलोमीटर लंबा काफिला बन गया। यहां पहुंचे हर किसान और नौजवान की जुबान पर एक ही नारा था- बच्चा-बच्चा झोक दियांगे, जमीनां ते कब्जा रोक दियांगे।

बता दें कि किसानों के प्रदर्शन को देखते हुए पंजाब-हरियाणा बॉर्डर पर पुलिस ने कड़ी सुरक्षा कर रखी है। यहां किसानों ने सारी रात अपना डेरा जमाए रखा एवं सवेरे से ही नारेबाजी शुरू कर दी। भारतीय किसान यूनियन के प्रवक्ता राकेश टिकैत ने कृषि कानूनों के विरोध में यूपी नेशनल हाइवे अनिश्चितकाल हेतु जाम करने का ऐलान किया है।

यह खबर भी पढ़े: अरब सागर पर उड़ान भरने के दौरान MiG-29K विमान क्रैश, एक पायलट को किया गया रेस्क्यू

 

ऐसी ही ताजा खबरों व अपडेट के लिए डाउनलोड करे संजीवनी टुडे एप

More From national

Trending Now
Recommended